देश

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने 19 बच्चों को राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से किया सम्मानित, खेलों से जुड़ने का किया आग्रह

नई दिल्ली:

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू (President Draupadi Murmu)ने सोमवार को 18 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 19 बच्चों को राष्ट्रीय बाल पुरस्कार (Rashtriya Bal Puraskar ) से सम्मानित किया. यह पुरस्कार असाधारण बहादुरी, कलात्मक कौशल, नयी सोच और निस्वार्थ सेवा के लिए दिया जाता है. इस साल यह पुरस्कार पाने वालों में 9 लड़के और 10 लड़कियां शामिल हैं. राष्ट्रपति ने इस दौरान बच्चों से खेलों से जुड़ने का आग्रह किया.

यह भी पढ़ें

राष्ट्रपति मुर्मू ने छह श्रेणियों-कला और संस्कृति (7), बहादुरी (1), इनोवेशन (1), विज्ञान और प्रौद्योगिकी (1), सामाजिक सेवा (4), और खेल (5) में प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार-2024 प्रदान किए. प्रधानमंत्री पीएम मोदी पुरस्कार प्राप्त करने वाले बच्चों के साथ मंगलवार को बातचीत करेंगे.

राष्ट्रपति ने युवाओं को इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के अत्यधिक इस्तेमाल के प्रति आगाह करते हुए कहा कि इससे विभिन्न स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं बढ़ रही हैं. उन्होंने प्रौद्योगिकी के जिम्मेदार उपयोग के महत्व पर भी जोर दिया. शैक्षिक और व्यक्तिगत विकास के लिए बच्चों द्वारा प्रौद्योगिकी के उपयोग की सराहना करते हुए राष्ट्रपति ने ‘डीप-फेक’, वित्तीय धोखाधड़ी और बाल शोषण जैसी चिंताओं का जिक्र किया. इसके दुरुपयोग के प्रति आगाह किया.

मुर्मू ने कहा, ‘‘सोशल मीडिया, संचार और जागरूकता के लिए शक्तिशाली उपकरण है, लेकिन इसका दुरुपयोग अफवाहें फैलाने के लिए भी किया जाता है. इसलिए, सतर्क रहना और ऐसी गतिविधियों से बचना जरूरी है, क्योंकि एक गलत कदम आपके भविष्य को खतरे में डाल सकता है.”

उन्होंने युवाओं से खेलों से जुड़ने का आह्वान करते हुए कहा कि इसके समग्र लाभों में शारीरिक और मानसिक कल्याण, ‘टीम वर्क’ और स्वस्थ प्रतिस्पर्धा के लिए तैयारी शामिल हैं.

यह भी पढ़ें :-  गाजियाबाद : पिटबुल डॉग ने किया 15 साल के बच्चे पर अटैक, हालत गंभीर

राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘मोबाइल, लैपटॉप और टेलीविजन जैसे उपकरणों के अत्यधिक इस्तेमाल से आज की पीढ़ी के बीच शारीरिक गतिविधियों में गिरावट आई है. इसके परिणामस्वरूप स्वास्थ्य संबंधी विभिन्न समस्याओं में वृद्धि हुई है. मैं युवाओं से आग्रह करती हूं कि वे कम से कम एक खेल से जुड़ें भले ही इसे करियर के विकल्प के रूप में ना अपनाएं.”

मुर्मू ने कहा, ‘‘खेल न केवल आपको शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रखता है, बल्कि स्वस्थ प्रतिस्पर्धा के लिए तैयार भी करता है.”

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने राष्ट्र निर्माण में युवाओं की भूमिका को रेखांकित करते हुए बच्चों को प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में सशक्त बनाने और उन्हें इनोवेशन के लिए प्रोत्साहित करने पर जोर दिया.

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button