दुनिया

"बच्चों के खून से हाथ धोए": ईरान को लेकर UN अधिकारी पर जमकर बरसे इजराइली राजदूत

संयुक्त राष्ट्र के मानवीय मामलों के अंडर सेक्रेटरी जनरल और इमरजेंसी रिलीफ कोआर्डिनेटर मार्टिन ग्रिफिथ्स ने एक पोस्ट में कहा था, “गाजा पर मौत का साया मंडरा रहा है. बिना पानी, बिना बिजली, बिना भोजन और बिना दवा के हजारों लोग मर जाएंगे. यह बिल्कुल साफ है.”

यह टिप्पणी इजरायली बलों की ओर से व्यापक जमीनी हमले से पहले उत्तरी गाजा में लोगों को दक्षिण की ओर जाने की इजरायल की चेतावनी पर संयुक्त राष्ट्र का रुख दर्शाने वाली है.जाहिर तौर पर इसने राजदूत गिलाद एर्दान को परेशानी में डाल दिया. 

राजदूत एर्दान ने एक धमाकेदार पोस्ट में लिखा, “क्या आप किसी चट्टान के नीचे रह रहे हैं? आपके दोहरे मानकों की वास्तव में कोई सीमा नहीं है. जब हमास ने आतंकी सुरंगें खोदने और इजराइली नागरिकों को निशाना बनाने के लिए रॉकेट बनाने को संयुक्त राष्ट्र के सभी फंडों का इस्तेमाल किया था, तब आपका आक्रोश कहां था?

उन्होंने लिखा- “हमास ने गज़ान की आबादी से हर संसाधन, पानी, एनर्जी, सिविलियन इन्फ्रास्ट्रक्चर को अपनी आतंकवादी क्षमताओं में बदल दिया. आपने कभी सार्वजनिक रूप से इसकी निंदा क्यों नहीं की?” 

एर्दान ने कहा- “तथ्यों के प्रति आपके स्वैच्छिक अंधत्व ने उस आतंकी मशीन के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई जो आज गाजा में है. आतंक के खिलाफ युद्ध में सबसे आगे आए देश को फटकार लगाने के लिए संयुक्त राष्ट्र के अधिकारियों के पास न तो कोई वैधता है, न ही विश्वसनीयता है! जबकि हम बंधकों को बचाने की कोशिश कर रहे हैं. आपको शर्म आनी चाहिए!” 

राजदूत एर्दान ने इसके बाद मध्य-पूर्व शांति प्रक्रिया के लिए संयुक्त राष्ट्र के विशेष समन्वयक टोर वेन्नेसलैंड की एक तस्वीर पर प्रतिक्रिया जताई. इस तस्वीर में वेन्नेसलैंड ईरान के वित्त मंत्री से हाथ मिलाते हुए नजर आ रहे हैं.

यह भी पढ़ें :-  चीन ने पाकिस्तान के राजनीतिक दलों से सरकार गठन के लिए मिलकर काम करने का आग्रह किया

राजदूत एर्दान ने इस फोटो पर निराशा जताते हुए टिप्पणी पोस्ट की कि, वेन्नेसलैंड को “हाथ मिलाने के बाद अपने हाथों से इजराइली बच्चों का खून धोना नहीं भूलें.”

एर्दान ने पोस्ट किया, “आज (!!!), संयुक्त राष्ट्र के वरिष्ठ अधिकारी टोर वेन्नेसलैंड ने न केवल ईरानी शासन के वित्त मंत्री से मुलाकात की, बल्कि इजराइली महिलाओं और बच्चों के नरसंहार में भूमिका के लिए ईरान की निंदा भी नहीं की.”

एर्दान ने कहा, “यह कोई रहस्य नहीं है कि हमास के आतंकवादी खुले तौर पर ईरान की फंडिंग, हथियार और प्रशिक्षण के लिए प्रशंसा कर रहे हैं. ठीक उसी समय ईरान के नेता अयातुल्ला खामेनी ने खुले तौर पर मुस्लिम दुनिया से इजराइल पर हमले का विस्तार करने का आह्वान किया.”

संयुक्त राष्ट्र के अधिकारियों ने इस पर अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. इजराइल या उसके सहयोगी अमेरिका ने अभी तक आधिकारिक तौर पर ईरान पर हमास का समर्थन करने का आरोप नहीं लगाया है. हालांकि विभिन्न इजराइली नेता और रक्षा अधिकारी यह आरोप दोहराते रहे हैं.

इज़राइल की ओर से उत्तरी गाजा के लोगों को दक्षिण की ओर जाने के लिए कहने के बाद संयुक्त राष्ट्र ने कहा कि वह “मानवीय विनाश के नतीजों के बिना इस तरह का मूवमेंट असंभव मानता है.”

यह भी पढ़ें :-  "महत्वपूर्ण हमलों" के बीच इजरायल ने कहा - गाजा पट्टी को दो भागों में विभाजित किया 

गाजा में करीब 11 लाख लोग, यानी कि लगभग आधी आबादी गाजा के उत्तर में रहती है. रविवार को हजारों लोग सुरक्षित मार्गों का उपयोग करके दक्षिणी गाजा की ओर जाते हुए देखे गए.

यह भी पढ़ें-

युद्ध अपराध क्या हैं, जानिए – क्या इजराइल और हमास इसके लिए कटघरे में खड़े किए जा सकते हैं?

बेंजामिन नेतन्याहू के भाई ने इजराइलियों को बंधक बनाए जाने पर कैसे सुलझाया था संकट?

इजराइल के हवाई हमलों से भयभीत गाजा के बचाव कर्मियों की नींद उड़ी

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button