दुनिया

"गोलीबारी के बीच मां मेरी ढाल बन गईं और…": 16 वर्षीय लड़के ने बताई इजरायल पर हुए हमले की खौफनाक दास्‍तां

इज़रायल के लोगों ने शायद ही कभी कल्‍पना की होगी कि हमास आतंकियों द्वारा इतना बड़ा हमला उनके देश की सीमाओं में घुसकर किया जाएगा. हमास के हमले से बचने के लिए लोगों को कुछ मिनटों का ही समय मिल पाया. यही वजह थी कि इज़रायल के 1000 से ज्‍यादा लोग हमास के इस हमले में मारे गए. और जो लोग इस हमले में बच गए, वे इसे ताउम्र नहीं भूल पाएंगे. इन हमलों में किसी ने अपना भाई खोया, किसी ने बहन, तो किसी ने अपने माता-पिता…  16 वर्षीय इजरायली-अमेरिकी लड़का रोटेम माथियास हमास लड़ाकों के हमले में बच गया. माथियास के माता-पिता ने ढाल बनकर उसकी जान बचाई, और खुद मारे गए. माथियास ने बताया कि मां मेरे ऊपर मर गई… उन्‍होंने मुझे गोलियों से बचाया, लेकिन…

रोटेम माथियास का घर दक्षिणी इज़रायल स्थित गाजा सीमा के पास है. उनके परिवार को हमास के अचानक हमले के बाद सुरक्षित स्‍थान पर जाने के लिए एक मिनट से भी कम समय मिला. ऐसी ही स्थिति कई अन्‍य लोगों के साथ थी… इस दौरान 1,200 इज़रायली मारे गए. एबीसी न्यूज को दिये एक इंटरव्‍यू में उस दर्दनाक घटना को याद करते हुए, माथियास ने कहा, “मेरे पिता ने आखिरी बात यह कही थी कि उनके हाथ में गोली लगी है और उन्होंने अपना हाथ खो दिया है. फिर, मेरे ऊपर मेरी माँ की मृत्यु हो गई.”

माथियास ने बताया, “मैंने बस अपनी सांसें रोक लीं. मैंने कोई शोर नहीं किया. मैंने किसी ईश्‍वर से प्रार्थना की। मुझे वास्तव में इसकी परवाह नहीं थी कि मैं किस ईश्‍वर से प्रार्थना कर रहा हूं. मैंने बस ईश्‍वर से प्रार्थना की कि आतंकी मुझे न खोज पाएं.” मथियास ने अपने घर पर हमला करने वाले आतंकवादियों से बचने के लिए लगभग 30 मिनट तक मरने का नाटक किया. बाद में उन्हें इजरायली रक्षा बलों ने बचाया. 

Latest and Breaking News on NDTV

माथियास ने यह भी बताया कि कैसे उनके माता-पिता ने हमले से पहले एक फैमिली ग्रुप चैट पर मैसेज भेजा था कि उन्हें अरबी भाषा में आवाज़ें सुनाई दे रही हैं. दंपति ने यह भी कहा कि उन्हें दूर से गोलियों की आवाजें सुनाई दे रही थीं. फिर रोटेम माथियास के जवाब देने से पहले वे 20 मिनट तक कोई मैसेज नहीं आया… उन्‍होंने मैसेज में लिखा था-  “मां और पिताजी मर गए, क्षमा करें. मदद बुलाएं.”

यह भी पढ़ें :-  इजरायल की चेतावनी के बाद हजारों लोगों ने दक्षिणी गाजा की तरफ किया पलायन

हमास ने अचानक किये हमले में बीते शनिवार को इज़रायल पर 5,000 रॉकेट दागे. इसके बाद हमास लड़ाकों ने बुलडोजर, मोटरसाइकिल और यहां तक ​​कि पैराग्लाइडर का उपयोग करके इज़रायल में घुसपैठ की और लोगों को मारना शुरू कर दिया. कुछ लोगों को बंधक बनाकर भी हमास के लड़ाके गाज़ा पट्टी के इलाके में ले गए.

इजरायल ने जवाबी कार्रवाई में बड़े पैमाने पर हवाई हमले किए हैं और अब गाजा सीमा के पास सैनिकों को जुटाना भी शुरू कर दिया है. प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा कि उनकी सरकार हमास का “सफाया” करने के लिए तैयार है.

ये भी पढ़ें :- 

  • क्‍या बदला है फिलिस्‍तीन को लेकर भारत का नजरिया, इज़रायल-हमास युद्ध को लेकर दिये गए बयान के मायने
  • Video: इज़रायल ने जमीनी हमले से पहले गाज़ा में हमास के रॉकेट लॉन्‍चरों को किया नष्‍ट
Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button