देश

अरविंद केजरीवाल के घर पहुंची ED की टीम, CM आवास के बाहर धारा-144, बढ़ाई गई सुरक्षा

नई दिल्ली:

आबकारी नीति से जुड़े धन शोधन मामले के सिलसिले में प्रर्वतन निदेशालय (ईडी) अधिकारियों के यहां मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर पहुंचने के मद्देनजर सिविल लाइन्स इलाके में बृहस्पतिवार की शाम सुरक्षा बढ़ा दी गई. दिल्ली पुलिस के कर्मियों के साथ वहां द्रुत कार्य बल (आरएएफ) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की इकाइयों को तैनात किया गया है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास के बाहर धारा-144, बढ़ाई गई सुरक्षा

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया, ‘‘उनके आवास के निकट आप (आम आदमी पार्टी) के कार्यकर्ताओं के एकत्र होने की आशंका के चलते यह तैनाती की गई है.”

यह भी पढ़ें

सूत्रों ने बताया कि ईडी ने संभावित प्रदर्शनों के मद्देनजर अतिरिक्त सुरक्षा उपायों का अनुरोध किया था, जिसके बाद यह कदम उठाया गया.

इसे भी पढ़ें- दिल्ली शराब नीति केस में कैसे आया CM केजरीवाल का नाम? ED ने लगाए कौन से आरोप

उन्होंने बताया कि आरएएफ और सीआरपीएफ की इकाइयों को ईडी के छापे के बाद केजरीवाल के आवास के आसपास दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त कर्मियों के साथ तैनात किया गया है.

इसे भी पढ़ें- केजरीवाल से पूछताछ कर रही ED, फोन किए जब्त, घर के बाहर बढ़ाई गई सुरक्षा

अधिकारियों ने बताया कि उत्तरी दिल्ली के सिविल लाइन्स स्थित मुख्यमंत्री अवास को जाने वाली सड़क पर अवरोधक लगा दिये गए हैं और अतिरिक्त पुलिस कर्मियों को वहां तैनात किया गया है.

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री आवास के नजदीक सहायक पुलिस आयुक्त रैंक के अधिकारियों को भी तैनात किया गया है.

ईडी के अधिकारियों के अनुसार, एजेंसी की एक टीम बृहस्पतिवार शाम मुख्यमंत्री केजरीवाल के आवास पर पहुंची. उच्च न्यायालय द्वारा केजरीवाल को आबकारी नीति से जुड़े धन शोधन मामले में दंडात्मक कार्रवाई से राहत प्रदान करने से इनकार किये जाने के ठीक बाद ईडी की टीम उनके आवास पर पहुंची. अधिकारियों ने कहा कि एजेंसी के अधिकारी मामले में समन देने के लिए केजरीवाल के आवास पर गए.

 

यह भी पढ़ें :-  "दो हफ्ते में ED जवाब करे दाखिल...": CM केजरीवाल के समन को चुनौती देने वाली याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को The Hindkeshariटीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button