देश

लोकसभा चुनावों का आगाज कल से, 21 राज्यों की 102 सीटों पर होगी वोटिंग, 8 केंद्रीय मंत्रियों की किस्मत का होगा फैसला

पहले फेज में तमिलनाडु की सभी 39 सीटों, राजस्थान की 25 में से 12 सीटों पर, यूपी की 80 में से 8 सीटों पर, मध्य प्रदेश की 6 सीटों पर वोटिंग होगी. महाराष्ट्र की 5, असम की 5, उत्तराखंड की 5, बिहार की 4, पश्चिम बंगाल की 3, मेघालय की 2, अरुणाचल प्रदेश की 2 और मणिपुर की 2 सीटों पर वोट डाले जाएंगे. इसके अलावा पुडुचेरी, मिजोरम, छत्तीसगढ़, जम्मू-कश्मीर, लक्षद्वीप, सिक्किम, त्रिपुरा, नगालैंड और अंडमान-निकोबार की 1-1 सीट पर वोटिंग होनी है. नतीजे 4 जून को आएंगे. 

क्या है वोटिंग टाइम?

वोटिंग टाइम सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक है. लेकिन 5 बजे तक जो लोग लाइन में लगे हुए रहेंगे, उन्हें वोट डालने दिया जाएगा. 

इन सीटों पर डाले जाएंगे वोट
तमिलनाडु-  चेन्नई सेंट्रल, श्रीपेरंबदूर, कांचीपुरम, अरक्कोणम, वेल्लोर, कृष्णागिरी, धर्मपुरी, तिरुवन्नामलाई, अरणी, विलुप्पुरम, कल्लाकुरिची, पोलाची, डिंडीगुल, करूर, तिरुचिरापल्ली , पेरम्बलुर, कुड्डालोर, चिदम्बरम, मयिलादुथुराई, नागपट्टिनम, तंजावुर, शिवगंगा, मदुरै, थेनी, विरुधुनगर, रामनाथपुरम, थूथुक्कुडी, तेनकासी, तिरुनेलवेली और कन्याकुमारी,तिरुवल्लुर, चेन्नई ईस्‍ट, चेन्नई साउथ,सलेम, नामक्कल, इरोड, तिरुप्पुर, नीलगिरी, कोयंबटूर.
उत्तर प्रदेश: मुरादाबाद, पीलीभीत और रामपुर.सहारनपुर, कैराना, मुज्जफनगर, बिजनौर, नगीना.
मध्‍य प्रदेश:  मंडला, बालाघाट और छिंदवाड़ा.सीधी, शहडोल, जबलपुर.
राजस्थान:  अलवर, भरतपुर, करौली-धौलपुर, दौसा और नागौर.गंगानगर, बीकानेर, चूरू, झुंझुनू, सीकर, जयपुर ग्रामीण, जयपुर,
असम: काजीरंगा, सोनितपुर, तखीमपुर, डिबरुगढ़ और जोरहट.
बिहार: औरंगाबाद, गया, नवादा और जमुई.
उत्तराखंड: टिहरी गढ़वाल, गढ़वाल, अल्मोडा, नैनीताल, उधमसिंह नगर और हरिद्वार.
महाराष्ट्र: रामटेक, नागपुर, भंडारा-गोंडिया, गढ़चिरौली चिमूर और चंद्रपुर.
पश्चिम बंगाल: कूचबिहार, अलीपुरद्वार और जलपाईगुड़ी.
मणिपुर: इनर मणिपुर सीट और आउटर मणिपुर की कुछ विधानसभा क्षेत्रों में.  
छत्तीसगढ़ : बस्तर.
जम्मू-कश्मीर: ऊधमपुर.
अरुणाचल प्रदेश: अरुणाचल पश्चिम, अरुणाचल पूर्व.
मेघालय: शिलांग, तुरा.
त्रिपुरा: त्रिपुरा पश्चिम.
मिजोरम
लक्षद्वीप
पुडुचेरी
सिक्किम
नगालैंड
अंडमान और निकोबार

पहले फेज में 8 केंद्रीय मंत्रियों की किस्मत EVM में होगी लॉक

-केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी महाराष्ट्र की नागपुर सीट से चुनाव मैदान में हैं.

-केंद्रीय पृथ्वी विज्ञान और खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री किरण रिजिजू चुनाव अरुणाचल पश्चिम सीट से चुनाव मैदान में हैं. 

-केंद्रीय बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग, आयुष मंत्री सर्बानंद सोनेवाल असम की डिब्रूगढ़ लोकसभा सीट से उम्मीदवार हैं.

-मोदी सरकार में मत्स्य, पशु चिकित्सा और डेयरी मंत्रालय में राज्य मंत्री डॉक्टर संजीव बालियान मुजफ्फरनगर सीट से चुनाव मैदान में हैं. 

-प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री डॉक्टर जितेंद्र सिंह जम्मू-कश्मीर की ऊधमपुर-कठुआ-डोडा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. 

-केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेंद्र यादव राजस्थान की अलवर सीट से चुनाव मैदान में हैं. 

