देश

राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्‍याय यात्रा 29 जनवरी को बिहार में करेगी प्रवेश 

राहुल गांधी 29 जनवरी को पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी से बिहार के किशनगंज जिले पहुंचेंगे. (फाइल)

खास बातें

  • राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा 29 जनवरी को बिहार पहुंचेगी
  • राहुल गांधी पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी से बिहार के किशनगंज जिले पहुंचेंगे
  • रैलियों के लिए नीतीश और लालू सहित महागठबंधन के नेताओं को भेजा निमंत्रण

पटना:

कांग्रेस नेता राहुल गांधी की ‘‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा” 29 जनवरी को बिहार में प्रवेश करेगी और तीन दिनों में चार जिलों से गुजरेगी. बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मुख्यालय ‘सदाकत आश्रम’ में सोमवार को आयोजित संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेता और विधान परिषद सदस्य (एमएलसी) प्रेम चंद्र मिश्रा ने कहा कि राहुल गांधी 29 जनवरी को पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी से बिहार के किशनगंज जिले पहुंचेंगे और लोगों से बातचीत करने के साथ-साथ एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे .

यह भी पढ़ें

उन्होंने बताया कि राहुल गांधी किशनगंज में रात्रि विश्राम के बाद अगले दिन 30 जनवरी को पूर्णिया और उसके बाद 31 जनवरी को कटिहार जिला जाएंगे जहां वे जनसभाओं को भी संबोधित करेंगे तथा उसके बाद वे फिर से पश्चिम बंगाल लौट जाएंगे .

मिश्रा ने कहा, “ राहुल जी यात्रा के क्रम में पूर्णिया और कटिहार जिला में आयोजित की जाने वाली रैलियों में भाग लेने के लिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद सहित महागठबंधन के अन्य सहयोगी दलों को निमंत्रण भेजा गया है और वे आने के लिए सहमत हो गए हैं.

लालू पूर्णिया या कटिहार में होंगे शामिल : मिश्रा 

राजद प्रमुख लालू प्रसाद को भेजे गए ईडी के समन के मद्देनजर उनके रैली में शामिल होने को लेकर संशय के बारे में पूछे जाने पर मिश्रा ने कहा कि वे अपनी उपलब्धता के अनुसार पूर्णिया या कटिहार में होने वाली रैली में शामिल होंगे .

यह भी पढ़ें :-  कांग्रेस विधायक अंबा प्रसाद से ED के जांच दल ने छह घंटे से अधिक समय तक की पूछताछ

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने लालू प्रसाद को रेलवे में नौकरी के बदले कथित भूमि घोटाले के संबंध में पूछताछ के लिए 29 जनवरी को पटना में अपने कार्यालय में उपस्थित होने के लिए कहा है. वहीं उनके बेटे एवं बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को इसी मामले में 30 जनवरी को पेश होने के लिए कहा है. यह मामला तब का है जब लालू प्रसाद रेल मंत्री थे.

भाकपा और माकपा नेताओं को भी बुलाया 

मिश्रा ने कहा कि महागठबंधन में शामिल अन्य सहयोगी दलों– भाकपा माले के महासचिव दीपांकर भट्टाचार्य और भाकपा एवं माकपा नेताओं को भी रैली में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया है और वे यात्रा को अपना समर्थन देने के लिए सहमत हो गए हैं.

ये भी पढ़ें :

* अयोध्‍या में रामलला की प्राण प्रतिष्‍ठा कार्यक्रम से इतर जानिए- क्‍या कर रहे राहुल गांधी समेत अन्‍य विपक्षी नेता

* कांग्रेस नेता राहुल गांधी को असम के मंदिर में जाने से रोका गया, बोले- “मेरा गुनाह क्या है?”

* Video: ‘जय श्रीराम’ और ‘मोदी-मोदी’ के नारे लगा रहे BJP समर्थकों को राहुल गांधी ने दिया ‘फ्लाइंग किस’

(इस खबर को The Hindkeshariटीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button