देश

कनाडा में प्लेन हुआ क्रैश, 2 भारतीय ट्रेनी पायलट सहित कुल 3 की मौत

Canada Plane Crash: कनाडा में हुए प्लेन क्रैश में जान गंवाले वाले पायलटों की पहचान अभय गडरू और यश विजय रामुगाडे के रूप में हुई है.

Canada Plane Crash: भारत-कनाडा के बीच जारी तनाव के बीच एक बड़ी खबर सामने आ रही है.कनाडा में एक दर्दनाक हादसा हुआ जिसमें प्लेन क्रैश होने से 3 लोगों की मौत ही गई. इस दु्र्घटना में दो भारतीय  ट्रेनी पायलट की भी मौंत हो गई. कनाडा में हुए प्लेन क्रैश में जान गंवाले वाले पायलटों की पहचान अभय गडरू और यश विजय रामुगाडे के रूप में हुई है. ये दोनों ही मुंबई के रहने वाले थे.

यह भी पढ़ें

मुंबई के दो परिवारों को शनिवार को ये बुरी खबर मिली जब उन्हें बताया गया कि एक दिन पहले कनाडा में एक विमान दुर्घटना में मारे गए तीन लोगों में उनके जवान बेटे भी शामिल थे.

डबल इंजन वाले हल्के विमान पाइपर पीए -34 सेनेका में सवार थे पायलट

बता दें कि दोनों ट्रेनी पायलट एक छोटे डबल इंजन वाले हल्के विमान पाइपर पीए -34 सेनेका में सवार थे, जो ब्रिटिश कोलंबिया में वैंकूवर के करीब चिलिवैक में स्थानीय हवाई अड्डे के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गया.

पायलट मौत की खबर से पूरी सोसाइटी शोक में डूबी

पायलट ट्र्निंग के लिए कनाडा जाने से पहले अभय एवरशाइन इलाके में कृष्णा वंदन सोसाइटी में रहते थे. उनके पड़ोसी वैभव गोयल ने कहा कि पड़ोस में हर किसी के मन में अभय के बारे में बहुत अच्छी यादें हैं और उनकी मौत की खबर से पूरी सोसाइटी शोक में डूब गया है.

यह भी पढ़ें :-  Plane Crash: ऑस्ट्रेलिया में विमान हुआ दुर्घटनाग्रस्त, पायलट सहित 3 बच्चों की मौत

शव को वापस लाने के लिए जा रहे हैं प्रयास

विमान हादसे में मरने वाले पायलटों में से एक के पड़ोसी ने कहा कि शव को वापस लाने के प्रयास किए जा रहे हैं. मृतक पायलट अभय के पड़ोसी वैभव गोयल ने कहा, “हमें शनिवार सुबह 5 बजे फोन आया तो हमें विश्वास ही नहीं हुआ कि अभय के साथ ऐसा कुछ हुआ है. उसका भाई चिराग भी पिछले साल से कनाडा में रहकर पढ़ाी कर रहा है. कनाडा में अधिकारियों ने अभी तक चिराग को अभय का शव देखने की अनुमति नहीं दी है. उन्हें बताया गया है कि रविवार को उन्हें अभय का सामान दे दिया जाएगा.”

दूतावास से संपर्क करने की कोशिश

वैभव गोयल ने कहा कि उन्होंने चिराग से फोन पर बात की थी. उन्होंने कहा, “वह बहुत चिंतित हैं और दूतावास से संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं ताकि अभय के शव को घर वापस लाया जा सके. उनके माता-पिता इस समय दिल्ली में कुछ रिश्तेदारों से मिलने गए हैं.”

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button