देश

मुंबई के उस इलाके में चला बुलडोजर, जहां राम मंदिर शोभायात्रा के बाद हुई थी हिंसा

मीरा रोड इलाके में प्रशासन की ओर से बुलडोजर कार्रवाई की गई.

मुंबई:

मुंबई (Mumbai) के उपनगरीय इलाके मीरा रोड में प्रशासन की ओर से ‘अवैध’ निर्माणों को ध्‍वस्‍त किया गया. बड़ी संख्‍या में मौजूद पुलिसकर्मियों की मौजूदगी में इलाके में बुलडोजर की सहायता से कार्रवाई की गई. इस इलाके में अयोध्‍या के राम मंदिर में आयोजित प्राण प्रतिष्‍ठा समारोह के पहले और बाद में हिंसा देखी गई थी. मौके से सामने आए दृश्‍यों में रविवार शाम और सोमवार दोपहर को दो समूहों के लोगों को एक दूसरों पर पत्‍थर फेंकते देखा गया. 

यह भी पढ़ें

हिंसा उस वक्‍त भड़की जब मीरा रोड के नया नगर इलाके से श्री राम शोभा यात्रा गुजर रही थी. इस मामले में पुलिस ने सोमवार रात तक एक दर्जन से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया था.

महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस ने सोमवार रात को पोस्ट किया कि राज्य में “कानून-व्यवस्था को बाधित करने की कोशिश करने वाले किसी भी व्यक्ति” को बख्‍शा नहीं जाएगा. 

आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए : फड़णवीस

अपने सोशल मीडिया हैंडल पर उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने लिखा, ”मीरा-भायंदर के नया नगर इलाके में हुई घटना की पूरी जानकारी ली है. सोमवार सुबह 3.30 बजे तक मैं मीरा-भायंदर पुलिस कमिश्नर के साथ लगातार संपर्क में था. पुलिस को सभी आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं. इस मामले में अब तक 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर अन्य आरोपियों की पहचान की जा रही है. महाराष्ट्र में कानून व्यवस्था को बाधित करने की कोशिश करने वाले किसी भी व्यक्ति को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.”

यह भी पढ़ें :-  तेलंगाना कांग्रेस में मुख्यमंत्री पद के एक दर्जन उम्मीदवार: मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव का तंंज

रविवार रात 11 बजे शुरू हुई थी हिंसा : पुलिस 

पुलिस उपायुक्त जयंत बाजबाले ने बताया कि हिंसा रविवार रात 11 बजे शुरू हुई, “जब समुदाय के कुछ लोग तीन-चार वाहनों में नारे लगा रहे थे.”उन्‍होंने समाचार एजेंसी पीटीआई के हवाले से कहा, “कुछ ही देर बाद दोनों समुदाय के कुछ लोगों के बीच बहस शुरू हो गई. हालात बिगड़ते देख पुलिस की गाड़ी तुरंत मौके पर पहुंची और कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया.” बाजबले ने बाद में कहा कि स्थिति को नियंत्रण में ले लिया गया है और एक फ्लैग मार्च किया गया है. 

ये भी पढ़ें :

* Thane : दो समुदायों के बीच हुई झड़प को लेकर पुलिस ने 13 लोगों को किया अरेस्ट

* महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर बजाया ढोल

* “अयोध्या में रहने का मेरा सपना…”: मुंबई के राम मंदिर में दर्शन करने पहुंचे इजरायल के दूत

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button