दुनिया

"वहां से तुरंत निकलिए"…  'म्यांमार के रखाइन प्रांत में अस्थिरता को लेकर अपने नागरिकों को भारत की चेतावनी

1 फरवरी 2021 से म्यांमार में अस्थिरता बनी हुई है.

म्यांमार के रखाइन प्रांत की स्थिति अस्थिर है. ऐसे में सुरक्षा कारणों को ध्यान में रखते हुए भारत ने अपने नागरिकों को वहां से छोड़ने को कहा है. विदेश मंत्रालय ने एडवाइजरी जारी करते हुए भारतीय नागरिकों को आगाह किया है. मंत्रालय ने कहा है कि रखाइन प्रांत अभी सुरक्षित नहीं है. वहां अस्थिरता बनी हुई.

यह भी पढ़ें

मंगलवार को जारी एडवाइजरी में विदेश मंत्रालय ने भारतीय नागरिकों को आगाह करते हुए कहा, सुरक्षा की बिगड़ती स्थिति, लैंडलाइन सहित दूरसंचार के साधनों में व्यवधान और आवश्यक वस्तुओं की भारी कमी को देखते हुए सभी भारतीय नागरिकों को म्यांमार के रखाइन प्रांत की यात्रा न करने की सलाह दी जाती है. विदेश मंत्रालय ने कहा, जो भारतीय नागरिक पहले से ही यहां हैं, उन्हें तुरंत राज्य छोड़ने की सलाह दी जाती है.

1 फरवरी 2021 से म्यांमार में अस्थिरता बनी हुई है. सेना द्वारा तख्तापलट कर सत्ता पर कब्जा करने के बाद से म्यांमार में लोकतंत्र की बहाली की मांग को लेकर व्यापक हिंसक विरोध प्रदर्शन हो रहा है, जो अभी तक जारी हैं. भारत हमेशा से म्यामांर में लोकतंत्र का पक्षधर रहा है.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रणधीर जयसवाल ने कहा कि म्यांमार में अस्थिरता का सीधा असर हमारे देश पर पड़ने वाला है. उन्होंने कहा कि हम म्यांमार की स्थिति को लेकर काफी चिंतित हैं. हमारे पड़ोसी देश होने के नाते हम चाहते हैं कि वहां लोकतंत्र की बहाली फिर से हो.

देखा जाए तो म्यांमार भारत के रणनीतिक पड़ोसियों में से एक है. म्यांमार से भारत के कई पूर्वोत्तर राज्य की सीमाएं जुड़ी हुई हैं. भारत लगभग 1,640 किलोमीटर लंबी सीमा साझा करता है. 

यह भी पढ़ें :-  किसानों के प्रदर्शन के चलते पुलिस ने लाल किले को सुरक्षित घेरे में लिया

इसे भी पढ़ें-  ईरान में बिना Visa के अधिकतम 15 दिन ठहर सकेंगे भारतीय पर्यटक

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button