देश

शराब घोटाले में CBI ने CM केजरीवाल से जेल में दो दिन की पूछताछ, AAP ने लगाया बड़ी साजिश का आरोप


नई दिल्ली:

सीबीआई ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Chief Minister Arvind Kejriwal) से दिल्ली शराब घोटाला मामले में सोमवार के बाद मंगलवार को भी पूछताछ की. सीबीआई (CBI) ने तिहाड़ जेल में अरविंद केजरीवाल से करीब डेढ़ घंटे तक पूछताछ की. अब उन्हें बुधवार को कोर्ट में पेश करने की तैयारी है.

केंद्रीय जांच ब्यूरो सीबीआई ने सोमवार को तिहाड़ जेल में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से पूछताछ की और आबकारी नीति मामले से संबंधित उनका बयान दर्ज किया. सीबीआई ने केजरीवाल को बुधवार को संबंधित ट्रायल कोर्ट में पेश करने की अनुमति भी हासिल कर ली है.

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने केंद्र सरकार पर अरविंद केजरीवाल के खिलाफ बड़ी साजिश करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल को सीबीआई के द्वारा फर्जी केस में गिरफ्तार करवाने का षडयंत्र रचा जा रहा है.

AAP नेता ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में केजरीवाल की जमानत पर सुनवाई से पहले, जमानत नहीं मिले इसके लिए भाजपा सरकार ने सीबीआई के साथ मिलकर साजिश रची है.

संजय सिंह ने कहा कि जुर्म, अत्याचार और ज्यादती की इंतहा हो चुकी है. सीबीआई फर्जी मुकदमा तैयार कर अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करने की कोशिश में लगी है. पूरा देश इसे देख रहा है, जनता केजरीवाल के साथ खड़ी है.

केजरीवाल को जेल में रखने के उद्देश्य से कार्रवाई- संजय सिंह

राज्यसभा सांसद ने कहा कि ऐसे झूठे मुकदमे लगाकर अरविंद केजरीवाल को जेल में रखने के उद्देश्य से, उनकी राजनीति को खत्म करने के उद्देश्य से और आम आदमी पार्टी को बर्बाद करने के उद्देश्य से ये कार्रवाईयां की जा रही हैं. हम सबको इसके खिलाफ मिलकर आवाज उठानी पड़ेगी.

यह भी पढ़ें :-  दिल्ली के RML अस्पताल में भ्रष्टाचार के मामले में CBI ने नौ लोगों को गिरफ्तार किया

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बेल मिलने के बाद उन्हें दो जून को फिर से अंतरिम जमानत खत्म होने के बाद तिहाड़ जेल जाना पड़ा था. इसके बाद से लगातार आम आदमी पार्टी विरोध प्रदर्शन करती आ रही है. मंगलवार को निचली अदालत के जमानत देने के फैसले पर हाईकोर्ट ने रोक लगा दी. अब सीबीआई के पूछताछ और कोर्ट में पेशी की अनुमति लेने के बाद अरविंद केजरीवाल के जेल से बाहर निकलने की उम्मीद कम ही नजर आ रही है.



Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button