देश

'Dream 11' से रातों रात करोड़पति बनने वाले पुलिस अधिकारी को किया गया निलंबित

ड्रीम 11 पर पैसा जीतने वाले पुलिसकर्मी पर हुई कार्रवाई

मुंबई:

लोकप्रिय ऑनलाइन फैंटेसी गेमिंग एप ड्रीम 11(Dream 11) पर डेढ़ करोड़ रुपये जीतने वाले सब इंस्पेक्टर सोमनाथ जेंडे को निलंबित कर दिया गया है. सोमनाथ को ड्यूटी में लापरवाही, सिविल सर्विस कंडक्ट रूल का उलंघन और वर्दी में जीत पर मीडिया से बात कर जुए का प्रचार करने के आरोप में निलंबित किया गया है. बता दें कि कुछ दिन पहले ही सोमनाथ ने डेढ़ करोड़ रुपये का इनाम जीता था. हालांकि, यह धनराशि जीतने के कुछ दिन बाद ही उनके खिलाफ जांच बिठा दी गई. और उनसे पूछताछ भी की गई.उस दौरान मुख्य सवाल यह पूछा जा रहा था कि क्या पुलिस सेवा में सक्रिय रहते हुए उन्होंने इस तरह के खेल में भाग लिया? 

यह भी पढ़ें

पैसा जीतने के बाद सोमनाथ ने कहा था कि 1.5 करोड़ रुपये को लेकर मुझे लगा कि कोई पैसा नहीं मिलेगा, लेकिन कल 2 लाख रुपये का लेनदेन होने के साथ ही उन्होंने इसमें से 60,000 रुपये काट लिए. मेरे खाते में एक लाख चालीस हजार रुपये आए हैं. उनका का कहना था कि वह इस पैसे का उपयोग अपने घर का लोन चुकाने में करेगा. शेष आधी राशि की एफडी करवाएगा और इससे प्राप्त ब्याज का उपयोग अपने बच्चों की शिक्षा के लिए करेंगे. 

पिंपरी चिंचवड़ के एसीपी सतीश माने ने कहा था कि क्या कोई पुलिस विभाग में काम करते हुए ऐसे ऑनलाइन गेम में भाग ले सकता है? क्या यह नियमों का पालन करता है? क्या यह गेम कानूनी है? क्या कोई इस तरह से प्राप्त धन के बारे में मीडिया में बात कर सकता है? क्या यह सब नियमों के तहत है? इस सबकी जांच की जाएगी. डीसीपी स्वप्ना गोरे को जांच दी गई है और रिपोर्ट सौंपे जाने के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी.

यह भी पढ़ें :-  वह दिन दूर नहीं, जब भारत होगा दुनिया का सुपर पावर : राजनाथ सिंह
ड्रीम 11 भारत का पहला गेमिंग स्‍टार्टअप 

ड्रीम 11 विभिन्न खेलों के लिए एक फैंटेसी गेमिंग प्लेटफॉर्म प्रदान करता है, यह भारत का पहला गेमिंग स्टार्टअप है, जिसकी वैल्‍यू 1 अरब डॉलर (करीब ₹ 7,535 करोड़ रुपये) से अधिक है. फैंटेसी गेमिंग और जुए की समानता के कारण इसे अतीत में कानूनी चुनौतियों का सामना करना पड़ा है. कंपनी की स्थापना 2008 में हुई थी और जिसका अब 11 करोड़ से अधिक यूजर्स का आधार है. कंपनी का कहना है कि उसके प्लेटफार्म पर लगाए गए दांव कौशल के खेल हैं, जुआ/सट्टेबाजी के समान नहीं हैं. 

 

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button