दुनिया

सिडनी मॉल में चाकूबाज से मुकाबला करने वाले फ्रांसीसी व्यक्ति को ऑस्ट्रेलियाई नागरिकता की पेशकश

सिडनी मॉल में हमलावर का मुकाबला करने वाले फ्रांसीसी नागरिक की तारीफ.

नई दिल्ली:

ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में पिछले दिनों एक मॉल में चाकू मारकर कई लोगों की हत्या कर दी गई थी. इस दौरान सिडनी घूमने पहुंचे एक फ्रांसीसी व्यक्ति ने बहादुरी दिखाते हुए हमलावर का बचाव किया था. ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री (Australia’s Prime Minister) ने मंगलवार को सुझाव दिया कि बोलार्ड का उपयोग करके हमलावर का बचाव करने वाले फ्रांसीसी व्यक्ति को नागरिकता की पेशकश की जा सकती है. फ्रांसीसी डेमियन गुएरोट को “बोल्लार्ड मैन” और शनिवार के हमले का “हीरो” करार दिया गया है. इस घटना में छह लोग मारे गए और एक दर्जन से ज्यादा लोग घायल हुए थे.

यह भी पढ़ें

प्रधानमंत्री एंथनी अल्बानीज़ ने मंगलवार को गुएरोट की तारीफ करते हुए एस्केलेटर पर जोएल कॉची का सामना करने और हमलावर को ज्यादा पीड़ितों तक पहुंचने से रोकने में उनकी “असाधारण बहादुरी” के लिए उन्हें धन्यवाद दिया. अल्बानीज़ ने कहा, “वीजा आवेदन देने वाले डेमियन गुएरोट का यहां स्वागत है, जब तक आप चाहें तब तक यहां रहने के लिए आपका स्वागत है.” 

“फ्रांसीसी नागरिक का ऑस्ट्रेलिया में स्वागत”

ऑस्ट्रेलियाई पीएम ने कहा, “यह वह व्यक्ति है जिसका ऑस्ट्रेलियाई नागरिक बनने पर हम स्वागत करेंगे, हालांकि यह निश्चित रूप से फ्रांस के लिए नुकसान होगा. हम उनकी असाधारण बहादुरी के लिए उन्हें धन्यवाद देते हैं.” अल्बानीज़ ने कहा, “इससे इंसानियत का पता चलता है, जब हम कठिनाइयों का सामने कर रहे थे. जो व्यक्ति इस देश का नागरिक नहीं है, एस्केलेटर पर बहादुरी से खड़ा रहा और अपराधी को दूसरी मंजिल पर जाने और संभावित रूप से  नागरिकों पर हमला करने से रोका.” 

यह भी पढ़ें :-  पाकिस्तान के मिसाइल हमले में तीन महिलाओं समेत सात की हुई मौत - ईरान स्टेट मीडिया

सिडनी मॉल में चाकूबाजी की घटना में 6 की मौत

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में शनिवार को एक शॉपिंग सेंटर (Sydney Mall Stabbings) में पांच लोगों की चाकू मारकर हत्या कर दी गई. इसके बाद हमलावर को पुलिस ने गोली मार दी थी. दिल दहला देने वाली ये घटनाएं वेस्टफील्ड बॉन्डी जंक्शन मॉल परिसर में घटीं. शनिवार को हुए इस हमले से आस्ट्रेलियाई लोग सदमे में हैं. इस हिंसक घटना के दौरान पांच महिलाएं और एक पाकिस्तानी सुरक्षा गार्ड की मौत हो गई.

पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि मानसिक रूप से बीमार काउची ने विशेष रूप से महिलाओं को निशाना बनाया था. वहीं पुलिस ने एक हमलावर की गोली मारकर हत्या कर दी थी. पीएम अल्बानीज़ ने कहा, “मुझे लगता है कि शनिवार को हमने कुछ बेहतरीन मानवीय चरित्र देखे और साथ ही ऐसी विनाशकारी त्रासदी भी देखी.”

ये भी पढ़ें-सिडनी में हमलावर से कैसे बचा भारतीय मूल का जोड़ा, बताई आपबीती

ये भी पढ़ें-“सिडनी हमलावर को मारा नहीं जाता तो वह रुकता नहीं, हत्या कर उसे आ रहा था मजा” : प्रत्यक्षदर्शियों ने बयां किया खौफनाक मंजर

(इस खबर को The Hindkeshariटीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button