-केंद्रीय कानून मंत्री अर्जुन राम मेघवाल राजस्थान की बीकानेर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. उनका मुकाबला कांग्रेस के पूर्व मंत्री गोविंद राम मेघवाल से है.

– मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय और सूचना और प्रसारण मंत्रालय में राज्य मंत्री के रूप में कार्यरत एल मुरुगन को तमिलनाडु के नीलगिरी से चुनावी मैदान में उतारा गया है. 

यह भी पढ़ें :-  हार का डर या कुछ और...? मायावती ने भतीजे आकाश आनंद को हटाकर क्या चली 'चाल'?

ये दिग्गज नेता भी मैदान में

-उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री जतिन प्रसाद पीलीभीत से उम्मीदवार हैं. बीजेपी ने निवर्तमान सांसद वरुण गांधी का टिकट काटकर उन्हें उम्मीदवार बनाया है.

-त्रिपुरा के पूर्व मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब पश्चिम त्रिपुरा सीट से चुनाव मैदान में हैं. वहां उनका मुकाबला प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष आशीष कुमार साहा से है.

-तमिलनाडु की नीलगिरी लोकसभा सीट से डीएमके के ए राजा चुनाव मैदान में हैं. वो कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूपीए-2 सरकार में मंत्री रह चुके हैं.

-तमिलनाडु की शिवगंगा सीट पर कार्ति चिदंबरम चुनाव मैदान में हैं. वो कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम के बेटे हैं. पी चिदंबरम इस सीट से सात बार सांसद रह चुके हैं.

-तमिलनाडु बीजेपी के अध्यक्ष अन्नामलाई कोयंबटूर लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे हैं.

-पुडुचेरी की उपराज्यपाल और तेलंगाना के राज्यपाल पद से इस्तीफा देने वाली तमिलिसाई सौंदर्यराजन चेन्नई दक्षिण लोकसभा क्षेत्र से बीजेपी की उम्मीदवार हैं.

-कांग्रेस ने गौरव गोगोई को असम की जोरहाट सीट से उम्मीदवार बनाया है. राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई के बेटे हैं.

-मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ के बेटे नकुल नाथ छिंदवाड़ा से चुनाव लड़ रहे हैं. कमल नाथ इस सीट से 1980 के बाद से नौ बार सांसद रह चुके हैं. 

-कांग्रेस नेता इमरान मसूद उत्तर प्रदेश के सहारनपुर सीट से INDIA गठबंधन के उम्मीदवार हैं. पश्चिम उत्तर प्रदेश की इस लोकसभा सीट पर कांटे की लड़ाई है.

इन सीटों पर सबकी रहेगी नजर

पहले चरण में जिन महत्वपूर्ण सीटों पर चुनाव होने जा रहा है उनमें नागपुर, नगीना, कन्याकुमारी, बंगाल की कूचबिहार, चेन्नई सेंट्रल, मुज्जफनगर, सहारनपुर, कैराना,पीलीभीत, डिबरुगढ़, जोरहट, जयपुर, छिंदवाड़ा, जमुई, बस्तर, नैनीताल व लक्षद्वीप शामिल हैं. इन हॉट सीटों पर सबकी नजर रहेगी. इसके अलावा असम की काजीरंगा, सोनितपुर, लखीमपुर, डिबरुगढ़ और जोरहट सीटों पर भी निगाह रहेगी.

उत्तर बंगाल में तीन संसदीय क्षेत्रों में मतदान

पश्चिम बंगाल में शुक्रवार को जिन तीन लोकसभा क्षेत्रों में मतदान होगा, उनमें कूचबिहार निर्वाचन क्षेत्र पर सभी की नजर होगी. कूच बिहार लोकसभा क्षेत्र में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री और बीजेपी प्रत्याशी निसिथ प्रमाणिक का तृणमूल कांग्रेस के जगदीश चंद्र बर्मा बसुनिया से मुकाबला है. इसी संसदीय क्षेत्र के सीतलकुची में 2021 में विधानसभा चुनाव के दौरान केंद्रीय बलों की कथित गोलीबारी में चार लोगों की मौत हुई थी. इस घटना को वर्तमान चुनाव प्रचार के दौरान तृणमूल कांग्रेस ने मुद्दा भी बनाया है.

यह भी पढ़ें :-  वंदे भारत ट्रेनें, सुरंगें और वॉटर मेट्रो... साल 2023 में हुआ इंफ्रास्ट्रक्चर में बड़ा बदलाव

राजस्थान में पहले फेज के मतदान के लिए कड़ी सुरक्षा

राजस्थान में लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 12 लोकसभा सीट पर मतदान शुक्रवार को होगा, जिसके लिए सुरक्षा चाक चौबंद की गई है. पुलिस के 75000 जवान सहित अन्य सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं. राज्य में लोकसभा चुनावों के मद्देनजर सीमावर्ती राज्यों पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और गुजरात राज्य से लगने वाली राजस्थान की सीमाओं को सील करके 225 चेक पोस्ट स्थापित की गई हैं.

