देश

"सड़क पर संघर्ष की अनुमति बीएसपी में नहीं…": कांग्रेस में शामिल होने के बाद The Hindkeshariसे बोले दानिश अली

लोकसभा सदस्य दानिश अली बुधवार को कांग्रेस में शामिल हो गए. इस बीच ये खबर भी आ रही है कि वह अपने संसदीय क्षेत्र अमरोहा से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ सकते हैं. कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे ने पार्टी में उनका स्वागत किया. दानिश अली ने पिछले दिनों कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की थी और कहा था कि उन्होंने उत्तर प्रदेश की अमरोहा सीट से लोकसभा में अपनी दूसरी पारी के लिए ‘‘सोनिया गांधी का आशीर्वाद प्राप्त किया.”

यह भी पढ़ें

समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन में उत्तर प्रदेश की जो 17 लोकसभा सीटें कांग्रेस के खाते में आई हैं, उनमें अमरोहा भी शामिल है. The Hindkeshariसंग खास बातचीत में दानिश अली ने कहा कि मेरी जिस ऊर्जा का उपयोग बीएसपी में नहीं हुआ उसका अब राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस में होगा. क्योंकि जिन मुद्दों को लेकर मैं खड़ा रहा उन्हीं को लेकर राहुल संसद और सड़क पर संघर्ष करते हैं. सड़क पर संघर्ष करने की अनुमित मेरी पूर्व की पार्टी में नहीं थी. इसलिए अब लड़ाई लड़ने में अब और मजा आएगा.

एक तरफ विभाजनकारी ताकते हैं जो अस्थिरता फैलाने की कोशिश करती है. एक तरह कांग्रेस है जो देश के गरीब, पिछड़े, छात्र और किसानों को न्याय दिलाने में लगी है. सबको न्याय दिलाने के लिए राहुल गांधी ने देश में यात्रा की. जबकि पीएम वहां नहीं पहुंच पाए. बीएसपी के कार्यकर्ताओं का मनोबल टूट चुका है. कार्यकर्ता संघर्ष करना चाहता है. मुझे अगर कांग्रेस ने चुनाव लड़ने दिया तो वहां की जनता मुझे फिर से अपना आशीर्वाद देगी. मेरे से पहले के सांसद की संसद में जुबान ही नहीं खुलती थी. मैंने अपनी जनता को जुबान देने का काम किया है. इसलिए अमरोहा की जनता मेरे साथ खड़ी है और इंतजार कर रही है.

यह भी पढ़ें :-  सूरत में तैयार हुआ रामलला का रत्न जड़ित सोने का मुकुट, चांदी से बना राम मंदिर का मॉडल

अमरोहा से अपनी उम्मीदवारी पर कहा कि मेरा रोल पार्टी तय करेगी, किसको चुनाव लड़ाना है ये तो पार्टी का काम है. अगर मैं उम्मीदवार बना तो ये विश्वास दिलाता हूं अमरोहा की जनता मुझे पिछली बार से भी ज्यादा वोटों के अंतर से जिताएगी. दानिश अली पिछले महीने अमरोहा में राहुल गांधी की अगुवाई वाली ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ में शामिल हुए थे. दानिश अली 14 जनवरी को मणिपुर में इस यात्रा की शुरुआत के मौके पर भी इसका हिस्सा बने थे. अली को पिछले साल नौ दिसंबर को बसपा ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में पार्टी से निलंबित कर दिया था.

ये भी पढ़ें : अरुणाचल प्रदेश भारत का हिस्सा, LAC पर किसी भी घुसपैठ का कड़ा विरोध: अमेरिका

ये भी पढ़ें :” ‘राहुल-प्रियंका ने भाई माना…’ : पप्पू यादव ने कांग्रेस में विलय की अपनी पार्टी JAP, पूर्णिया से मांगा टिकट

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button