देश

कांग्रेस की उप्र इकाई का प्रस्ताव: गांधी परिवार के सदस्य अमेठी, रायबरेली से लड़ें चुनाव

कांग्रेस की केंद्रीय चुनाव समिति ने पहली बार उत्तर प्रदेश के लिए लोकसभा चुनाव के संभावित उम्मीदवारों के नामों पर चर्चा की है. कांग्रेस उत्तर प्रदेश में समाजवादी के पार्टी के साथ गठबंधन के तहत 17 लोकसभा सीट पर चुनाव लड़ रही है.

अमेठी और रायबरेली के बारे में पूछे जाने पर उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय राय ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमने प्रस्ताव दिया है और निर्णय पार्टी नेतृत्व को करना है. हमारा प्रस्ताव है कि अमेठी और रायबरेली से गांधी परिवार के सदस्यों को चुनाव लड़ना चाहिए क्योंकि वहां के लोगों की ऐसी मांग है.”

राहुल गांधी को उनके वर्तमान संसदीय क्षेत्र वायनाड (केरल) से उम्मीदवार घोषित किया जा चुका है. ऐसी अटकलें रही हैं कि राहुल गांधी वायनाड के साथ ही अमेठी और प्रियंका गांधी वाद्रा रायबरेली से चुनाव लड़ सकती हैं.

अमेठी में पिछले लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की उम्मीदवार स्मृति ईरानी से राहुल गांधी को हार का सामना करना पड़ा है. लंबे समय तक रायबरेली का प्रतिनिधित्व करने वाली सोनिया गांधी ने इस बार लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया है.

सूत्रों ने बताया कि सीईसी ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को राजगढ़ से उम्मीदवार बनाए जाने को मंजूरी दी. राजगढ़ के अंतर्गत ही राघोगढ़ आता है जहां के राज परिवार से दिग्विजय सिंह संबंध रखते हैं. भाजपा के रोडमल नागर वर्तमान में राजगढ़ से सांसद हैं.

दिग्विजय सिंह पिछले लोकसभा चुनाव में भोपाल से कांग्रेस के उम्मीदवार थे, लेकिन उन्हें साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर से हार का सामना करना पड़ा था. सूत्रों ने बताया कि मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष अरुण यादव को गुना में केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ उम्मीदवार बनाया जा सकता है. अपने राजनीतिक जीवन में सिंधिया पहली बार गुना से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे हैं.

यह भी पढ़ें :-  The HindkeshariBattleground: तमिलनाडु में BJP पहली बार गठबंधन को कर रही लीड, क्या काम करेगा मोदी फैक्टर?

सूत्रों के अनुसार, कांग्रेस पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया को मध्य प्रदेश के रतलाम से उम्मीदवार घोषित कर सकती है. मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष जीतू पटवारी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमने कहा था कि 50 प्रतिशत टिकट युवाओं को दिए जाएंगे. इसको दिमाग में रखकर फैसला किया गया है. फैसला सर्वसम्मति से हुआ है. उम्मीदवारों की सूची आज रात या कल जारी हो सकती है.”

कांग्रेस लोकसभा चुनाव के लिए अब तक 82 उम्मीदवारों की घोषणा कर चुकी है. उसने पहली सूची में 39 और दूसरी सूची में 43 उम्मीदवार घोषित किए थे. पार्टी उम्मीदवारों की पहली सूची में राहुल गांधी का नाम भी शामिल था जो केरल की वायनाड लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. वह वर्तमान में इस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व भी करते हैं.

कांग्रेस की पहली सूची में 15 उम्मीदवार सामान्य वर्ग और 24 अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़े वर्ग और अल्पसंख्यक समुदायों के थे.

पार्टी की दूसरी सूची में 10 उम्मीदवार सामान्य वर्ग से जबकि 33 प्रत्याशी अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़े वर्ग और अल्पसंख्यक समुदायों से थे.

देश में 18वीं लोकसभा के लिए चुनाव 19 अप्रैल से शुरू होंगे. इसके बाद छह और चरणों में 26 अप्रैल, सात मई, 13 मई, 20 मई, 25 मई और एक जून को मतदान होगा. लोकसभा के 543 निर्वाचन क्षेत्रों में लगभग 97 करोड़ पंजीकृत मतदाता, 10.5 लाख मतदान केंद्रों पर अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे.

 

(इस खबर को The Hindkeshariटीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

यह भी पढ़ें :-  कर्नाटक में दिनदहाड़े टीचर का अपहरण, सीसीटीवी में कैद हुई वारदात
Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button