उत्तराखंड में मतदान को लेकर सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम

उत्तराखंड सहित देश की 102 लोकसभा सीटों पर पहले चरण में 19 अप्रैल को मतदान होना है. उत्तराखंड में सभी पांच लोकसभा सीटों पर सुरक्षित और शांतिपूर्ण मतदान कराने के लिए सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम किए गए हैं. उत्तराखंड की पांचों सीटों पर चुनाव प्रचार थम गया है. प्रदेश में 83,37,914 मतदाता हैं. 19 अप्रैल को 55 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला होना है. मतदान कराने के लिए एक लाख से अधिक कार्मिक और पुलिस बल को तैनात किया गया है.

यूपी की 8 लोकसभा सीट पर पहले चरण के चुनाव के लिए मतदान

पश्चिमी उत्तर प्रदेश की आठ लोकसभा सीट पर 19 अप्रैल को होने वाले पहले चरण के मतदान के लिए प्रशासन ने तैयारियां पूरी कर ली हैं। इन सीट पर अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने के लिए मतदाता भी तैयार हैं. लगभग सभी सीट पर भाजपा के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन, विपक्षी गठबंधन इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस (इंडिया) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है.

1.87 लाख मतदान केंद्रों पर 18 लाख से ज्यादा मतदान कर्मी तैनात

चुनाव आयोग ने 1.87 लाख मतदान केंद्रों पर 18 लाख से ज्यादा मतदान कर्मियों को तैनात किया है. इन मतदान केंद्रों पर 16.63 करोड़ से ज्यादा मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे. मतदाताओं में 8.4 करोड़ पुरुष, 8.23 करोड़ महिलाएं और 11,371 थर्ड जेंडर शामिल हैं. वहीं, 35.67 लाख लोग फर्स्ट टाइम वोटर्स हैं. इसके साथ ही 20-29 वर्ष आयु वर्ग के 3.51 करोड़ युवा मतदाता हैं.

मध्य प्रदेश की 6 सीटों पर 1.13 करोड़ मतदाता करेंगे मतदान

मध्य प्रदेश की जिन छह संसदीय क्षेत्र में मतदान होना है, उनमें 46 विधानसभा क्षेत्र आते हैं और यह 13 जिलों में फैला हुआ है. कुल 88 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं, जिसमें 81 पुरुष और सात महिलाएं हैं. सबसे ज्यादा 19 प्रत्याशी जबलपुर में तो सबसे कम 10 प्रत्याशी शहडोल में हैं. मतदान का समय सुबह 7 से शाम 6 बजे तक होगा. बालाघाट संसदीय क्षेत्र के तीन विधानसभा क्षेत्र बैहर, लांजी और परसवाड़ा जो नक्सली प्रभाव का क्षेत्र हैं, वहां पर मतदान सुबह 7 से 4 बजे तक होगा.

यह भी पढ़ें :-  कांग्रेस की नेशनल एलायंस कमेटी की पहली बैठक हुई, जल्द होगा 'इंडिया' गठबंधन में सीट बंटवारे पर फैसला

252 उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले

लोकसभा चुनाव के पहले चरण में जिन 102 सीट पर 19 अप्रैल को मतदान होगा उनमें से 42 सीट ऐसी हैं जहां पर तीन या इससे अधिक उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं. द एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (ADR) ने अपने विश्लेषण के आधार पर यह जानकारी दी है. ADR ने पहले फेज के लिए नामांकन दाखिल करने वाले 1625 उम्मीदवारों में से 1618 उम्मीदवारों के चुनावी हलफनामे का विश्लेषण किया.

ADR के हलफनामों के विश्लेषण के अनुसार 1,618 उम्मीदवारों में से 16 प्रतिशत यानी 252 उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं. जबकि 10 प्रतिशत यानी 161 उम्मीदवारों पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं.

नक्सल प्रभावित इलाकों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम

पहले फेज में महाराष्ट्र के गढ़चिरौली और छत्तीसगढ़ के बस्तर जैसे नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में भी वोटिंग होनी है. सुरक्षित और शांतिपूर्ण चुनाव के लिए संवेदनशील क्षेत्रों में सुरक्षा कर्मियों की हेलीड्रॉपिंग कराई जा रही है. सुरक्षा कर्मियों की हेलीड्रॉपिंग में वायु सेना के हेलीकॉप्टर्स की मदद ली गई है. चुनाव अधिकारियों के मुताबिक गढ़चिरौली में मतदान के लिए शुक्रवार को 15 हजार सुरक्षाबलों की तैनाती रहेगी. यहां निष्पक्ष चुनाव व शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए 40 सीएपीएफ की कंपनियां हैं. इसके अलावा यहां सीआरपीएफ की 30 और एसआरपीएफ की 17 कंपनियां भी तैनात हैं. केंद्रीय बलों की कुल 87 कंपनियां चुनाव ड्यूटी पर लगाई गई हैं.


 

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button