देश

AAP विधायक अमानतुल्लाह खान अरेस्ट, ED ने दिल्ली वक्फ बोर्ड घोटाले में की कार्रवाई

नई दिल्ली:

दिल्ली में आम आदमी पार्टी (AAP) सरकार की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. शराब नीति केस (Delhi Liquor Policy Case) में कथित घोटाले को लेकर पहले डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) गिरफ्तार हुए. फिर CM अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को ED ने कस्टडी में लिया. अब AAP के एक और विधायक की गिरफ्तारी की खबर है. ED के सूत्रों के मुताबिक, वक्फ बोर्ड नियुक्ति घोटाले (Delhi Waqf Board Scam) में आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान (Amanatullah Khan) को गिरफ्तार किया गया है. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के आदेश पर अमानतुल्लाह खान गुरुवार (18 अप्रैल) को ED के सामने पेश हुए थे. ED दफ्तर में करीब साढ़े 9 घंटे उनसे पूछताछ हुई, जिसके बाद एजेंसी के अधिकारियों ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया. 

यह भी पढ़ें

अमानतुल्लाह खान ओखला से विधायक हैं. 2020 में आम आदमी पार्टी ने ओखला से अमानतुल्ला खान को फिर से मैदान में उतारा था. इस चुनाव में उनकी जीत हुई. अमानतुल्ला खान अक्सर विवादों में घिरे रहे हैं. ओखला विधानसभा में वो अक्सर विपक्षी दलों के निशाने पर भी रहे.

“मुफ्त पानी का सपना दिखाकर…” दिल्ली के LG ने सीएम केजरीवाल को पत्र लिखकर साधा निशाना; AAP ने किया पलटवार

अमानतुल्ला खान पर आरोप है कि दिल्ली वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष के रूप में उन्होंने 32 लोगों को अवैध रूप से भर्ती किया. इसके साथ ही उन्होंने अवैध रूप से दिल्ली वक्फ बोर्ड की कई संपत्तियों को किराए पर दिया है. AAP विधायक पर ये भी आरोप लगाया गया है कि उन्होंने दिल्ली वक्फ बोर्ड के फंड का गलत इस्तेमाल किया है. दिल्ली वक्फ बोर्ड के तत्कालीन CEO ने इस तरह की अवैध भर्ती के खिलाफ बयान जारी किया था. जांच के दौरान अमानतुल्लाह के करीबियों के ठिकानों से कैश बरामद हुए थे.

यह भी पढ़ें :-  लालू यादव के सहयोगी ने रेलवे में नौकरी के बदले जमीन घोटाला मामले में हासिल किए कई भूखंड : ईडी

धन शोधन मामला : सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद AAP विधायक अमानतुल्ला खान ED के सामने हुए पेश

ईडी की तरफ से विधायक अमानतुल्लाह खान को 6 समन भेजे गए थे. समन मिलने के बाद भी अमानतुल्लाह खान ईडी के सामने पेश नहीं हुए थे. उनकी तरफ से सुप्रीम कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका लगाई गई थी, जिसे कोर्ट ने यह कहते हुए खारिज कर दिया था कि विधायक होने के आधार पर आपको कोई छूट नहीं दी सकती. कानून सबके लिए बराबर होता है. इसके साथ ही कोर्ट ने कहा कि ईडी के समन को बार-बार नजरअंदाज करना गलत है. इसके बाद खान ईडी के सामने पेश हुए थे.

“केजरीवाल जेल में खा रहे मिठाई और आम…” : ED ने कोर्ट में कहा; AAP ने बताया ‘सरासर झूठ’

जांच के दौरान अमानतुल्लाह के करीबियों के ठिकानों से कैश बरामद हुए थे. अमानतुल्लाह के करीबियों के घर पर रेड के दौरान एक डायरी भी मिली थी, जिसमें अमानतुल्लाह द्वारा देश-विदेश में करोड़ों रुपये के लेन-देन का जिक्र भी था. 

इस मामले में एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) ने सितंबर 2022 में अमानतुल्लाह से पूछताछ की. इसी के आधार पर ACB ने चार जगहों पर छापे मारे. करीब 24 लाख रुपये कैश बरामद किया गया. इसके अलावा, दो अवैध और बिना लाइसेंस की पिस्टल मिली थी. कारतूस और गोला-बारूद भी बरामद किया गया था. बाद में अमानतुल्लाह को गिरफ्तार कर किया गया था. बाद में उन्हें उन्हें 28 दिसंबर 2022 को जमानत पर रिहा कर दिया गया.

AAP ने लॉन्च किया ‘रामराज्य’ वेबसाइट, केजरीवाल को लेकर बोलीं आतिशी- प्राण जाये पर वचन न जाई

यह भी पढ़ें :-  "भारत की समुद्री सुरक्षा और बढ़ेगी": एमक्यू-9बी डील पर अमेरिका

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button