देश

चिराग पासवान ने "पिता की कर्मभूमि" हाजीपुर में चाचा पशुपति पारस को दी चुनौती

चिराग पासवान ने कहा, “यह निश्चित है कि मैं हाजीपुर से लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) का उम्मीदवार बनूंगा, जो मेरे पिता की कर्मभूमि है. उनका (पशुपति कुमार पारस) वहां से चुनाव लड़ने के लिए स्वागत है.” चिराग पासवान ने बुधवार को मीडिया से बात करते हुए कहा, “मैंने सभी चुनौतियों का बहादुरी से सामना किया है. मैं कभी भी किसी चुनौती से नहीं डरा. मैं इस चुनौती को भी स्वीकार करता हूं.”

हाजीपुर निर्वाचन क्षेत्र से अपने ही चाचा के खिलाफ चुनाव लड़ने पर चिराग पासवान ने कहा, “यह केवल मेरे लिए एक राजनीतिक विकल्प नहीं है. इसका मेरे परिवार पर भी प्रभाव पड़ता है. ऐसे निर्णय न केवल राजनीतिक दलों द्वारा लिए जाने चाहिए, बल्कि इस पर भी विचार करना चाहिए परिवार के सभी सदस्यों की भावनाएं क्‍या हैं. पहले, परिवार से अलग होने का निर्णय अकेले उनका (पशुपति पारस का) था, और अब यह भी उनका ही निर्णय है.”

लोकसभा चुनाव से पहले की तैयारियों में लोक जनशक्ति पार्टी ने एलजेपी प्रमुख चिराग पासवान के नेतृत्व में संसदीय बैठक की. इसके बाद चिराग पासवान ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “केंद्रीय संसदीय बोर्ड (पार्टी की) की बैठक के बाद, हम बिहार के लिए रवाना होंगे. कई प्रस्तावों को अनिवार्य रूप से पारित करने की आवश्यकता है, और कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए जाने हैं.”

लोकसभा चुनाव के लिए अपनी पार्टी के उम्मीदवारों की सूची के बारे में पूछे जाने पर चिराग पासवान ने कहा कि इसे जल्द ही जारी किया जाएगा. उन्होंने कहा, “पहले चरण के चुनाव के लिए नामांकन दाखिल किए जा रहे हैं, एलजेपी उम्मीदवारों की सूची बहुत जल्द जारी की जाएगी.”

यह भी पढ़ें :-  Video: जब पिता ओपी राजभर की गलती के लिए बेटे ने BJP कार्यकर्ताओं से मांगी माफी

बिहार में आगामी लोकसभा चुनाव में उनकी पार्टी को कोई भी सीट नहीं मिलने के एक दिन बाद मंगलवार को राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी (आरएलजेपी) के अध्यक्ष पशुपति कुमार पारस ने केंद्रीय मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया. एएनआई से बात करते हुए आरएलजेपी अध्यक्ष ने कहा, “कल, एनडीए गठबंधन ने बिहार लोकसभा के लिए 40 उम्मीदवारों की सूची की घोषणा की… हमारी पार्टी के पांच सांसद थे और मैंने पूरी ईमानदारी से काम किया… हमारे साथ अन्याय हुआ है. इसलिए, मैं केंद्रीय मंत्री पद से इस्तीफा देता हूं.” इसके साथ ही उन्‍होंने कहा, “मैं हाजीपुर से (लोकसभा चुनाव) लड़ूंगा. हमारे सभी मौजूदा सांसद अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्रों से चुनाव लड़ेंगे. यह हमारी पार्टी का निर्णय है.”

सोमवार को सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) ने लोकसभा चुनाव के लिए बिहार में सीटों के बंटवारे की घोषणा की, जिसमें भाजपा 17 सीटों पर और जेडीयू 16 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. जीतन राम मांझी के नेतृत्व वाली हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (एचएएम) और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (RLSP) एक-एक सीट पर चुनाव लड़ेगी. लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) पांच सीटों पर चुनाव लड़ेगी.

ये भी पढ़ें:- 

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button