देश

बिहार की गया सीट मांझी को मिली, पूर्व BJP सांसद का पार्टी की राज्य इकाई पर निशाना- कैडर का सम्मान नहीं…

गया से बीजेपी के पूर्व सांसद हरी मांझी

नई दिल्ली:

बिहार एनडीए (NDA) में सीटों की घोषणा हो गयी है. गठबंधन के तहत गया लोकसभा सीट हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (Hindustani Awam Morcha) के खाते में गयी है. जीतन राम मांझी की पार्टी गया सीट से चुनाव में उतरेगी.  गठबंधन की घोषणा के बाद गया से बीजेपी के पूर्व सांसद हरी मांझी (Hari manjhi) ने बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी (Samrat Chaudhary) और प्रदेश प्रभारी विनोद तावड़े पर निशाना साधा है.

यह भी पढ़ें

पूर्व सांसद हरी मांझी ने क्या लिखा है?

हरी मांझी ने सोशल मीडिया साइट एक्स पर लिखा है कि गया जी सीट से एनडीए के सहयोगी दल “HAM” पार्टी लड़ेगी. मेरी तरफ़ से हम पार्टी को पूर्ण समर्थन है प्रधानमंत्री जी जिस पवित्र कार्य  राष्ट्र निर्माण के मिशन के तहत विकास कार्य को कर रहे है उसके लिये हम सब को एकजुट होकर मोदी जी को सशक्त करना है. ऐसे भी हमारी पार्टी का नारा है .

पूर्व सांसद हरी मांझी ने लिखा कि मुझे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का खूब स्नेह मिलता रहता है, मैंने मेल किया फ़ौरन उसका जवाब और फ़ोन आया, वहीं विश्व  की सबसे बड़ी पार्टी के मुखिया जेपी नड्डा जी से मिलने का समय मांगा उन्होंने समय दिया,आदरणीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह जी ने समय दिया, यशस्वी गृहमंत्री अमित शाह जी ने दफ़्तर से रिस्पांस मिला वहीं मेरे प्रदेश इकाई के अध्यक्ष सम्राट चौधरी जी ने फ़ोन तक नहीं उठाया न ही  मिलने का समय मिला, प्रदेश प्रभारी विनोद तावड़े जी ने भी समय नहीं दिया.  सम्राट चौधरी जी आप भाजपा कैडर को इज्जत नहीं देते है क्योंकि आपको पता ही नहीं है भाजपा का सांस कैडर है. मैं अपनी बात प्रदेश इकाई के समक्ष नहीं रख पाया. 

 एनडीए में गठबंधन का हुआ ऐलान

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव  को लेकर बिहार में बीजेपी की अगुवाई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में सीटों का बंटवारा हो गया है. बिहार की कुल 40 सीटों पर बीजेपी 17 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. नीतीश कुमार की जेडीयू  16 सीटों पर उम्मीदवार उतारेगी. चिराग पासवान  की पार्टी को 5 सीटें मिली हैं. जीतन राम मांझी की ‘हम’ पार्टी को 1 सीट दी गई है. वहीं, उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी एक सीट पर प्रत्याशी उतारेगी. बता दें कि पिछले चुनाव में एनडीए ने बिहार में 39 सीटें जीतीं.

यह भी पढ़ें :-  बंगाल की CM ममता बनर्जी घर में गिरीं, माथे पर लगी गंभीर चोट; अस्पताल में भर्ती

पशुपति पारस को लगा झटका

बीजेपी ने बिहार की 40 सीटों को साधने के लिए हाल ही में चिराग पासवान (Chirag Paswan) के साथ बड़ी डील की. बीजेपी ने चिराग पासवान के नेतृत्व वाली लोक जनशक्ति पार्टी रामविलास (LJP-R) को हाजीपुर समेत 5 सीटें देने की बात कही थी. इसके लिए चिराग के चाचा और मौजूदा केंद्रीय मंत्री पशुपति पारस को भी दरकिनार कर दिया था. सीट शेयरिंग के अनाउंसमेंट के दौरान चिराग पासवान के चाचा पशुपति पारस की पार्टी को एक भी सीट नहीं दी गई है. प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी उनकी पार्टी का कोई भी नेता नहीं था.

ये भी पढ़ें- : 

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button