दुनिया

"6 साल के बच्‍चे पर 26 बार चाकू से वार": इजरायल-हमास युद्ध के चलते अमेरिका में हत्या का मामला

अमेरिका में हुई हत्‍या को इज़रायल-हमास युद्ध से जोड़कर देखा जा रहा

वाशिंगटन:

इज़रायल-हमास युद्ध (Israel-Hamas War) को लेकर कई देशों में विरोध प्रदर्शन देखने को मिल रहे हैं. अमेरिका में भी कुछ लोग इज़रायल के समर्थन, तो कुछ विरोध में खड़े नजर आ रहे हैं. एएफपी की खबर के मुताबिक, इस बीच अमेरिका में एक हमले में एक मुस्लिम महिला और छह वर्षीय लड़के को दर्जनों बार चाकू मारने की घटना सामने आई है. इस मामले में एक अमेरिकी मकान मालिक पर हत्या और हेट क्राइम का आरोप लगाया गया है. पुलिस इस मामले को इज़रायल और हमास के बीच युद्ध से जोड़ रही है. 

यह भी पढ़ें

6 साल के बच्‍चे पर 26 बार चाकू से वार 

बताया जा रहा है कि 6 साल के बच्‍चे पर 26 बार चाकू से वार किया गया. विल काउंटी शेरिफ कार्यालय के एक बयान के अनुसार, जिस बच्चे को 26 बार चाकू मारा गया था, उसकी अस्पताल में मौत हो गई, लेकिन उसकी मां मानी जाने वाली 32 वर्षीय महिला के बचने की उम्मीद है. बयान में कहा गया है, “जांच में यह बात सामने आई है कि इस क्रूर हमले में दोनों पीड़ितों को मुस्लिम होने और हमास-इजरायलियों से जुड़े मध्य पूर्वी संघर्ष के कारण संदिग्ध द्वारा निशाना बनाया गया.” साथ ही बयान में कहा गया है कि हत्या की ये वारदात शिकागो से 64 किलोमीटर पश्चिम में हुई.

शेरिफ कार्यालय ने यह नहीं बताया है कि पीड़ितों की राष्ट्रीयता क्‍या है, लेकिन काउंसिल ऑन अमेरिकन-इस्लामिक रिलेशंस (सीएआईआर) के शिकागो कार्यालय ने बच्चे को फिलिस्तीनी-अमेरिकी बताया. अधिकारियों ने कहा कि महिला, मकान मालिक से लड़ते हुए 911 पर कॉल करने में कामयाब रही. शेरिफ कार्यालय ने 71 वर्षीय हमलावर का नाम जोसेफ कज़ुबा बताया है.

यह भी पढ़ें :-  "फ्लाइट्स में सिर्फ गोरी, यंग और नीली आंखों वाली महिला अटेंडेंट": US एयरलाइंस पर भेदभाव का केस दर्ज

बच्‍चे और महिला के पूरे शरीर पर कई वार 

शेरिफ ऑफिस ने बताया, “घर के अंदर एक बेडरूम में दो पीड़ितों को पाया गया. दोनों पीड़ितों की छाती, धड़ और ऊपरी अंगों पर चाकू के कई घाव थे. शव परीक्षण के दौरान सात इंच का एक दांतेदार सैन्य शैली का चाकू लड़के के पेट से निकाला गया. जब पुलिस पहुंची, तो उन्होंने कज़ुबा को आवास के रास्ते के पास जमीन पर बैठा पाया और उसके माथे पर चोट लगी थी. हत्या, हत्या के प्रयास और हेट क्राइम के दो मामलों का आरोप लगाने से पहले उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया था.

“यह हमला हमारे लिये किसी बुरा सपने से कम नहीं”

सीएआईआर के शिकागो कार्यालय के प्रमुख अहमद रेहब ने महिला द्वारा अपने अस्पताल से मारे गए लड़के के पिता को भेजे गए टेक्स्ट मैसेजों का हवाला देते हुए मीडिया से कहा, “उसने दरवाजा खटखटाया और उसका गला घोंटने का प्रयास किया, और कहा, ‘तुम मुसलमानों’ को मरना होगा.” सीएआईआर ने एक बयान में कहा, “यह हमला हमारे लिये किसी बुरा सपने से कम नहीं है.”

हमास द्वारा अचानक किये गए हमले में इज़रायल में लगभग 1400 लोगों की मौत हो गई. लगभग 5000 रॉकेट दागने के बाद हमास के लड़ाके इज़रायली सीमा में घुस गए. लोगों पर गोलियां चलाईं, चाकुओं से वार किये और कुछ लोगों का अपहरण करके गाज़ा पट्टी में ले गए. इसके बाद जवाबी कार्रवाई में इज़रायल ने गाज़ा पट्टी पर एक के बाद एक कई एयर स्‍ट्राइक की, जिसमें कम से कम 2600 लोगों के मारे जाने और 5000 से ज्‍यादा लोगों के घायल होने की सूचना है. 

यह भी पढ़ें :-  "मां, मुझे गोली मार दी गई": बंधक बनाई गई बेटी ने मां से फोन पर कहा

ये भी पढ़ें:- “मां, मुझे गोली मार दी गई”: बंधक बनाई गई बेटी ने मां से फोन पर कहा

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button