देश

बारामती की चुनावी लड़ाई शरद पवार को 'खत्म' करने की बीजेपी की चाल : सुप्रिया सुले

अजित पवार के साथ सुनेत्रा पवार और सुप्रिया सुले (फाअइल फोटो) .

पुणे:

लोकसभा सदस्य सुप्रिया सुले ने रविवार को दावा किया कि बारामती निर्वाचन क्षेत्र में उनके और उनकी भाभी सुनेत्रा पवार के बीच लड़ाई राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के संस्थापक शरद पवार को राजनीतिक रूप से समाप्त करने की भारतीय जनता पार्टी (BJP) की साजिश है. सुले ने कहा कि लोकसभा चुनाव में अंत: पारिवारिक द्वंद्व सुनेत्रा पवार के प्रति उनके सम्मान को कम नहीं करेगा, क्योंकि वह (सुनेत्रा) उनके ‘‘बड़े भाई की पत्नी और मां की तरह” हैं.

यह भी पढ़ें

तीन बार की सांसद सुले के खिलाफ महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार की पत्नी सुनेत्रा पवार के चुनावी अखाड़े में उतरने के बाद शरद पवार का गृह क्षेत्र बारामती एक हाई-प्रोफाइल चुनावी संघर्ष के लिए तैयार है.

‘पवार-बनाम-पवार’ का संघर्ष पिछले साल मूल एनसीपी में हुए विभाजन का नतीजा है. अजित पवार पिछले वर्ष अपने वफादार विधायकों के साथ सत्तारूढ़ बीजेपी और एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाली शिवसेना के साथ चले गए थे.

सुले ने ‘पीटीआई-भाषा’ से बातचीत में कहा कि सुनेत्रा पवार उनके बड़े भाई की पत्नी हैं और बड़ी भाभी को मां के समान माना जाता है. उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए यह चाल (सुनेत्रा को सुले के खिलाफ उतारने की) पवार परिवार और महाराष्ट्र के खिलाफ है. बीजेपी पवार साहब को (राजनीतिक तौर पर) समाप्त करना चाहती है. यह मैं नहीं कह रही, (बल्कि) बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता ने बारामती का दौरा करने के बाद ऐसी टिप्पणी की थी.”

सुले (54) ने दावा किया कि सुनेत्रा पवार (60) को नामांकित करने का कदम दर्शाता है कि ऐसा विकास के लिए नहीं किया गया है. उन्होंने कहा, ‘‘यह केवल पवार साहब को खत्म करने की लड़ाई है.”

यह भी पढ़ें :-  Lok Sabha Elections 2024 : JDU आज जारी कर सकती है अपने उम्मीदवारों की लिस्ट, इन सांसदों का कट सकता है टिकट

बारामती में तीसरे चरण में सात मई को मतदान होना है.

उन्होंने महाराष्ट्र में ‘गंदी राजनीति’ और उनके पारिवारिक मामलों में बीजेपी की संलिप्तता पर दुख व्यक्त किया. उन्होंने कहा, ”जो बीत गया उसे बीत जाने दो, लेकिन मेरे लिए मेरी भाभी, जिन्हें हम मराठी में ‘वाहिनी’ कहते हैं, मां के समान रहेंगी और उनके प्रति मेरा सम्मान पहले जैसा ही रहेगा.”

महाराष्ट्र की 48 लोकसभा सीटों पर 19 अप्रैल से 20 मई के बीच पांच चरणों में मतदान होगा और मतों की गिनती 4 जून को होगी.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को The Hindkeshariटीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button