देश

राष्ट्रपति मुर्मू और पीए मोदी ने 'उत्कल दिवस' पर ओडिशा के लोगों को शुभकामनाएं दीं

वर्ष 1936 में इसी दिन ओडिशा को एक अलग राज्य के रूप में मान्यता दी गयी थी.

नई दिल्ली:

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने सोमवार को ओडिशा दिवस के मौके पर राज्य के लोगों को शुभकामनाएं दीं और कहा कि प्रदेश की जनता ने ओडिशा और देश के विकास में अहम योगदान दिया है. वर्ष 1936 में इसी दिन ओडिशा को एक अलग राज्य के रूप में मान्यता दी गयी थी, जिसके बाद से प्रत्येक वर्ष इस दिन को ओडिशा दिवस या ‘उत्कल दिवस’ के रूप में मनाया जाता है. इस राज्य का गठन बिहार और उड़ीसा प्रांतों को विभाजित करके किया गया था. उड़ीसा का नाम 2011 में बदलकर ओडिशा कर दिया गया था.

यह भी पढ़ें

राष्ट्रपति मुर्मू ने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, ”ओडिशा दिवस पर राज्य के लोगों को हार्दिक शुभकामनाएं! ओडिशा अपनी प्राकृतिक संपदा और समृद्ध सांस्कृतिक विरासत के लिए जाना जाता है. इस राज्य के लोगों ने ओडिशा और देश के विकास में महान योगदान दिया है.”

उन्होंने कहा, ”सदियों से ओडिशा की धरती ने कई महान सपूत दिये हैं, जिनमें आधुनिक भारत के कई निर्माता भी शामिल हैं. भगवान जगन्नाथ राज्य और उसके लोगों को अपार सफलता व समृद्धि का आशीर्वाद दें!”

यह भी पढ़ें :-  बिहार में 12 फरवरी को होने वाले फ्लोर टेस्ट से पहले आज पीएम मोदी और नीतीश कुमार के बीच मुलाकात

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी सोमवार को ‘उत्कल दिवस’ के अवसर पर ओडिशा के लोगों को शुभकामनाएं दीं और उनकी सफलता एवं समृद्धि की कामना की. मोदी ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, ‘सभी को उत्कल दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं! यह दिन हमें ओडिशा और उसके गतिशील लोगों की समृद्ध संस्कृति और विरासत की याद दिलाता है.’

उन्होंने कहा, “राज्य ने राष्ट्रीय प्रगति में समृद्ध योगदान दिया है. मैं ओडिशा के लोगों की सफलता और समृद्धि के लिए प्रार्थना करता हूं.”

(इस खबर को The Hindkeshariटीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button