देश

पराली जलाने पर दिल्ली में किसान पर पहली FIR दर्ज, प्रदूषण फैलाने का आरोप 

दिल्ली सरकार ने शहर में बढ़ते वायु प्रदूषण (Delhi Air Pollution) के बीच पराली जलाने (Stubble Burning) पर रोक लगा दी है. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • दिल्ली में प्रदूष फैलाने के आरोप में किसान के खिलाफ केस दर्ज
  • किसान द्वारा खेत में पराली जलाने के चलते पूरे गांव में फैला धुआं
  • दिल्ली सरकार ने बढ़ते वायु प्रदूषण को लेकर पराली जलाने पर लगाई रोक

नई दिल्ली:

दिल्ली में प्रदूषण (Delhi Pollution) फैलाने के आरोप में कार्रवाई करते हुए एक किसान पर एफआईआर दर्ज की है. छावला थाने में दर्ज एफआईआर के मुताबिक, 9 नवम्बर की देर रात किसान ने अपने खेत में पराली जलाई (Stubble Burning) थी.  जिसकी सूचना मिलने पर छावला थाना पुलिस खेत में पहुंची थी. फिलहाल पुलिस ने किसान के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है.

यह भी पढ़ें

पुलिस को खेत में आग लगने की मिली सूचना

पुलिस के मुताबिक, 68 साल का ओमप्रकाश अपने परिवार के साथ झटीकरा गांव में रहता है. झटीकरा गांव के पास ही उसके खेत हैं. 9 नवम्बर की रात को पुलिस को सूचना मिली थी कि एक खेत में आग लगी हुई है. इस सूचना के आधार पर छावला थाना पुलिस की टीम खेत में पहुंची तो पता चला कि खेत में पराली जलाई जा रही है.

पराली जलाने के चलते पूरे गांव में फैला धुआं

यहां पहुंचने के बाद पुलिस ने खेत के मालिक की जानकारी निकाली और उसे खेत में आने के लिए कहा. जिसके बाद ओमप्रकाश खेत में पहुंचा. उसने पुलिस को बताया कि उसके खेतों में फसल लगी थी, जिसकी कटाई के बाद खेत में पराली जली हुई थी. उसे खत्म करने के लिए ओमप्रकाश ने पराली में आग लगी दी. जिसके चलते पूरे गांव में धुआं फैल गया था.

यह भी पढ़ें :-  सभी नागरिकों को धार्मिक आजादी की गारंटी देता है हमारा संविधान : CAA को लेकर अमेरिका के बयान पर भारत

पुलिस ने बताया कि जब तक हमारा स्टाफ मौके पर पहुंचा, तब तक पराली जल चुकी थी. आग बुझाने के लिए दमकल गाड़ी को मौके पर बुलाया गया.

पूछताछ के बाद किसान के खिलाफ मामला दर्ज

इसके साथ ही पुलिस ने पूछताछ के बाद ओम प्रकाश नामक किसान के खिलाफ वायु (प्रदूषण निवारण और नियंत्रण) अधिनियम और आईपीसी की धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया है. बता दें कि दिल्ली सरकार ने शहर में बढ़ते वायु प्रदूषण (Air Pollution) के बीच पराली जलाने पर रोक लगा दी है.

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button