देश

एक आंख, एक हाथ के साथ व्हीलचेयर पर कट रही जिंदगी… जानें- कौन है इजरायल को दहलाने वाले हमास का बॉस

मोहम्मद डायफ हमास के मिलिट्री विंग का चीफ कमांडर है. 57 साल का डायफ खुद व्हील चेयर पर रहता है. वह अपने दम पर नहीं चल सकता. 57 साल की उम्र में उसने सात-सात हमले झेले हैं. उसकी एक आंख भी काम नहीं करती है. एक हमले के दौरान डायफ की आंख चली गई थी और दूसरे हमले में उसकी बांह का एक हिस्सा चला गया था. डायफ उसके बाद से व्हील चेयर पर ही रहता है.

 इजरायल-हमास के संघर्ष पर भारत में सियासत शुरू, कांग्रेस के प्रस्ताव से पार्टी के भीतर मतभेद उजागर

 

इजरायली हमले में पत्नी और दो बच्चों की हो गई मौत

रिपोर्ट के मुताबिक, 2014 में इजरायली हवाई हमले में डायफ की पत्नी, 7 महीने का बच्चा और 3 साल की बेटी की मौत हो गई थी. अब वो इजरायल को दहला रहा है. अमेरिका के विदेश विभाग ने 8 सितंबर 2015 को डायफ को ग्लोबल टेररिस्ट की अपनी लिस्ट में शामिल किया था. 

मोहम्मद डायफ ने इजरायल को ऐसे ज़ख़्म दिए हैं, जिनकी 1948 के बाद से इजरायल ने कल्पना नहीं की थी. डायफ ने ऐसी साजिश रची कि शनिवार की सुबह से ही इजरायल दहलने लगा. 

 यूनिस शरणार्थी शिविर में हुआ जन्म

डायफ का जन्म 1960 के दशक के दौरान गाजा में खान यूनिस शरणार्थी शिविर में हुआ था. उस वक्त उसका नाम मोहम्मद दीब इब्राहिम अल-मसरी था. डायफ ने गाजा के इस्लामिक विश्वविद्यालय से पढ़ाई की है. मोहम्मद डायफ के चाचा और पिता ने 1950 के दशक में फिलिस्तीनियों के साथ युद्ध में हिस्सा लिया था. डायफ को इजरायली अधिकारियों ने बम विस्फोटों में दर्जनों लोगों की मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया था. जिसके बाद उसे जेल भेज दिया गया था. जेल से निकलने के बाद वो हमास के लिए काम करने लगा. 2002 में वह हमास के मिलिट्री विंग का चीफ कमांडर बन गया.

यह भी पढ़ें :-  गाजा में इजरायल के ऑपरेशन से होने वाली तबाही स्वीकार्य नहीं: हमास के खिलाफ हमले पर बोले पुतिन

Explainer: गाजा पट्टी पर सख्त पहरे के बावजूद कैसे हमास को मिल रहे हथियार? जानें- तालिबान कनेक्शन

 

2010 में मोहम्मद डायफ ने खुद लिखा कि इजरायल को अल अक्सा मस्जिद समेत पूरे यरूशलम से लेकर उत्तर से दक्षिण की एक इंच जमीन भी नहीं दी जाएगी. इजराइल पर ताज़ा हमले को अल अक्सा मस्जिद विवाद का भी नतीजा माना जा रहा है. माना जा रहा है कि डायफ के नेतृत्व में हमास ने इसकी बेहद चुपचाप तैयारी की थी. 

मोसाद की पकड़ में क्यों नहीं आया डायफ

सवाल ये है कि इजराइल की खौफनाक खुफिया एजेंसी मोसाद अब तक उसे पकड़ क्यों नहीं पाई? डायफ ने इजरायल के लेटेस्ट सिक्योरिटी सिस्टम को चकमा कैसे दिया? हकीकत ये है कि 23 साल से इजराइल डायफ को खत्म करने की कोशिश में है, लेकिन डायफ किसी तकनीक की मदद लेता ही नहीं. इसलिए उसे पकड़ना मुश्किल होता जाता है.

मोहम्मद डायफ के बारे में न ज़्यादा जानकारियां हैं और न ही उसकी ज़्यादा तस्वीरें. बताया जाता है कि कहा जाता है कि वो बिना लाइम लाइट में रहे एक शेडो फिगर के रूप में काम करना पसंद करता है. 

इजरायल पर हुए हमास के हमले में किस देश के कितने नागरिकों की हुई मौत, कई बंधक या लापता

 

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button