दुनिया

Explainer: जानें हथियारों के मामले में इजराइल के मुकाबले हमास की कितनी है ताकत?

नई दिल्ली:

Israel Palestine Conflict: शनिवार को हुए बड़े रॉकेट हमले के बाद जवाबी कार्रवाई में इजरायली सेना गाजा पट्टी में हमास के ठिकानों पर हमला कर रही है. कल से शुरू हुए युद्ध में 600 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. हमास और इजरायली सशस्त्र बलों (Israeli Armed Forces) की सैन्य ताकत की सीधी तुलना संभव नहीं है क्योंकि हमास एक आतंकवादी संगठन है और वो परंपरागत लड़ाई लड़ रहा है.  हालांकि लंबी दूरी के रॉकेटों के अलावा ड्रोन और ग्लाइडर जैसी अपेक्षाकृत नई हथियार प्रणालियों का दिलचस्प उपयोग आतंकवादी अभियानों के एक अलग और अधिक उन्नत रूप की ओर इशारा कर रहा है.

यह भी पढ़ें

हमास के पास कौन-कौन से हैं हथियार?

हमास द्वारा किए गए अभूतपूर्व आतंकी हमले एक पूर्ण सैन्य शैली की कार्रवाई की तरह थी. इस कार्रवाई में नए युद्ध-लड़ने वाले उपकरण शामिल थे. वीडियो में देखा गया है कि हमास सुरक्षा चौकियों को दरकिनार कर आतंकवादियों को इजरायली क्षेत्र में ले जाने के लिए ग्लाइडर का उपयोग कर रहा है. 

Latest and Breaking News on NDTV

इजरायल के सबसे सुरक्षित टैंक मर्कवा IV को खत्म करने के लिए हमास द्वारा पहली बार सशस्त्र ड्रोन का इस्तेमाल किया गया है. जबकि हमास के लिए रॉकेटों का उपयोग असामान्य नहीं है, तथ्य यह है कि कुछ रॉकेटों की मारक क्षमता 70 किमी से अधिक दूर तेल अवीव तक है, जो अपेक्षाकृत उन्नत तकनीक की तरफ इशारा करता है. 

हमास के आतंकियों ने समुद्री मार्ग से इज़राइल में प्रवेश करने का भी प्रयास किया; इनमें से कई नौकाओं को इजरायली बलों ने रोक लिया था.  इन सभी हथियार प्रणालियों का उपयोग हमास के अल-क़सम ब्रिगेड, सैन्य बटालियनों के हिस्से के रूप में किया गया है जो आतंकवादी अभियानों को अंजाम देते हैं. इस बार के हमले में हमास ने एक बार फिर बंधक बनाने और नागरिकों को मानव ढाल के रूप में इस्तेमाल किया है. 

Latest and Breaking News on NDTV

इजराइल की सेना की कितनी है ताकत? 

यह भी पढ़ें :-  IDF की तरफ से आम नागरिकों को दी गई समय सीमा खत्म, सेना को गाजा पर हमले के लिए आदेश का इंतजार

इजराइल, हालांकि दुनिया भर में अपने खुफिया तंत्र के लिए प्रसिद्ध है, लेकिन अब उसे बड़े सैन्य संघर्ष की स्थिति में अपनी पारंपरिक सैन्य ताकत पर बहुत अधिक निर्भर रहना होगा. इजरायली वायु सेना, जो दुनिया में तकनीकी रूप से सबसे उन्नत में से एक है, के पास ये हथियार प्रणालियां हैं. 

  • F-35 स्टील्थ फाइटर जेट
  • स्मार्ट बमों की एक विस्तृत श्रृंखला इजराइल के पास है जो न्यूनतम क्षति के साथ लक्ष्य पर हमला करती है. 
  • इजराइल के पास संचालन की एक अत्यधिक नेटवर्क-केंद्रित प्रणाली है. जो लक्ष्य का पता लगाने और संलग्न करने के लिए कई स्तरों पर सेंसर का उपयोग करता है. 
  • इजराइल के पास लगभग 500 मर्कवा टैंक भी है.
  • आने वाली मिसाइलों या नौसैनिक ड्रोनों के खतरों से निपटने के लिए त्वरित प्रतिक्रिया प्रणाली वाली मिसाइल नावें भी इजराइल के पास है. 
  • इज़राइल एक परमाणु शक्ति भी है, हालांकि यह एक ऐसी क्षमता है जो हमास के साथ लड़ाई के संदर्भ में प्रासंगिक नहीं हो सकती है. लेकिन अगर संघर्ष उसकी सीमाओं के पार पहुंचता है तो यह नि:संदेह इजराइल के काम आएगा. 

ये भी पढ़ें- 

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button