देश

PM मोदी ने कांग्रेस की करारी हार की भविष्यवाणी के साथ मध्य प्रदेश में चुनाव प्रचार किया संपन्न

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

झाबुआ:

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस मुकाबले में नहीं है और वह चुनाव में शर्मनाक हार की ओर बढ़ रही है. राज्य में अपनी चुनावी रैलियां संपन्न करते हुए, मोदी ने आदिवासियों से महज वोट बैंक जैसा बर्ताव करने को लेकर भी कांग्रेस की आलोचना की. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शासित राज्य में अपना तूफानी चुनावी दौरा संपन्न करते हुए, मोदी ने आदिवासी बहुल झाबुआ जिले में एक रैली को संबोधित किया और आदिवासियों से संपर्क साधा, जिनका समर्थन पार्टी के सत्ता में बरकरार रहने के लिए महत्वपूर्ण है. दिन में ये उनकी तीसरी जनसभा थी.

यह भी पढ़ें

पिछले कुछ हफ्तों में, मोदी ने भाजपा उम्मीदवारों के समर्थन में कई चुनावी रैलियों को संबोधित किया है और उन्होंने एक दिन में तीन-तीन सभाएं भी की हैं.

मोदी ने चुनाव प्रचार के अंतिम दिन सभा में कहा, ‘‘मैंने पूरे मध्य प्रदेश में जो माहौल देखा है, उससे साफ पता चलता है कि कमल (भाजपा का चिह्न) धूम मचाने वाला है. मुझे कांग्रेस मुकाबले में नहीं दिखती. वह शर्मनाक हार की ओर बढ़ रही है. 17 नवंबर को जब लोग मतदान करेंगे, तो विकास और भाजपा को चुनेंगे जबकि कांग्रेस को करारी हार का सामना करना पड़ेगा.”

प्रधानमंत्री ने कहा कि गुजरात के आदिवासी बहुल इलाकों में पिछले चुनाव में कांग्रेस का सफाया हो गया था. भाजपा के स्टार प्रचारक ने कहा,“ कांग्रेस जहां भी जाती है (जिस राज्य में वह सत्ता में होती है) वहां का माहौल खराब कर देती है. हम आदिवासी लोगों तक पहुंच रहे हैं और उन्हें कांग्रेस के खिलाफ आगाह कर रहे हैं.”

यह भी पढ़ें :-  विधानसभा चुनाव में BJP ने उतारे थे 21 सांसद, 12 हुए पास, हार गए सांसदों का क्या होगा?

प्रधानमंत्री ने दावा किया कि आदिवासी समुदाय के सदस्य मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में कांग्रेस से बहुत नाराज हैं, लेकिन वे भाजपा से खुश हैं, क्योंकि वह उनके विकास के लिए काम करती है. उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार आदिवासी बहुल जिलों में स्कूल खोल रही है और पार्टी ने इनमें से प्रत्येक क्षेत्र में एक मेडिकल कॉलेज खोलने का वादा किया है.

मोदी ने कहा, ‘‘सत्ता में रहते हुए, कांग्रेस ने आदिवासी समुदाय को केवल वोट-बैंक के रूप में देखा, जबकि भाजपा की (केंद्र और राज्य की)‘डबल इंजन’ सरकार ने लगातार उनके कल्याण और उनके जीवन को बदलने के लिए काम किया.”

मोदी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने अपने नेताओं की तस्वीरें सजाने के लिए कुपोषित बच्चों का इस्तेमाल किया. उन्होंने कहा, “ऐसी मानसिकता वाली पार्टी कभी भी आदिवासी समाज और गरीबों का भला नहीं कर सकती. इसी मानसिकता के कारण उन्होंने इन लोगों को विकास से दूर रखा.”

भाजपा के स्टार प्रचारक ने कहा कि जब मध्य प्रदेश में कांग्रेस सत्ता में थी, तब आदिवासी इलाकों से सिर्फ भुखमरी की खबरें आती थीं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता आदिवासियों की झोपड़ियों में जाकर उनके साथ फोटो खिंचवाते थे और उनकी गरीबी दिखाते थे, लेकिन बाद में उन्हें भूल जाते थे.

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि पार्टी विभिन्न क्षेत्रों में देश की उपलब्धियों को नहीं देख पाने की ‘मानसिक बीमारी’ से पीड़ित है. मध्य प्रदेश भाजपा के घोषणापत्र का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि इसमें केजी से पीजी स्तर तक लड़कियों को मुफ्त शिक्षा देने का वादा किया गया है.

यह भी पढ़ें :-  हिमाचल प्रदेश कांग्रेस में संकट बरकरार, विक्रमादित्य सिंह ने की बागी विधायकों से मुलाकात - सूत्र

मोदी ने कहा कि कांग्रेस नेता केवल अपने बेटों के राजनीतिक हितों को सुरक्षित रखने के बारे में चिंतित हैं. वह पूर्व मुख्यमंत्रियों कमलनाथ और दिग्विजय सिंह का ज़िक्र कर रहे थे. उन्होंने टिकट वितरण को लेकर कांग्रेस में असंतोष के संदर्भ में की गई ‘कपड़े फाड़ने’ वाली टिप्पणी पर भी चुटकी ली.

मध्य प्रदेश विधानसभा की की 230 सीटों के लिए एक ही चरण में 17 नवंबर को मतदान होगा और मतगणना तीन दिसंबर को होगी.

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button