दुनिया

'आईडी और कार की चाबियां छीन ली', इजरायल का दावा- लोगों को गाजा छोड़कर निकलने नहीं दे रहा हमास

आईडीएफ ने अपने एक्स हैंडल पर ऑडियो जारी करते हुए लिखा, “दक्षिण की ओर जाने की कोशिश कर रहा एक गाजा निवासी एक आईडीएफ खुफिया अधिकारी को बताता है कि कैसे हमास उन्हें जाने नहीं दे रहा है.” 

गाजा निवासी और एक आईडीएफ खुफिया अधिकारी के बीच कथित बातचीत:

गाजा निवासी : वे लोगों को जाने से रोक रहे हैं. 

आईडीएफ अधिकारी : मुझे बताओ कि उन्होंने तुम्हें कहां रोका. 

गाजा निवासी : जो लोग यहां एजेंसी के पास हैं. वे आईडी कार्ड और कार की चाबियां ले जा रहे हैं. 

आईडीएफ अधिकारी: आपका मतलब मूवमेंट से है? हमास?

आईडीएफ अधिकारी: आपको कौन रोक रहा है? हमास?

गाजा निवासी : हां, हां. 

लोगों को मानव ढाल के रूप में इस्‍तेमाल करेगा हमास : इजरायल

हमास ने लोगों से वहां से न निकलने का आग्रह करते हुए कहा है कि सड़कें असुरक्षित हैं. समूह के प्रमुख इस्माइल हानिया ने कहा है कि फिलिस्तीनी “हमारी भूमि पर बने रहेंगे” जबकि इसरायल द्वारा बमबारी शुरू करने के बाद से 20 लाख से अधिक लोगों के घर वाले इलाके से हजारों निवासी अपने घरों से भाग गए हैं. इजरायल का दावा है कि हमास लोगों को मानव ढाल के रूप में इस्तेमाल करने के लिए उन्हें जाने से रोक रहा है. 

नेतन्‍याहू ने खाई है हमास को खत्‍म करने की कसम 

करीब एक सप्ताह पहले हमास के अचानक हमले में उसके लड़ाकों ने इजरायली कस्बों पर धावा बोलकर इस इलाके को एक नए संकट में डाल दिया था, क्योंकि इजरायली नेता अब उन्‍हें जबरदस्‍त जवाब देने की तैयारी कर रहे हैं. इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने “हमास को खत्‍म” करने की कसम खाई है और उनके सैनिक गाजा पट्टी में घुसने के लिए तैयार हैं.  

यह भी पढ़ें :-  इजरायल के पूर्व पीएम हमास के खिलाफ लड़ाई में सैनिकों के साथ हुए शामिल
बिगड़ रहे हालात, बढ़ रही मौतों की संख्‍या 

गाजा से बाहर निकलने का एकमात्र रास्ता जो इजरायल के नियंत्रण में नहीं था, वह राफा में मिस्र के साथ एक चौकी थी. मिस्र आधिकारिक तौर पर कहता है कि उसका रास्ता खुला है, लेकिन इजरायली हमलों के कारण कई दिनों से यातायात रुका हुआ है. शहर के अंदर हालात बिगड़ रहे हैं और इजरायली हमलों से मौतों की संख्‍या में इजाफा हो रहा है. शवों के ढेर के बीच काम करते हुए फिलिस्तीनी स्वास्थ्य कार्यकर्ता शवों को आइसक्रीम फ्रीजर ट्रकों में रख रहे हैं क्योंकि उन्हें अस्पतालों तक ले जाना बहुत जोखिम भरा है और कब्रिस्तान भरे हुए हैं. 

पिछले सप्ताह हुए हमले के बाद से इजरायल में 1,400 से अधिक लोग मारे गए हैं, जबकि गाजा पट्टी पर इजरायली हमलों में मरने वालों की संख्या कम से कम 2,670 हो गई है. 

ये भी पढ़ें :

* Video : हमास के हमले के बाद घर में छिपे परिवार का इजरायल की स्‍पेशल कैनाइन यूनिट ने किया रेस्क्यू

* Israel Hamas War : इजरायल ने की गाजा पर हमले की तैयारी, लेबनान की सीमा पर खोला नया मोर्चा

* हिंदू सेना ने इजरायल के समर्थन में लगाए पोस्‍टर, भारत से हमास को आतंकी संगठन घोषित करने की मांग

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button