देश

राफा बॉर्डर पर हजारों लोगों के पहुंचने के बीच इज़रायल ने गाजा युद्धविराम की खबर का किया खंडन

नई दिल्‍ली :

Israel Hamal War: उत्‍तरी गाजा पट्टी से आम नागरिक दक्षिण की ओर चले गए हैं. इनमें से हजारों गाजावासी राफा बॉर्डर पार कर मिस्र में जाने की कोशिश कर रहे हैं. युद्धविराम की खबरों के बीच हजारों गाजा निवासी मिस्र में प्रवेश की उम्मीद में राफा सीमा पर पहुंचे हैं, लेकिन इज़राइल ने गाजा युद्धविराम की खबर का खंडन किया है. इजरायल ने उन रिपोर्टों को सिरे से नकार दिया है कि वह गाजा निवासियों को मिस्र में भागने देने के लिए युद्धविराम पर सहमत हो गया है. 

यह भी पढ़ें

इज़राइल, अमेरिका और मिस्र के बीच नहीं हुआ युद्धविराम

न्‍यूज एजेंसी एएफपी ने आज दोपहर को बताया कि इज़रायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के कार्यालय ने तेल अवीव द्वारा ऐसी किसी भी युद्धविराम योजना पर सहमत होने की रिपोर्टों का खंडन किया है. यह बयान उन रिपोर्टों के बाद आया है कि इज़राइल, अमेरिका और मिस्र एक युद्धविराम योजना पर सहमत हुए हैं. इसके तहत इज़रायल अपने हमले रोक देगा और मिस्र गाजा नागरिकों को भागने के लिए सीमा खोल देगा.

ये है गाजा की भौगोलिक स्थिति

गाजा की भौगोलिक स्थिति की बात करें, तो यह एक संकीर्ण पट्टी है. गाजा के पश्चिम में भूमध्य सागर, पूर्व और उत्तर में इज़रायल और दक्षिण पश्चिम में मिस्र की सीमा लगती है. इस पूरे क्षेत्र पर इज़रायल की कड़ी निगरानी कर रहा है. गाजा से निकास के दो मार्ग हैं- इज़राइल में इरेज़ क्रॉसिंग और मिस्र के साथ राफा बॉर्डर. गाजा में कोई हवाई अड्डा नहीं है. इजरायल इसके हवाई क्षेत्र और जल क्षेत्र पर भी नियंत्रण रखता है.

Latest and Breaking News on NDTV

हमास के गढ़ गाजा पर इज़रायल का चौतरफा हमला

पिछले शनिवार इजराइल में हमास के हमलों के बाद, जिसमें 1,300 लोग मारे गए थे, इजराइल ने हमास के गढ़ गाजा पर चौतरफा हमला शुरू कर दिया है. घनी आबादी वाली पट्टी में हवाई हमलों में पहले ही लगभग 2,670 लोगों की जान जा चुकी है. इज़रायल अब हमास द्वारा बंधक बनाए गए लोगों को छुड़ाने के लिए जमीनी हमले के लिए तैयार है. 

Latest and Breaking News on NDTV

इज़रायल ने गाजा शहर के निवासियों को गोलीबारी से बचने के लिए गाजा के दक्षिण की ओर जाने के लिए कहा था. संयुक्त राष्ट्र ने इसकी आलोचना की थी. इज़रायल ने अब अपनी सेना उत्‍तरी गाजा की सीमा पर तैनात कर दी है और किसी भी समय हमला कर सकता है. 

यह भी पढ़ें :-  इजरायल ने हमास चीफ मोहम्मद डायफ के पिता के घर को बम से उड़ाया, जंग में अब तक 3600 से ज्यादा लोगों की मौत

ये भी पढ़ें:- इज़राइल पर हमले के लिए हमास ने क्यों चुना 6 अक्टूबर का दिन? जानें दो बड़ी वजह

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button