दुनिया

हमास ने अपने बंधक का वीडियो किया जारी : म्यूज़िक फ़ेस्ट से अगवा ज़ख्मी इज़रायली युवती का हो रहा इलाज

हमास की मिलिटरी विंग ‘इज़ अद-दीन अल-क़सम’ ब्रिगेड ने सोमवार को युवती का वीडियो जारी किया, जिसने अपनी पहचान 21-वर्षीय मिया स्केम बताई है. वीडियो में महिला की बांह पट्टियों में लिपटी नज़र आ रही है.

वीडियो में युवती कह रही है कि वह ग़ाज़ा की सरहद के नज़दीक इज़रायली शहर ज़ेड्रॉट से है. हमले के दिन वह किबुत्ज़ रीम में सुपरनोवा सुकोट म्यूज़िक फ़ेस्टिवल में शामिल थी, जब हमास के लड़ाकों ने हमला किया. म्यूज़िक फ़ेस्टिवल पर हुए हमले में कम से कम 260 लोग मारे गए थे और मिया समेत बहुतों को बंधक बनाया गया था.

एक मिनट से कुछ ज़्यादा लम्बे वीडियो में एक नर्स को मिया की चोट की ड्रेसिंग करते देखा जा सकता है. इज़रायली युवती का कहना है कि उसकी चोट के इलाज के लिए तीन घंटे का ऑपरेशन (सर्जरी) किया गया.

मिया ने कहा, “वे मेरी देखभाल कर रहे हैं, इलाज कर रहे हैं, दवा दे रहे हैं… सब कुछ ठीक है… मैं जल्द से जल्द अपने परिवार, माता-पिता, भाई-बहनों के पास घर लौटना चाहती हूं… कृपया हमें जितनी जल्दी हो सके, यहां से बाहर निकालें…”

इज़राइल की रक्षा सेना (IDF) ने पिछले सप्ताह मिया के अगवा किए जाने की पुष्टि की है. IDF ने बताया कि अधिकारी मिया के परिवार तक पहुंच गए हैं और उनके संपर्क में हैं.

माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट X (अतीत में ट्विटर) पर IDF ने एक पोस्ट में कहा, “जारी किए गए वीडियो में हमास खुद को मानवीय दिखाने की कोशिश कर रहा है, हालांकि वे भयानक आतंकवादी संगठन हैं, जो नवजातों, बच्चों, पुरुषों, महिलाओं और बुज़ुर्गों की हत्या और अगवा के लिए ज़िम्मेदार हैं…”

यह भी पढ़ें :-  Israel Palestine Conflict: हमास के ड्रोन ने कैसे इजरायल के लाखों डॉलर के हार्डवेयर को किया तबाह

IDF के मुताबिक, “इस वक्त हम मिया समेत सभी बंधकों की वापसी के लिए सभी खुफिया और ऑपरेशनल तरकीबें अपना रहे हैं…”

‘द टाइम्स ऑफ इज़रायल’ की एक ख़बर के मुताबिक, मिया के परिवार ने वीडियो क्लिप देखकर प्रतिक्रिया में कहा है कि वे उसे सुरक्षित देखकर खुश हैं.

मिया के पास इज़रायली-फ्रांसीसी दोहरी नागरिकता है. समाचार एजेंसी रॉयटर के अनुसार, मिया का परिवार उन फ्रांसीसी परिवारों में शामिल था, जिन्होंने पिछले सप्ताह फ्रांसीसी राष्ट्रपति एमानुएल मैकरॉन से अपने रिश्तेदारों को आज़ाद कराने में मदद की अपील की थी.

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button