दुनिया

"हाथ ट्रिगर पर हैं": गाजा हमले पर ईरान ने इजरायल को दी चेतावनी

नई दिल्ली:

हमास के हमले से गुस्साए इजरायल ने गाजा (Israel Gaza War) से बदला लेने की ठान ली है. यही वजह है कि जवाबी एक्शन गाजा पट्टी पर साफ दिखाई दे रहा है. युद्ध विराम होना तो दूर इजरायल गाजा पर संभावित जमीनी आक्रमण की तैयारी कर रहा है. इस खबर के सामने आने के बाद ईरान की तरफ से इजरायल को सख्त चेतावनी देते हुए फिलिस्तीनियों के खिलाफ आक्रमकता को तुरंत खत्म करने का आह्वान किया गया है. सिर्फ इतना ही नहीं इजरायल को अटूट समर्थन देने के लिए ईरान ने अमेरिका की भी आलोचना की है. 

यह भी पढ़ें

ये भी पढ़ें-डेडलाइन ओवर, इजरायल के आक्रमण की तैयारी के बीच 10 लाख लोगों ने छोड़ा उत्‍तरी गाज़ा क्षेत्र | Updates

‘क्षेत्र के सभी दलों के हाथ ट्रिगर पर’

न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के हवाले से ईरानी विदेश मंत्री होसैन अमीराबदोल्लाहियान ने कहा है कि अगर यहूदियों की आक्रमकता नहीं रुकी तो क्षेत्र के सभी दलों के हाथ ट्रिगर पर हैं. बता दें कि इजरायल की तरफ से गाजा पर लगातार हो रही बमबारी में 700 से ज्यादा बच्चों समेत 2,670 से अधिक लोगों की जान चली गई है. इज़रायल ने गाजा पट्टी वाले इलाके में पानी, बिजली और खाना में कटौती कर दी है. हालांकि रविवार को दक्षिणी क्षेत्र में पानी बहाल कर दिया गया है. 

‘गाजा में बर्बर हमलों को रोकने की जरूरत’

ईरानी विदेश मंत्रालय के एक बयान के मुताबिक, अमीरबदोल्लाहियान ने कहा कि कोई भी हालात पर नियंत्रण और संघर्षों के विस्तार की गारंटी नहीं दे सकता.उन्होंने कहा कि जो लोग युद्ध और संकट के दायरे को बढ़ने से रोकने में रुचि रखते हैं, उन्हें गाजा में नागरिकों के खिलाफ हो रहे बर्बर हमलों को रोकने की जरूरत है. वहीं अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन ने इजरायल में युद्ध बढ़ने की संभावना और इजरायल के लंबे समय से प्रतिद्वंद्वी और हमास समर्थक ईरान के सीधे तौर पर शामिल होने की संभावना पर चिंता जताई.

यह भी पढ़ें :-  "व्लादिमीर पुतिन पूरी तरह फिट" : रूस ने उनके स्वास्थ्य को लेकर अटकलों को किया खारिज

इजरायल ने उत्तरी सीमा पर भेजे सैनिक-टैंकर

इज़रायल ने लेबनान के साथ अपनी उत्तरी सीमा पर सैनिकों और टैंकों को भेजा है, जिस पर संयुक्त राष्ट्र द्वारा गश्त की जाती है. ईरान समर्थित हिजबुल्लाह संगठन के साथ बॉर्डर पर घातक गोलीबारी के बाद नागरिकों के लिए चार किलोमीटर (2.5 मील) चौड़ा क्षेत्र भी बंद कर दिया गया है.

ये भी पढ़ें-हमास के खिलाफ इजरायल के जवाबी हमले की योजना को मुश्किल बना रहा सुरंगों का नेटवर्क

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button