देश

पेटीएम पेमेंट्स सर्विसेज में चीन से FDI प्रवाह की जांच कर रही है सरकार

सूत्रों ने कहा कि एक अंतर-मंत्रालयी समिति पीपीएसएल में चीन से निवेश की जांच कर रही है.

खास बातें

  • सरकार PPSL में चीन से प्रत्यक्ष विदेशी निवेश की जांच कर रही है
  • सूत्रों ने कहा कि एक अंतर-मंत्रालयी समिति यह जांच कर रही है
  • उचित विचार और जांच के बाद एफडीआई मुद्दे पर निर्णय लिया जाएगा

नई दिल्‍ली :

सरकार वन97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड की सहायक कंपनी पेटीएम पेमेंट्स सर्विसेज लिमिटेड (Paytm Payments Services Limited) में चीन (China) से प्रत्यक्ष विदेशी निवेश की जांच कर रही है. पीपीएसएल ने नवंबर 2020 में भुगतान एग्रीगेटर के रूप में काम करने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के पास लाइसेंस के लिए आवेदन किया था. आरबीआई ने हालांकि नवंबर 2022 में पीपीएसएल के आवेदन को खारिज कर दिया और कंपनी को इसे फिर से जमा करने के लिए कहा, ताकि एफडीआई नियमों के तहत प्रेस नोट तीन का अनुपालन किया जा सके. वन97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड (ओसीएल) में चीनी फर्म एंट ग्रुप कंपनी का निवेश है. इसके बाद, कंपनी ने एफडीआई दिशानिर्देशों के तहत निर्धारित प्रेस नोट तीन का अनुपालन करने के लिए ओसीएल से कंपनी में पिछले निवेश के लिए भारत सरकार के साथ 14 दिसंबर, 2022 को आवश्यक आवेदन दायर किया.

यह भी पढ़ें

सूत्रों ने कहा कि एक अंतर-मंत्रालयी समिति पीपीएसएल में चीन से निवेश की जांच कर रही है और उचित विचार तथा व्यापक जांच के बाद एफडीआई मुद्दे पर निर्णय लिया जाएगा.

प्रेस नोट तीन के तहत, सरकार ने भारत के साथ भूमि सीमा साझा करने वाले देशों से किसी भी क्षेत्र में विदेशी निवेश से पहले उसकी मंजूरी लेना अनिवार्य कर दिया था.

यह भी पढ़ें :-  'कुछ नेता फायदे के लिए महिलाओं को अपमानित करते हैं '... राहुल गांधी पर भड़कीं सोना मोहापात्र

इस कदम का मकसद कोविड-19 महामारी के बाद घरेलू कंपनियों के अवसरवादी अधिग्रहण को रोकना था.

पेटीएम के प्रवक्ता ने संपर्क करने पर कहा कि पीपीएसएल ने ऑनलाइन व्यापारियों के लिए एक ऑनलाइन भुगतान एग्रीगेटर (पीए) का आवेदन किया था. नियामक ने बाद में पीपीएसएल को पिछले निवेश के लिए आवश्यक मंजूरी लेने और आवेदन को फिर से जमा करने को कहा था.

प्रवक्ता ने कहा, ”भुगतान एग्रीगेटर लाइसेंस के लिए आवेदन करने वाले हर व्यक्ति को एफडीआई मंजूरी लेनी होती है, और यह नियमित प्रक्रिया का हिस्सा है.”

प्रवक्ता ने कहा कि पीपीएसएल ने प्रासंगिक दिशानिर्देशों का पालन किया और निर्धारित समय के भीतर सभी जरूरी दस्तावेज नियामक को सौंप दिए.

ये भी पढ़ें :

* पेटीएम मामले से देश में डिजिटल पेमेंट पर लोगों का विश्वास नहीं होगा कम : CAIT

* Paytm की बढ़ी मुश्किलें, RBI के बाद अब EPFO ने भी ट्रांजेक्शन पर लगाई रोक, जानें क्या होगा असर

* जरूरी खबर… 29 फरवरी के बाद भी Paytm App नहीं होगा बंद, RBI ने दिया ये बड़ा अपडेट

(इस खबर को The Hindkeshariटीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button