देश

2019 में सबसे 'बड़ी' जीत दिलाने वाले 10 में से 4 चेहरे BJP ने बदले; जानें- अब किसे मिला मौका

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव 2024 (Lok sabha election 2024) की तैयारी सभी दलों की तरफ से तेज कर दी गयी है. चुनाव आयोग ने चुनाव की तारीख का ऐलान कर दिया है. साल 2019 के लोकसभा चुनाव में कई उम्मीदवार भारी अंतर से चुनाव जीतने में सफल रहे थे.  सबसे अधिक मतों से चुनाव जीतने वालों टॉप 10 उम्मीदवारों में सभी बीजेपी (BJP) के थे. हालांकि 2024 के लोकसभा चुनाव में कुछ उम्मीदवारों का टिकट बीजेपी ने काट लिया है. पूरे देश में गुजरात के नवसारी सीट से बीजेपी के सीआर पाटिल सबसे अधिक मतों से चुनाव जीतने में सफल रहे थे. सीआर पाटिल ने 6 लाख 89 हजार 668 वोट से कांग्रेस के उम्मीदवार को हराया था. 

यह भी पढ़ें

  1. नवसारी (गुजरात) – इस सीट से भारतीय जनता पार्टी के सीआर पाटिल ने 6 लाख 89 हजार 668 वोटों से कांग्रेस के धर्मेश पटेल को हराया था. बीजेपी ने इस चुनाव में भी सीआर पाटिल को ही प्रत्याशी बनाया है. सीआर पाटिल गुजरात बीजेपी के अध्यक्ष हैं. पिछले तीन लोकसभा चुनाव से वो नवसारी से चुनाव जीत रहे हैं. 
  2. करनाल (हरियाणा) –  हरियाणा के इस सीट से बीजेपी के संजय भाटिया ने कांग्रेस के उम्मीदवार कुलदीप शर्मा को 6 लाख 56 हजार 142 वोटों से हराया था. संजय भाटिया को 70 प्रतिशत से भी अधिक वोट मिले थे. हालांकि इस चुनाव में बीजेपी ने संजय भाटिया का टिकट काट लिया है. उनकी जगह पर हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को उम्मीदवार बनाया गया है. 
  3. फरीदाबाद  (हरियाणा) –  हरियाणा के ही एक अन्य सीट फरीदाबाद से बीजेपी के कृष्णपाल गुर्जर ने कांग्रेस प्रत्याशी अवतार भड़ाना को 6 लाख 38 हजार 239 वोटों से हराया था.  बीजेपी ने इस बार भी  कृष्णपाल गुर्जर को मैदान में उतारा है. 
  4. भीलवाड़ा (राजस्थान) – बीजेपी के उम्मीदवार सुभाष चंद्र ने कांग्रेस के प्रत्याशी राम पाल शर्मा को 6 लाख 12 हजार वोटों से हराया था. 2024 के चुनाव के लिए अभी उम्मीदवार के नाम का ऐलान नहीं किया गया है. बीजेपी के कई नेता टिकट की रेस में हैं.  
  5. वडोदरा (गुजरात) – गुजरात के वडोदरा से बीजेपी के उम्मीदवार रंजनबेन भट ने कांग्रेस  प्रशांत पटेल को 5.89 लाख वोटों से हराया था. बीजेपी ने रंजनबेन भट को एक बार फिर मैदान में उतारा है. पिछले 2 चुनावों से उन्हें जीत मिल रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 2014 में इस सीट को खाली किए जाने के बाद से रंजनबेन भट यहां पर चुनाव जीत रहे हैं. 
  6. पश्चिमी दिल्ली – पश्चिमी दिल्ली लोकसभा सीट पर पिछले 2 चुनावों से बीजेपी का कब्जा है. पिछले चुनाव में बीजेपी के प्रवेश वर्मा ने कांग्रेस के महाबल मिश्रा को 5 लाख 78 हजार 486 वोटों से हराया था. प्रवेश वर्मा बीजेपी के दिवंगत नेता साहेब सिंह वर्मा के पुत्र हैं. हालांकि इस बार बीजेपी ने प्रवेश वर्मा का टिकट काट लिया है. बीजेपी की तरफ से इस बार के चुनाव में कमलजीत सहरावत को उम्मीदवार बनाया गया है. 
  7. चित्तौड़गढ़ (राजस्थान) –  राजस्थान के चित्तौड़गढ़ लोकसभा सीट पर पिछले चुनाव में बीजेपी के सीपी जोशी ने कांग्रेस के गोपाल सिंह शेखावत को 5 लाख 76 हजार 247 वोटों से हराया था.  एक बार फिर बीजेपी ने सी.पी. जोशी को प्रत्याशी बनाया है. सीपी जोशी के मुकाबले कांग्रेस की तरफ से उदय लाल अंजना मैदान में हैं. 
  8. गांधीनगर (गुजरात) : बीजेपी नेता और गृहमंत्री अमित शाह ने 5 लाख 57 हजार 14 वोटों से कांग्रेस के सीजी चावड़ा को हराया था. गांधीनगर सीट से एक बार फिर अमित शाह मैदान में हैं. अमित शाह से पहले इस सीट पर लंबे समय तक लाल कृष्ण आडवाणी चुनाव लड़ते रहे थे. एक दफे अटल बिहारी वाजपेयी भी इस सीट से चुनाव जीतकर संसद पहुंचे थे.
  9. उत्तर पश्चिमी दिल्ली – उत्तर पश्चिमी दिल्ली सीट पर बीजेपी के हंसराज हंस ने 5 लाख 53 हजार 897 वोटों से आप के गुगन सिंह को हराया था. हालांकि बीजेपी ने इस चुनाव में हंसराज हंस को प्रत्याशी नहीं बनाया है. योगेंद्र चंदोलिया इस चुनाव में बीजेपी के उम्मीदवार होंगे. योगेंद्र चंदोलिया दिल्ली नगर निगम स्थायी समिति के अध्यक्ष रह चुके हैं.
  10. होशंगाबाद (मध्यप्रदेश) – साल 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी नेता उदय प्रताप सिंह ने कांग्रेस के शैलेंद्र दीवान को 5 लाख 53 हजार 682 वोटों से हराया था. बीजेपी ने उदय प्रताप सिंह को विधानसभा चुनाव में उतारा था और वो चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंच गए. वहीं इस बार बीजेपी की तरफ से दर्शन सिंह चौधरी को टिकट मिला है. 
यह भी पढ़ें :-  Analysis : आखिर कहां चूके पशुपति पारस? 'चिराग' की चाह में BJP ने क्यों कर दिया खाली हाथ

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button