देश

भारतीय बिजनेसमैन की लंदन में चोरी हुई घड़ी, बोले- दिल्ली में कहीं भी जाइए, नहीं होगी धोखाधड़ी

लंदन में किसी शख्स के साथ चोरी के मामले 2022 की तुलना में 2023 में 27 प्रतिशत बढ़े.

लंदन:

भारत में ऑटो, ट्रेन, बसों और मेट्रो में चोरी या पिक पॉकेटिंग (जेब कतरी) की घटनाएं होती रहती हैं. ऐसे में लोग भीड़ में सफर करते समय अपने सामान को लेकर सावधान भी रहते हैं, लेकिन एक भारतीय चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर (CEO)को बिल्कुल अंदाजा नहीं था कि लंदन के सबसे मशहूर इलाके मेफेयर (Mayfair) में उनकी एक कीमती चीज़ चोरी हो सकती है. अपने अनुभव शेयर करते हुए भारतीय बिजनेसमैन ने कहा, “आप दिल्ली में कहीं भी घूम सकते हैं. आपके साथ धोखाधड़ी नहीं की जाएगी. लेकिन लंदन में ऐसा नहीं है.”

Sundev Renewables के फाउंडर डेविन नारंग ने नई दिल्ली और लंदन के बीच हो रही द्विपक्षीय व्यापार समझौते की मीटिंग के लिए यूके के शैडो फॉरिन सेक्रेटरी डेविड लैमी (David Lammy) दिल्ली आए थे. डेविन नारंग ने इस दौरान मेफेयर में चोरी हुई रोलेक्स घड़ी (Rolex Watch) का मामला उठाया.

फाइनेंशियल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, डेविन नारंग ने मीटिंग में कहा कि लंदन का दिल कहे जाने वाले मेफेयर में भी चोरी की घटनाएं हो रही हैं. उन्होंने कहा कि लंदन में हो रही अपराध की घटनाएं देश की चीफ एग्जिक्यूटिव क्लास के लिए परेशानियां बढ़ा रहे हैं. बता दें कि नारंग फेडरेशन ऑफ इंडियन चेंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री की एग्जिक्यूटिव कमिटी के मेंबर हैं.

डेविन नारंग ने बताया, “लंदन की सड़कों पर लोगों के साथ जमकर धोखाधड़ी हो रही है. भारत के ज्यादातर CEO ने चोरी या धोखे के अनुभव शेयर किए हैं. उन्होंने पुलिस की ओर से किसी भी तरह की मदद नहीं मिलने की शिकायत भी की है.

यह भी पढ़ें :-  कुवैत के शासक के निधन पर शोक जताने खाड़ी देश जा रहे हैं हरदीप पुरी : विदेश मंत्रालय

जब दुनिया के सबसे छोटे कद के शख्स से मिला विश्व का सबसे लंबा आदमी, कमाल का था नज़ारा

लंदन में किसी शख्स के साथ चोरी के मामले 2022 की तुलना में 2023 में 27 प्रतिशत बढ़े. मेफेयर इलाका वेस्टमिंस्टर डिस्ट्रिक्ट के तहत आता है. यहां एक व्यक्ति से चोरी के मामलों में 40 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है.

डेविन नारंग ने फाइनेंशियल टाइम्स को बताया,  “भारतीय महंगी चीजें लेकर चलते हैं, जो चोरी हो जाता है. इन मामलों में पुलिस का जवाब न देना चिंता का विषय है.” नारंग कहते हैं, “लंदन एक बिजी शहर है. आप हर समय इधर-उधर देखकर नहीं चल सकते. चोर इसी का फायदा उठाते हैं. लंदन और खासकर मेफेयर में अक्सर भारतीयों के मंहगे बैग, पर्स और घड़ियां चोरी हो जाती है. आप ऐसे शहर में नहीं जाना चाहेंगे जहां सड़कों पर आपके साथ लूटपाट होने की संभावना हो. क्योंकि ये आपको सहज महसूस नहीं कराता है.” उन्होंने कहा, इन मामलों में पहले तो ध्यान नहीं देती. अगर ध्यान भी देती है, तो उनकी जांच बहुत स्लो रहता है.”

इस बीच पुलिस के प्रवक्ता ने बताया, “विभाग ने ऐसी चोरियों और डकैतियों के मामलों में जांच तेज कर दी है. एक्सपर्ट टीमें एक्टिव तरीके से बड़े अपराधियों और डकैती के हॉटस्पॉट को निशाना बना रही हैं.”

लंदन में भारतीय छात्र लापता, बीजेपी नेता ने विदेश मंत्री एस जयशंकर से लगाई मदद की गुहार

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button