देश

विस्तारा उड़ान रद्द होने व देरी पर दैनिक रूप से जानकारी दे : DGCA

चालक दल की अनुपलब्धता और अन्य परिचालन कारणों के कारण एयरलाइन द्वारा परिचालन कम करने की घोषणा के एक दिन बाद यह बात सामने आई है.

डीजीसीए ने मंगलवार को बयान में कहा कि विस्तारा की विभिन्न उड़ान बाधाओं के मद्देनजर उसने एयरलाइन को रद्द की जा रही और विलंबित उड़ानों की दैनिक जानकारी तथा विवरण देने को कहा है.

डीजीसीए के अधिकारी उड़ान रद्द होने और देरी की स्थिति में यात्रियों को सुविधाएं प्रदान करने के लिए जरूरी आवश्यकताओं का अनुपालन सुनिश्चित करने को स्थिति की निगरानी कर रहे हैं. नियामक ने कहा, यह यात्रियों की असुविधा को कम करने के लिए है.

नागर विमानन मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि वह विस्तारा की उड़ानें रद्द होने की स्थिति पर नजर रख रहा है.

मंत्रालय ने मंगलवार को सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर लिखा, ‘‘उड़ान संचालन का प्रबंधन एयरलाइन द्वारा स्वयं किया जाता है, लेकिन उड़ानों के रद्द होने या देरी की स्थिति में यात्रियों की सुविधा सुनिश्चित करने के लिए एयरलाइन को डीजीसीए मानदंडों का पालन करना होगा.” कई यात्रियों ने सोशल मीडिया मंचों पर विमान सेवाओं में विलंब और उनके रद्द होने की शिकायत की है.

विस्तारा की एयर इंडिया के साथ विलय की प्रक्रिया जारी है. विस्तारा और एयर इंडिया के पायलट के बीच समानता लाने वाले नए अनुबंध मौजूदा विलय प्रक्रिया के हिस्से के रूप में पेश किए गए हैं. विस्तारा, टाटा समूह और सिंगापुर एयरलाइंस का संयुक्त उद्यम है.

विस्तारा के ए320 बेड़े के कई प्रथम अधिकारी पिछले कुछ सप्ताह में बीमार होने की सूचना दे रहे हैं. केवल सोमवार को करीब 50 उड़ानें रद्द कर दी गईं और कई में देरी हुई क्योंकि उड़ानें संचालित करने के लिए पर्याप्त पायलट नहीं थे.

यह भी पढ़ें :-  क्या 19 अप्रैल को होने वाला है लोकसभा चुनाव? जानें इस खबर पर चुनाव आयोग ने क्या कहा
सूत्रों ने बताया कि अब ए320 बेड़े के कुछ कमांडर भी बीमार होने की सूचना दे रहे हैं.

विस्तारा के पास 70 विमानों का बेड़ा है जिसमें ए320 बेड़े के 63 विमान और बोइंग 787 के सात बड़े आकार शामिल हैं. 31 मार्च से शुरू हुए ग्रीष्मकालीन कार्यक्रम के अनुसार एयरलाइन को प्रतिदिन 300 से अधिक उड़ानें संचालित करनी हैं.

विस्तारा ने सोमवार को बयान में कहा था, पिछले कुछ दिनों में चालक दल की अनुपलब्धता सहित विभिन्न कारणों से बड़ी संख्या में उड़ानें रद्द की गईं या उनमें देरी हुई है.

एयरलाइन ने व्यवधानों के लिए माफी भी मांगी और कहा था, ‘‘ हमने अपने नेटवर्क में पर्याप्त संपर्क सुनिश्चित करने के लिए अपनी संचालित उड़ानों की संख्या को अस्थायी रूप से कम करने का फैसला किया है.”

एयरलाइन ने अपने नेटवर्क में पर्याप्त संपर्क सुनिश्चित करने के लिए अपनी संचालित उड़ानों की संख्या को अस्थायी रूप से कम करने का भी निर्णय लिया है.

इसके अलावा, एयरलाइन ने जहां भी संभव हो, उड़ानों को संयोजित करने या अधिक ग्राहकों को समायोजित करने के लिए चुनिंदा घरेलू मार्गों पर बी787-9 ड्रीमलाइनर और ए321 नियो जैसे बड़े विमान तैनात किए हैं.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को The Hindkeshariटीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button