देश

EXCLUSIVE: "मेरे बच्‍चों को छत पर ले गया था, फिर…", मां ने The Hindkeshariको बताया – साजिद ने क्‍या-क्‍या किया

बदायूं:

उत्तर प्रदेश के बदायूं जिला मुख्यालय के थाना सिविल लाइंस क्षेत्र के बाबा कॉलोनी में मंगलवार देर शाम दो सगे भाइयों की चाकू से काटकर निर्मम हत्या कर दी गई, जबकि हमले में तीसरा भाई गंभीर रूप से घायल हो गया. इस बीच पुलिस ने घटना के आरोपी को एक मुठभेड़ में मार गिराया है. The Hindkeshariने मृतक बच्‍चों की मां संगीता से जानना चाहा कि आखिर, साजिद ने क्‍यों यह खौफनाक कदम उठाया…? साजिद से परिवार की कोई निजी दुश्‍मनी तो नहीं थी?

यह भी पढ़ें

मृतक बच्‍चों की मां संगीता ने The Hindkeshariको बताया, “कल शाम को साजिद दुकान बंद करके आया था. वैसे साजिद दुकान रात 8 बजे बंद हैं, लेकिन कल 6 बजे उन्‍होंने दुकान बंद कर दी थी. उसके बाद वह यहां आए… मेरे बेटे आयुष ने बताया कि भइया क्‍लाचर लेने आए हैं. हमने उनको क्‍लाचर दिये, इसके बाद उनसे बच्‍चे के बाल कटवाए. बच्‍चे के बाल काटने के बाद वह बोला भाभी हम जा रहे हैं… हमने कहा जाओ. इसके बाद साजिद बोला- भाभी मुझे एक चीज की जरूरत है. मैंने पूछा क्‍या… तो उसने कहा कि भाभी मुझे पांच हजार रुपये की जरूरत है. मैंने बच्‍चों के पापा से पूछा, तो उन्‍होंने कहा कि दे दो. इसके बाद मेरे पास जो दुकान के पांच हजार रुपये रखे हुए थे, वो साजिद को दे दिये. पांच हजार लेते समय साजिद ने बताया कि उनकी बीवी अस्‍पताल में भर्ती है, लगभग 11 बजे उसकी डिलीवरी होगी. इसीलिए उसे पैसे की जरूरत है.” 

यह भी पढ़ें :-  "किस्मत से मेरे बेटे सुरक्षित": पाकिस्तानी गोलाबारी में घायल जम्मू-कश्मीर की महिला ने सुनाई दर्दनाक दास्तान

संगीता ने बताया, “साजिद ने बताया कि वह बहुत मुश्किल दौर से गुजर रहा है. टाइम काटना बेहद मुश्किल हो रहा है. तब मैंने कहा कि भाई टाइम कट जाएगा. फिर मैं चाय बनाने चली गई, मैंने उसे चाय भी पिलाई. वो चाय लेकर ऊपर चला गया, पहले पार्लर देखा फिर बच्‍चों को लेकर छत पर चला गया. इसके बाद उसने मेरे बच्‍चों पर धारदार हथियार से हमले करने शुरू कर दिये. छत पर बड़ी बेरहमी से साजिद ने मेरे बच्‍चों को काटा. मेरा बीच वाला बेटे किसी तरह से उसकी पकड़ से छूट कर भाग आया. बीच वाले बेटे का अंगूठा भी कटा है. साजिद इसे भी मारने वाला था.” 

आखिर, साजिद ने बच्‍चों कोक्‍यों मारा…? संगती कहती हैं, “हमारी, उससे कोई दुश्‍मनी नहीं थी. अगर किसी ने साजिद से यह काम करवाया हो, तो कह नहीं सकते हैं. हमारा उससे कोई झगड़ा नहीं था.” 

अभी तक इस दोहरे हत्‍याकांड की गुत्‍थी सुलझ नहीं पाई है. पुलिस सूत्रों के अनुसार सिविल लाइंस थाना क्षेत्र की बाबा कॉलोनी में आज देर शाम नाई की दुकान चलाने वाले एक व्यक्ति ने घर में घुसकर तीन सगे भाइयों आयुष, युवराज और आहान उर्फ हनी पर कुल्हाड़ी से हमला किया जिसमें आयुष (12) और आहान उर्फ हनी (आठ) की मौत हो गयी, जबकि गंभीर रूप से घायल अवस्था में युवराज को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

ये भी पढ़ें:- “बीवी प्रेग्नेंट है, 5 हजार दे दो…”: मदद करने वाली महिला के 2 बच्चों को शख्स ने कैसे मारा? बदायूं पुलिस की जुबानी

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button