दुनिया

The HindkeshariGround Report: "रॉकेट, तबाही, सुनसान सड़कें…": ऐसा है गाजा से 10 किमी दूर अश्कलोन शहर का मंजर

इजराइल-गाजा के बीच पिछले तीन तीन दिन से चल रहे युद्ध (Israel-Gaza War) का भयावह रूप देखने को मिल रहा है. आसमान में हर तरफ रॉकेट की रोशनी और सड़कों पर तबाही का मंजर दिखाई दे रहा है. इजराइल-गाजा के हालात का जायजा लेने के लिए एनडीटीवी की एक टीम गाजा से कुछ किलोमीटर दूर एक तटीय शहर अश्कलोन में मौजूद है. इस दौरान टीम को हर तरफ तबाही का मंजर दिखाई दे रहा है. आसमान में रॉकेटों की रोशनी दिखाई दे रही, वह पट्टी भी अवरुद्ध है, जहां पर इज़राइल फिलिस्तीन के हमास आतंकियों के खिलाफ चौतरफा युद्ध लड़ रहा है.

यह भी पढ़ें

ये भी पढ़ें-LIVE Updates: 1973 के बाद इजराइल के खिलाफ सबसे घातक हमला, अबतक 1100 से अधिक की मौत | युद्ध से जुड़ी खबरें यहां पढ़ें

सड़कों पर बैरिकेड, जाम के हालात

ग्राउंड जीरों पर मौजूद एनडीटीवी की टीम का कहना है कि युद्ध की वजह से कई सड़कों पर बैरिकेड लगाए गए हैं और ट्रैफिक जाम की स्थिति पैदा हो गई है. इससे पहले रविवार देर रात को जैसे ही हमारी टीम चेकइन करने के लिए होटल के पास पहुंची तो वहां एक रॉकेट से हमला हो गया. युद्ध का सायरन बजते ही उनको बेसमेंट में शरण लेने के लिए मजबूर होना पड़ा. हमारी टीम ने मौजूदा हालात का जायजा लेते हुए बताया कि अश्कलोन की सड़क पूरी तरह से ख़ाली पड़ी हैं, जो जगह हमेशा लोगों से गुलजार रहती थी, वहां हर ओर सन्नाटा पसरा हुआ है.

‘हमले का सायरन बजते ही भागना पड़ा’

ड्राइवर को भी साफ निर्देश दिए गए थे कि अगर हवाई हमले का सायरन बजे तो कार को रोक देना होगा और सभी यात्रियों को सड़क पर उतरकर लेट जाना होगा. जैसे ही हमारी टीम होटल पहुंची और अपना सामान कार से बाहर निकाल ही रही थी कि हवाई हमले का सायरन बजने लगा. इसका मतलब साफ था कि सबकुछ छोड़कर पहले खुद को बचाओ. जैसे ही टीम के सदस्य बेसमेंट की तरफ भागे उनका सामान रोड पर ही रह गया. उनके पास अपना सामान उठाने तक का समय नहीं था, क्यों कि इन हालातों में जान बचाना माल से ज्यादा जरूरी था. 

यह भी पढ़ें :-  "हमास के हमले में कई अमेरिकी नागरिकों की मौत, इजराइल की मदद के लिए भेजे युद्धपोत": US

रॉकेट और लड़ाकू विमानों की गड़गड़ाहट

अश्कलोन से गाजा पट्टी मुश्किल से 10-12 किमी दूर है और इस शहर से इजराइल के जवाबी हमले साफ दिखाई दे रहे हैं. एडीटीवी की टीम की रिपोर्टिंग में रॉकेट और लड़ाकू विमानों की गड़गड़ाहट तेजी से सुनी जा सकती थी. लाइव रिपोर्टिंग के दौरान आसमान में उड़ते हुए रॉकेट साफ दिखाई दे रहे हैं. रातभर मिसाइलों के गरजने की आवाज सुनाई देती रही.  बता दें कि हमास के हमले के बाद इजराइल ने इस बात का दृढ़ संपल्प लिया था कि वह इसका मुंहतोड़ जवाब देगा. तब से इजराइल का जवाबी एक्शन गाजा पट्टी पर जारी है. अब तक 370 लोगों को वह ढेर कर चुका है. 

ये भी पढ़ें-गाजा पट्टी में 15 सालों का सबसे घातक दिन, इजराइल के हमले में 300 की मौत; कई तबाह

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button