देश

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, PM मोदी ने महिलाओं को अंतरराष्ट्रीय महिल दिवस की शुभकामनाएं दी

उन्होंने कहा कि भारत की बेटियां खेल से लेकर विज्ञान तक जीवन के सभी क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर रही हैं और देश को गौरवान्वित कर रही हैं. राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘आइए, हम युवा महिलाओं के रास्ते से शेष बाधाओं को दूर करने और उन्हें पंख देने के लिए मिलकर काम करें, क्योंकि वे कल के भारत को आकार देंगी.”

तू बेटी है हिंदुस्तान की…:PM

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर नारी शक्ति को बधाई दी. पीएम ने एक्स पर पोस्ट लिखा.. तू बेटी है हिंदुस्तान की… साथ ही एक वीडियो भी पोस्ट की. इसके अलावा पीएम ने इस अवसर पर एलपीजी गैस सिलेंडर की कीमतों में 100 रुपये की छूट की घोषणा की. पीएम मोदी ने ‘एक्स’ पर एक अन्य पोस्ट में कहा, ‘‘महिला दिवस के अवसर पर आज हमने एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में 100 रुपये की छूट का बड़ा फैसला किया है.”

उन्होंने कहा कि इससे नारी शक्ति का जीवन आसान होने के साथ ही करोड़ों परिवारों का आर्थिक बोझ भी कम होगा. उन्होंने कहा, ‘‘यह कदम पर्यावरण संरक्षण में भी मददगार बनेगा, जिससे पूरे परिवार का स्वास्थ्य भी बेहतर रहेगा.”

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस हर साल आठ मार्च को मनाया जाता है.

सोने पे सुहागा-हरदीप सिंह पुरी

केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने इस अवसर पर एक्स पर एक पोस्ट किया और लिखा, सोने पे सुहागा! अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर मोदी के परिवार को मिली एक और सौग़ात !  कल प्रधानमंत्री  जी के नेतृत्व में कैबिनेट ने उज्ज्वला लाभार्थियों के लिए गैस सिलिंडर पर ₹300 रुपये की सब्सिडी को एक साल के लिए और बढ़ाया, और आज मोदी जी ने सभी बहनों के लिए गैस सिलिंडर के दाम किये ₹100 रुपये और कम!  अब 10 करोड़ से ज़्यादा उज्ज्वला लाभार्थियों को गैस सिलिंडर मिलेगा केवल ₹503 रुपये में और बाकी ग्राहकों के लिए गैस सिलिंडर के दाम हुए केवल ₹803 रुपये. 

2014 में जब मोदी जी प्रधानमंत्री बने तब देश में केवल 14 करोड़ परिवारों के पास गैस कनेक्शन हुआ करता था, आज 32 करोड़ परिवारों के पास गैस कनेक्शन है, इसमें 10 करोड़ से ज़्यादा उज्ज्वला परिवार हैं जिनमें से लगभग 80 प्रतिशत ग्रामीण क्षेत्रों में हैं! मोदी जी के नेतृत्व में गाँव गाँव तक गैस कनेक्शन पहुंचे हैं. अब हमारी बहनों की रसोई धुआं मुक्त हो गयी है, बहनों को बेहतर स्वास्थ्य मिल रहा है, खाना बनाने में उनका समय बच रहा है और सुविधा हो रही है, उन्हें लकड़ी और ईंधन जमा करने में समय नहीं व्यर्थ करना पड़ रहा है, गीली लकड़ी के धुएं से नहीं जूझना पड़ रहा है. उनके समय की बचत हो रही है. बहनें बेहतर और स्वस्थ जीवन गुज़ार पा रही हैं. अनेक बीमारियों से बच कर उनकी उम्र में कई साल जुड़ रहे हैं.

यह भी पढ़ें :-  'नो योर कैंडिडेट' एप बताएगी आपके उम्मीदवार का क्रिमिनल रिकॉर्ड है कि नहीं, जानें कैसे

बहनों को बेहतर जीवन देना हमेशा मोदी जी की कल्याणकारी नीतियों का लक्ष्य रहा है.

ये भी पढ़ें- विमेंस डे के लिए इन टिप्स की मदद से तैयार करें स्पीच, सुनने के बाद बज उठेंगी तालियां

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को The Hindkeshariटीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button