देश

"हम जीतेंगे, आपको यह लिखकर दूंगा" : अनंतनाग-राजौरी सीट को लेकर फारुक अब्दुल्ला का दावा

पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस दोनों विपक्षी दलों के गठबंधन ‘इंडिया’ के घटक हैं. महबूबा की टिप्पणी के बारे में पूछे जाने पर अब्दुल्ला ने कहा, ‘‘मैं पीडीपी का मालिक नहीं हूं. कृपया उनसे सवाल करें.” 

डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव आजाद पार्टी के प्रमुख गुलाम नबी आजाद के अनंतनाग-राजौरी से चुनाव लड़ने के फैसले से नेशनल कॉन्फ्रेंस पर संभावित असर को लेकर पूछे जाने पर अब्दुल्ला ने कहा, ‘‘इंशाल्लाह, हम जीतेंगे. मैं आपको यह लिखकर दूंगा.” अब्दुल्ला ने बुधवार को रामबन जिले में नेशनल कॉन्फ्रेंस कार्यकर्ताओं की एक बैठक की अध्यक्षता की.

लोकसभा चुनाव को भारत के संविधान और एकता की रक्षा के लिए ‘सामूहिक लड़ाई’ बताते हुए अब्दुल्ला ने कहा, ‘‘एक तरफ, वे (भाजपा) भारत के संविधान को खत्म करना चाहते हैं. दूसरी तरफ, वे लोग हैं जिन्होंने संविधान को बचाने के लिए अपना जीवन दांव पर लगा दिया है. यह भारत को बचाने की हमारी सामूहिक लड़ाई है.”

अब्दुल्ला ने 1987 के जम्मू-कश्मीर विधानसभा चुनावों में कथित धांधली में भूमिका के लिए प्राथमिकी दर्ज करने की मांग को लेकर पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के प्रमुख सज्जाद गनी लोन की टिप्पणी को महत्व नहीं देते हुए कहा कि ‘‘उन्हें जो ठीक लगे वह करना चाहिए.”

लोन ने बुधवार को कहा था कि चुनावों में कथित धांधली को लेकर अब्दुल्ला की भूमिका के लिए उनके और अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया जाना कश्मीरियों के प्रति विश्वास बहाली का सबसे बड़ा उपाय होगा.

लोन ने उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में संवाददाताओं से कहा, ‘‘जहां तक 1987 का सवाल है, मेरा दृढ़ विश्वास है कि आज भी, कश्मीरियों के प्रति विश्वास बहाली का सबसे बड़ा उपाय एक प्राथमिकी होगी, जिसमें फारुक अब्दुल्ला, कांग्रेस नेताओं और नौकरशाहों को चुनाव में धांधली के लिए नामजद किया जाए.”

यह भी पढ़ें :-  वोटिंग ट्रेंड बदलने से सरकार रिपीट या डिफिट? देखें- पिछले 12 चुनावों का Analysis

अब्दुल्ला ने लोन की टिप्पणी को लेकर एक सवाल पर कहा, ‘‘मैं समझ रहा हूं कि आप क्या कह रहे हैं. मैंने यह सुना है. लोन साहब को जो ठीक लगे वह कर सकते हैं.”

(इस खबर को The Hindkeshariटीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button