देश

रवि किशन को अपनी बेटी का पिता बताने वाली महिला समेत 6 पर एफआईआर दर्ज

पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है.

गोरखपुर से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद रवि किशन शुक्ला को अपनी बेटी का पिता बताने वाली महिला, उसकी पुत्री समेत छह लोगों के खिलाफ जबरन वसूली तथा अन्य कई गंभीर आरोपों में लखनऊ के हजरतगंज कोतवाली थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है. पुलिस सूत्रों ने दर्ज प्राथमिकी के हवाले से बुधवार को बताया कि रवि किशन की पत्नी प्रीति शुक्ला की तहरीर पर यह मुकदमा मंगलवार देर रात दर्ज किया गया. मुकदमे में रवि किशन को अपनी बेटी का पिता बताने वाली महिला अपर्णा ठाकुर, उसके पति राजेश सोनी, बेटी शेनोवा सोनी, बेटे सौनक सोनी, सपा नेता विवेक कुमार पांडे और खुर्शीद खान नामक एक कथित पत्रकार को आरोपी बनाया गया है.

यह भी पढ़ें

सूत्रों के मुताबिक इस मामले में आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 120-ब (साजिश रचने), 195 (किसी को सात साल या उससे अधिक की सजा कराने के लिए झूठे साक्ष्य प्रस्तुत करना), 386 (डरा कर जबरन वसूली करना), 388 (दंडनीय अपराध का आरोप लगाने की धमकी देकर वसूली करना), 504 (शांति भंग करने के मकसद से जानबूझकर अपमान करना) और 506 (आपराधिक धमकी देना) के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है. प्रीति ने तहरीर में आरोप लगाया है कि अपर्णा सोनी उर्फ अपर्णा ठाकुर ने उन्हें धमकी देते हुए कहा था कि उसके अंडरवर्ल्ड माफिया से संबंध हैं. उसने 20 करोड रुपये की रंगदारी मांगी थी और धमकी दी थी कि अगर मांग नहीं मानी गई तो वह रवि किशन को बलात्कार के झूठे मुकदमे में फंसा कर उनकी छवि धूमिल कर देगी.

यह भी पढ़ें :-  उन्नाव में गंगा नदी में नहाने गए चार बच्चों की डूबने से मौत

तहरीर के मुताबिक इस मामले की मुंबई में पुलिस से शिकायत की गई थी लेकिन इसके बावजूद अपर्णा नहीं मानी और 15 अप्रैल को लखनऊ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उनके पति रवि किशन पर मनगढ़ंत आरोप लगाते हुए उन्हें अपनी बेटी का पिता बताया. तहरीर के मुताबिक इस पूरे षडयंत्र में अपर्णा, उसके पति राजेश, बेटी शेनोवा और बेटे सौनक के साथ-साथ सपानेता विवेक कुमार पांडे और खुर्शीद खान नामक पत्रकार भी शामिल है. पुलिस ने इन सभी आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. गौरतलब है कि अपर्णा ने गत सोमवार को लखनऊ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रवि किशन को अपनी बेटी का पिता बताते हुए आरोप लगाया था कि वह बेटी को सामाजिक और सार्वजनिक तौर पर ‘स्वीकार’ नहीं कर रहे हैं.

अपर्णा ने चेतावनी दी थी कि वह इस मामले में अदालत का दरवाजा खटखटाएगी. उसने से मुख्यमंत्री से भी बेटी को न्याय दिलाने का गुहार लगाई थी. महिला ने कहा, ‘‘मेरी बिटिया रवि किशन की पुत्री है और उसे उसका अधिकार व हक मिले. मेरी यह मांग है कि बेटी को या तो वह ‘एडाप्ट’ करें, या उसे उसका कानूनी अधिकार दें और इसके अलावा मेरी कुछ भी मांग नहीं है.” पत्रकारों के सवाल के जवाब में अपर्णा ने कहा था कि रवि किशन जब सामने होते हैं तो उसके साथ अपने रिश्ते को स्वीकार करते हैं लेकिन सार्वजनिक तौर पर बेटी को स्वीकार नहीं कर रहे. महिला ने दावा करते हुए कहा था, ‘मेरी उनसे शादी हुई है. मैं उनकी धर्मपत्नी हूं. दोस्तों और परिवार के सामने उन्होंने सिंदूर लगाया और मंगलसूत्र पहनाया.” लोकसभा चुनाव में भाजपा ने रवि किशन को पुन: गोरखपुर से अपना उम्मीदवार घोषित किया है.

यह भी पढ़ें :-  बारामती सीट पर बहन सुप्रिया सुले के खिलाफ अजित पवार ने बजाया चुनावी बिगुल

ये भी पढ़ें : तेलंगाना में गर्मी का सितम, 44 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंचा पारा; जानें देश के बाकी हिस्सों का हाल

ये भी पढ़ें : अजित पवार अपने बयान की वजह से मुश्किल में घिरे, विपक्ष ने की कार्रवाई की मांग

(इस खबर को The Hindkeshariटीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button