देश

अंबानी परिवार ने राम मंदिर के लिए खोला खजाना, जानिए कितने करोड़ का किया दान

अयोध्‍या के राम मंदिर में पूरा अंबानी परिवार पहुंचा.

खास बातें

  • रामलला प्राण प्रतिष्‍ठा के मौके पर अंबानी परिवार अयोध्‍या पहुंचा
  • मुकेश अंबानी ने कहा कि 22 जनवरी को देश में राम दीवाली होगी
  • समारोह में शामिल होने के बाद नीता अंबानी ने इसे ऐतिहासिक दिन बताया

नई दिल्‍ली :

रामलला प्राण प्रतिष्ठा (Ramlala Pran Pratishtha) समारोह के लिए आज अंबानी परिवार (Ambani Family) अयोध्‍या में मौजूद रहा. अंबानी परिवार ने अयोध्या के राम मंदिर ट्रस्ट को 2.51 करोड़ रुपये का दान दिया है. परिवार ने एक बयान में कहा, “मुकेश अंबानी ने अपने परिवार के सदस्यों के साथ श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को 2.51 करोड़ रुपये का दान दिया है.” अयोध्‍या में मुकेश अंबानी के साथ पत्नी नीता, बेटी ईशा और दामाद आनंद पीरामल, बेटे आकाश और अनंत के साथ बहू श्लोका मेहता और जल्द ही होने वाली बहू राधिका मर्चेंट भी मौजूद थीं. 

यह भी पढ़ें

इसमें कहा गया, “अयोध्या में राम मंदिर का पवित्र प्रयास गहरा सांस्कृतिक महत्व रखता है.”

मुकेश अंबानी ने कहा, “आज भगवान राम आ रहे हैं, 22 जनवरी को पूरे देश के लिए राम दीवाली होगी.”

प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने के बाद नीता अंबानी ने कहा, “यह एक ऐतिहासिक दिन है.”

नए युग के आगमन का प्रतीक : पीएम मोदी 

रामलला प्राण प्रतिष्‍ठा के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह समारोह एक नए युग के आगमन का प्रतीक है. उन्‍होंने राम मंदिर के निर्माण से आगे बढ़कर अगले 1,000 वर्षों के लिए एक मजबूत, भव्य और दिव्य भारत की नींव रखने का आह्वान किया. 

यह भी पढ़ें :-  रामलला प्राण प्रतिष्ठा : त्रिपुरा, असम के मंदिरों में हुई विशेष पूजा, शोभायात्रा निकाली गईं

भगवान राम की थीम पर सजा ‘एंटीलिया’ 

भव्य आयोजन से एक दिन पहले अंबानी परिवार के निवास एंटीलिया को भगवान राम की थीम पर सजाया गया. एंटीलिया को ‘जय श्री राम’ लिखे और दीयों को चित्रित करते होलोग्राम से रोशन किया गया था. इसके साथ ही रिलायंस इंडस्ट्रीज ने लाखों रिलायंस परिवारों के जश्न मनाने और ‘प्राण प्रतिष्ठा’ समारोह में शामिल होने के लिए छुट्टी की घोषणा की थी. 

नागर शैली में राम मंदिर का निर्माण  

राम मंदिर का निर्माण पारंपरिक नागर शैली में किया गया है. इसमें कुल 392 स्तंभ और 44 दरवाजे हैं. साथ ही मंदिर के स्तंभों और दीवारों पर हिंदू देवी-देवताओं को चित्रित किया गया है. भूतल पर स्थित मुख्य गर्भगृह में भगवान श्रीराम के बचपन के स्वरूप (श्री रामलला की मूर्ति) की प्राण प्रतिष्‍ठा की गई है.

ये भी पढ़ें :

* 11 दिन का व्रत और तीर्थयात्रा : PM मोदी ने राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के पहले इन 7 मंदिरों में किए दर्शन

* लक्ष्मण, सीता, हनुमान के बिना राम अधूरे हैं, बीजेपी ने उन्हें उनसे अलग कर दिया: CM सिद्धरमैया

* “अयोध्या में रहने का मेरा सपना…”: मुंबई के राम मंदिर में दर्शन करने पहुंचे इजरायल के दूत

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button