देश

राजस्थान के भाजपा नेता और पूर्व विधायक प्रह्लाद गुंजल कांग्रेस में शामिल, अशोक गहलोत ने यह कहा…

अशोक गहलोत ने इस अवसर पर केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा पर निशाना साधा.

जयपुर:

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता एवं पूर्व विधायक प्रह्लाद गुंजल ने बृहस्पतिवार को यहां कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ले ली.

पार्टी के प्रदेश कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में गुंजल ने अपने समर्थकों के साथ कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की. इस अवसर पर कांग्रेस की राज्य इकाई के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सहित पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने गुंजल का स्वागत किया.

कोटा उत्तर से विधायक रहे गुंजल को काफी मुखर नेता के रूप में देखा जाता है और उनके आने से कांग्रेस को हाड़ौती अंचल में फायदा मिलने की उम्मीद जताई जा रही है. गुंजल दो बार विधायक रहे हैं. इस अवसर पर फतेह खान, सुनील परिहार और नरेश मीणा भी कांग्रेस में लौट आए. इन तीनों ने 2023 का विधानसभा चुनाव क्रमशः शिव, सिवाना और छबड़ा सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में लड़ा था.

यह भी पढ़ें

कांग्रेस की सदस्यता लेने के बाद गुंजल ने केंद्र और राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, ‘‘ सत्ता की ताकत के बूते आम आदमी की आवाज को कुचल देने की प्रवृत्ति लोकतंत्र के लिए चुनौती बन गई है. आज देश उस मोड़ पर आकर खड़ा हो गया है, जहां जोर और जुल्म, राजनीति का चरित्र बन गए हैं इसलिए खरीदारी के इस दौर में खुद्दार लोग अपने अस्तित्व को बचाने के लिए एकजुट नहीं होंगे तो भारत की राजनीति का चेहरा-मोहरा खराब हो जाएगा.” उन्होंने कहा, ‘‘आज मैंने भारतीय जनता पार्टी को छोड़कर कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की है.” उन्होंने कहा कि वह चालीस साल तक भाजपा के कार्यकर्ता रहे और दो बार विधायक बने.

यह भी पढ़ें :-  समीर वानखेड़े मामले में नया मोड़, जांच के लिए Anti Drugs Agency ने नए अधिकारी की नियुक्ति की

इस अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री गहलोत ने केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, ‘‘ देश में संविधान की धज्जियां उड़ रही हैं … सीबीआई, आयकर विभाग, ईडी का दुरुपयोग हो रहा है. भाजपा में लोग घुटन महसूस कर रहे हैं.” बाद में गहलोत ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर पोस्ट कर कहा, ‘‘ आज भाजपा को त्याग कर कांग्रेस में सम्मिलित हुए कोटा उत्तर से पूर्व विधायक प्रह्लाद गुंजल और कांग्रेस में वापसी करने वाले फतेह खान, सुनील परिहार तथा नरेश मीणा का पार्टी परिवार में स्वागत है.” उन्होंने कहा, ‘‘ कांग्रेस के लोकतांत्रिक मूल्यों को चुनने वाले ऐसे नेता न्याय की लड़ाई को और मजबूत बनाएंगे.”

डोटासरा ने गुंजल को दमदार नेता हुए बताते हुए भाजपा पर कटाक्ष किया. उन्होंने कहा, ‘‘ भाजपा में जन नेताओं की जरूरत नहीं है, चापलूसों की जरूरत है, धन्नासेठों की जरूरत है. आम व्यक्ति की सुनने वाला भाजपा में रहकर कुछ भी प्राप्त नहीं कर सकता. उसकी कुछ भी सुनवाई नहीं होती.”

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button