देश

दिल्ली के कालकाजी मंदिर में जागरण के लिए बनाया मंच गिरने से एक महिला की मौत, 17 अन्य घायल

पुलिस उपायुक्त ने बताया कि इसके कारण मंच पर बैठे और जमीन पर उसके आसपास बैठे लोग घायल हो गए. उन्होंने बताया कि कार्यक्रम के लिए कोई पूर्व अनुमति नहीं दी गयी थी. पुलिस के अनुसार शनिवार को कालकाजी मंदिर के महंत परिसर में जागरण का आयोजन किया गया था और इसमें लगभग 1600 लोग शामिल हुए थे. गायक बी प्राक ने जागरण में प्रस्तुति दी थी. सूत्रों के अनुसार, वह घटना से पहले ही आयोजन स्थल से चले गए थे.

प्राक ने अपने इंस्टाग्राम प्रोफाइल पर एक वीडियो संदेश में इस दुखद घटना पर शोक जताया और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की. पुलिस ने बताया कि मृतका की पहचान तुगलकाबाद एक्सटेंशन निवासी टीना के रूप में की गयी है. पुलिस के अनुसार टीना के परिवार में पति और तीन बेटे हैं.

पुलिस सूत्रों के अनुसार, मंदिर प्रबंधन ने जागरण के आयोजन का जिम्मा इवेंट आयोजकों को दिया था. सूत्रों के अनुसार अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है. पुलिस ने बताया कि आयोजकों के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज की गयी है और जांच की जा रही है.

कालकाजी मंदिर प्रबंधन के एक सदस्य आकर्षण भारद्वाज ने कहा, ‘‘इस कार्यक्रम के आयोजन में मंदिर प्रबंधन शामिल नहीं था. जिन लोगों ने कार्यक्रम आयोजित किया, वे प्रबंधन के नहीं हैं और उन्होंने पुलिस या मंदिर प्रबंधन से उचित अनुमति नहीं मांगी थी.” उन्होंने दावा किया कि जिस जगह पर जागरण हुआ है, वह पहले से ही एक ‘‘विवादित भूमि” है.

भारद्वाज ने कहा, ‘‘यह घटना दुर्भाग्यपूर्ण है जिसमें एक महिला की मौत हो गयी और कई अन्य घायल हुए हैं. कई लोग आयोजन स्थल पर गायक को सुनने के लिए उमड़े थे और मंच पर वजन अधिक होने के कारण यह गिर गया.”

यह भी पढ़ें :-  राजनीति करने का सही वक्त नहीं, हिमाचल में राहत कार्यों पर ध्यान देने की जरूरत : सुक्खू

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर लिखा, ‘‘कालकाजी मंदिर में कल रात जागरण के दौरान हुई दुर्घटना दुखद है. एक महिला की मौत हो गई. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे. मैं 17 घायल लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.” उन्होंने कहा, ‘‘मैं दिल्ली के लोगों से अपील करता हूं कि किसी भी तरह के बड़े आयोजन में सुरक्षा मानकों का विशेष ध्यान रखें और ऐसी व्यवस्था करें कि कोई अप्रिय घटना न हो.”

डीसीपी देव ने बताया कि कार्यक्रम के लिए कोई पूर्व अनुमति नहीं दी गयी थी. उन्होंने कहा, ‘‘हालांकि, कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए पर्याप्त कर्मी तैनात किए गए थे. शनिवार रात लगभग 12.30 बजे 1,500-1,600 लोग एकत्र हुए थे.”

एक प्रत्यक्षदर्शी वरुण ने बताया कि मंदिर में बड़ी भीड़ थी क्योंकि गायक बी प्राक वहां मौजूद थे. उन्होंने पीटीआई-भाषा को बताया, ”अचानक मंच ढह गया और मंच के पास बैठे लोगों को चोटें आईं. गायक बी प्राक तब तक वहां से जा चुके थे.”

देव ने कहा, ‘‘दमकल कर्मियों को घटनास्थल पर बुलाया गया. 17 लोग घायल बताए गए. 45 वर्षीय महिला (टीना) को मैक्स हॉस्पिटल ले जाया गया और उसे अस्पताल में मृत घोषित कर दिया गया.” उन्होंने बताया कि दिल्ली पुलिस के एक अपराध दल ने बाद में घटनास्थल का निरीक्षण किया. उन्होंने कहा, ‘‘टीना का पति सब्जी विक्रेता है. उनके तीन बेटे हैं. उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है.” उन्होंने बताया कि सभी घायलों की हालत स्थिर बतायी जा रही है. हालांकि, उनमें से कुछ को फ्रैक्चर आया है.

यह भी पढ़ें :-  लगातार पांचवें दिन खराब श्रेणी में रहा दिल्ली की वायु गुणवत्ता

पुलिस उपायुक्त ने कहा कि आयोजकों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की घारा 337, 304ए और 188 के तहत एक प्राथमिकी दर्ज की गई है और मामले की जांच शुरू की जा रही है.

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button