देश

UPA सरकार ने अपने घोटालों का बचाव करने के लिए झूठ का सहारा लिया :  PM मोदी

विपक्षी दलों के नेताओं द्वारा सरकार पर उन्हें निशाना बनाने के लिए जांच एजेंसियों का इस्तेमाल करने के आरोपों के बीच ‘न्यूज18′ समूह के सम्मेलन में प्रधानमंत्री ने यह टिप्पणी की. मोदी ने 2019 के बालाकोट हवाई हमले का उल्लेख करते हुए कहा कि चाहे आतंकी सरगना हों या विकास और शांति की इच्छा रखने वाले देश, सभी ने ‘उभरते भारत’ का अनुभव किया है.

PM मोदी ने कहा, ‘‘यह नया भारत आतंकवाद के घावों को बर्दाश्त नहीं करता बल्कि उन लोगों को सबक भी सिखाता है जो ऐसे घावों के लिए जिम्मेदार हैं.” मोदी ने पाकिस्तान पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए कहा कि देश और दुनिया के लोग उन लोगों की हालत देख रहे हैं जो हमें आतंकी हमलों के घाव देते थे.

उन्होंने कहा, ‘‘एक सुरक्षित देश ही विकसित देश का आधार होता है. यही आज भारत की पहचान है और यही उभरता हुआ भारत है.’ विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जहां उनकी सरकार अगले 25 वर्षों के लिए ‘रोडमैप’ तैयार करने और अपने तीसरे कार्यकाल के पहले 100 दिनों की योजना बनाने में व्यस्त है, वहीं विपक्ष उन्हें गालियां देने में व्यस्त है.

प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस जैसी पार्टियों के नेताओं के पास से बड़े पैमाने पर नकदी की बरामदगी का हवाला देते हुए कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ उनकी सरकार की कड़ी कार्रवाई ने उन्हें गाली देने के लिए उकसाया है.

उन्होंने कहा कि इन गालियों से कोई फर्क नहीं पड़ेगा क्योंकि उन्हें गरीबों का आशीर्वाद मिल रहा है जिन्हें सभी लाभ प्राप्त हो रहे हैं, जबकि अतीत में कल्याण के लिए निर्धारित निधि के बड़े हिस्से का गबन कर लिया जाता था.

यह भी पढ़ें :-  खरगे ने कांग्रेस के लोकसभा समन्वयकों से जनता से संपर्क मजबूत करने की अपील की

मोदी ने कहा कि 2014 से पहले सरकार अपने ‘‘घोटालों” का बचाव करने के लिए झूठ का सहारा लेती थी, लेकिन अब स्थिति उलट गई है क्योंकि उनकी सरकार भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर रही है. प्रधानमंत्री ने कहा कि भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कार्रवाई करना उनकी प्रतिबद्धता है. उन्होंने ‘‘फिर एक बार, मोदी सरकार” के नारे का जिक्र करते हुए कहा कि ‘‘देश ने अपना मन बना लिया है.”

उन्होंने विपक्षी नेताओं की उन टिप्पणियों का हवाला दिया, जिसमें उन्हें धमकी दी गई और उनकी तुलना मुगल सम्राट औरंगजेब से की गई. प्रधानमंत्री ने कहा कि यह सब तब हो रहा है जब चुनाव हो रहे हैं.

मोदी ने कहा कि प्रत्येक भारतीय को 97 करोड़ मतदाताओं से जुड़े लोकतंत्र के इस बड़े उत्सव पर गर्व होना चाहिए. उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्षों में कई कल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों को 34 लाख करोड़ रुपये से अधिक अंतरित किए गए हैं. प्रधानमंत्री ने 2004-14 के दौरान कांग्रेस नीत संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार का परोक्ष तौर पर जिक्र करते हुए कहा कि पिछली सरकार के तहत अधिकांश राशि भ्रष्टाचारियों की जेब में चली जाती थी.

मोदी ने कहा कि अगले पांच साल ‘‘अभूतपूर्व परिवर्तन, विकास और विस्तार” के होंगे और यह उनकी गारंटी है. उन्होंने कहा कि भारत के पास किसी भी देश से पीछे रहने का कोई कारण नहीं है और लोगों को ‘‘राष्ट्र पहले” दृष्टिकोण के साथ काम करना होगा. उन्होंने भारत के निर्यात, विदेशी मुद्रा भंडार और अन्य विकास संकेतकों में भारी वृद्धि का भी हवाला दिया.

यह भी पढ़ें :-  राजनाथ सिंह के पास 3.11 करोड़ रुपये से ज्यादा की चल संपत्ति, लेकिन कोई वाहन नहीं

मोदी ने कहा कि सरकार आज कड़ी कार्रवाई कर रही है, उस कार्रवाई का हिसाब दे रही है और भ्रष्टाचारी खुद को बचाने के लिए झूठ बोल रहे हैं.

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘देश पहले पूछता था कि एजेंसियां ताकतवर लोगों के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं करतीं, अब ताकतवर और भ्रष्ट पूछ रहे हैं कि एजेंसियां उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों कर रही हैं. ये बदलाव पिछले 10 साल में आया है. यह ‘नीयत सही, तो काम सही’ तक सीमित है.” उन्होंने ‘फिर एक बार, मोदी सरकार’ के नारे का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘देश ने अपना मन बना लिया है.”

 

(इस खबर को The Hindkeshariटीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button