दुनिया

Israel-Hamas War LIVE Updates: इज़रायली सेना जमीनी हमले के लिए तैयार, राष्‍ट्रपति बाइडेन कल जाएंगे इज़रायल

PM नेतन्‍याहू ने उत्‍तरी गाज़ा बॉर्डर पर अपनी आर्मी और टैंक तैनात कर दिये हैं

इज़रायल और हमास के बीच जारी संघर्ष (Israel-Hamas War) का आज 11वां दिन है. गाज़ा पट्टी के उत्‍तरी क्षेत्र से लगभग 10 लाख लोग दक्षिण की और चले गए हैं. इज़रायली सेना जमीनी हमले के लिए पूरी तरह से तैयार है. उधर, हमास का कहना है कि वह इज़रायल के संभावित जमीनी हमले से ख़ौफज़दा नहीं है. अमेरिका के राष्‍ट्रपति जो बाइडेन कल इज़रायल पहुंच रहे हैं. गाजा अधिकारियों ने कहा कि कम से कम 2,750 लोग, ज्यादातर नागरिक और उनमें से 700 से अधिक बच्चे मारे गए हैं और करीब 10,000 घायल हो गए. वहीं 1,000 से अधिक लोग लापता हैं, जिनके बारे में माना जा रहा है कि वे मलबे में दबे हुए हैं. 

LIVE Updates…

अमेरिका के रक्षा मंत्री ने की इजराइली समकक्ष से बातचीत
अमेरिका के रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन ने भी हमास के हमले के बाद सुरक्षा बहाल करने संबंधी इजराइल के अभियानों पर चर्चा जारी रखने के लिए इजराइली रक्षा मंत्री योव गैलेंट से बातचीत की.

गाजा का हाल बेहाल
हमास के हमले के बाद से ही इजरायल लगातार गाजा पर बमबारी कर रहा है. इजरायल के जमीनी हमले से पहले ही गाजा के स्‍थानीय लोग बेहद निराश हैं. गाजा में पीने का पानी खत्म हो गया है और चारों ओर कूड़े के ढेर लग गए हैं. साथ ही विस्फोटों के कारण घर ढह गए हैं और अस्पतालों को इन हालातों से निपटने के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है. 

यह भी पढ़ें :-  गाजा में युद्ध के लिए अमेरिका जिम्मेदार, इजरायल को बनाया औजार : हिजबुल्ला चीफ

बाइडेन कल जाएंगे इज़रायल
अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन बुधवार को इजरायल का दौरा करेंगे. इजरायल के पीएम नेतन्याहू से वह उनके लोगों की रक्षा के लिए जरूरी चीजों को लेकर बातचीत करेंगे. वह पीएम नेतन्याहू से इस मुद्दे पर भी चर्चा करेंगे कि इजरायल के लोगों की रक्षा के लिए उनको अमेरिका से क्या मदद चाहिए. 

हमास इज़रायल के जमीनी हमलों के लिए तैयार
हमास की मिलिट्री विंग के प्रवक्ता अबू ओबेदेह का कहना है कि गाज़ा पट्टी पर इज़रायल के जमीनी हमले की धमकी से हम “ख़ौफज़दा” नहीं हैं. हम इसके लिए पूरी तरह से तैयार हैं. टेलीविज़न पर प्रसारित एक बयान में उन्होंने कहा कि एज़ेदीन अल-क़सम ब्रिगेड ने 7 अक्टूबर को इज़रायल के दक्षिण में बड़े पैमाने पर हमले के बाद से 200 लोगों को बंदी बना रखा था, जबकि लगभग 50 को अन्य गुटों ने अलग-अलग स्थानों पर पकड़ रखा था.

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button