दुनिया

अल शिफ़ा अस्पताल के पास मिला हमास की बंधक, पांच बच्चों की मां, का शव : इज़रायल का दावा

सेना द्वारा जारी एक बयान में बताया गया है कि बंधक की पहचान 65-वर्षीय येहुदित वीस के तौर पर हुई है, और उसका शव “इज़रायली रक्षा बल (IDF) ने शिफ़ा अस्पताल से सटी एक इमारत से निकाला…” IDF प्रवक्ता डैनियल हगारी ने कहा, “आतंकवादियों ने ग़ाज़ा पट्टी में येहुदित की हत्या कर दी, और हम समय रहते उस तक नहीं पहुंच पाए…”

IDF ने माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट X (अतीत में ट्विटर) पर एक पोस्ट में कहा, येहुदित वीस पांच बच्चों की मां थीं और किंडरगार्टन में काम करती थीं… दक्षिणी इज़रायल के किबुत्ज़ बेरी स्थित उनके घर से 7 अक्टूबर को उनका अपहरण कर लिया गया था, जबकि उनके पति को हमास ने मार डाला था.

IDF की पोस्ट के मुताबिक, “7 अक्टूबर को येहुदित को हमास ने किबुत्ज़ बेरी में उनके घर से अगवा कर लिया था… उनके पति श्मुलिक वीस की उनके घर में ही हत्या कर दी गई थी… येहुदित और श्मुलिक 5 बच्चों के माता-पिता थे… IDF सैनिकों ने उनका शव ग़ाज़ा स्थित शिफ़ा अस्पताल के पास एक इमारत से आज सुबह बरामद किया…”

इज़रायली सेना ने येहुदित वीस के शव के पास एके-47, आरपीजी और अन्य सैन्य उपकरण बरामद होने का भी दावा किया है.

इज़रायली अधिकारियों का दावा है कि येहुदित वीस उन 240 बंधकों में शामिल थीं, जिन्हें हमास ने पिछले महीने अपने शुरुआती हमले के दौरान अगवा कर बंधक बनाया था. दूसरी ओर, हमास ने दावा किया है कि इज़रायल द्वारा ग़ाज़ा पट्टी पर की जा रही लगातार बमबारी में ही उनके बंधक मारे जा रहे हैं.

यह भी पढ़ें :-  हमास ने इज़रायली महिला और दो बच्चों को छोड़ने का किया दावा

सैकड़ों इज़रायली सैनिक बुलडोज़रों के साथ गुरुवार को भी अल-शिफ़ा अस्पताल को घेरे रहे, और दावा किया कि उन्हें अस्पताल के कम्प्यूटरों पर बंधकों से जुड़े फुटेज मिले हैं. इज़रायली सेना काफ़ी अरसे से दावा करती आ रही है कि हमास ने अस्पताल के नीचे एक बेस और गुप्त सुरंग बना रखी है, जिसका इस्तेमाल गोला-बारूद को रखने के लिए किया जा रहा है.

अस्पताल के भीतर अपने ऑपरेशन के दौरान IDF ने ‘खुफ़िया इनपुट और हमास से जुड़े उपकरण’ बरामद होने का दावा किया है.

इस बीच, संयुक्त राष्ट्र (UN) के मुताबिक, अस्पताल में कम से कम 2,300 मरीज़, अस्पताल कर्मी और नागरिक मौजूद हैं, जिनमें 36 नवजात भी शामिल हैं. अस्पताल, जिसमें ईंधन खत्म हो गया था, का कहना है कि इज़रायली सैनिकों के परिसर में घुसने के बाद पानी, बिजली और ऑक्सीजन की सप्लाई कट गई थी. पिछले हफ़्ते ईंधन की कमी के चलते समय से पहले जन्मे तीन शिशुओं तथा कई ICU मरीज़ों की मौत हो चुकी है.

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button