दुनिया

"हमास निर्दोष फ़िलिस्तीनियों का मानव ढाल के रूप में कर रहा इस्तेमाल": अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन

इजरायल-फिलिस्तीन युद्ध (Israel Palestine War) को एक हफ्ते से ज्यादा समय बीच चुका है लेकिन अब तक यह थमने का नाम नहीं ले रहा है. दोनों तरफ के निर्दोष लोग इस जंग में मारे जा रहे हैं. अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने रविवार को कहा कि इजरायल पर किए जा रहे हमले में हमास अपने निर्दोष फिलिस्तीनी परिवारों को मानव ढाल के रूप में इस्तेमाल कर रहा है.  द टाइम्स ऑफ इज़राइल की रिपोर्ट के हवाले से ये खबर दी गई है. उन्होंने कहा कि क्या हमास से बहुसंख्यक फिलिस्तीनियों का कुछ लेना देना है. 

यह भी पढ़ें

ये भी पढ़ें-इस्‍लामिक देशों के समूह ने इजरायल-गाजा युद्ध को लेकर बुलाई ‘तत्काल’ बैठक | Updates

‘निर्दोष फिलिस्तीनियों को ढाल बना रहा हमास’

वाशिंगटन में मानवाधिकार अभियान के लिए आयोजित एक डिनर के दौरान जो बाइडेन ने कहा कि गाजा में मानवीय संकट, निर्दोष फिलिस्तीनी परिवारों और विशाल बहुमत का हमास से कोई लेना-देना नहीं है. उनको सिर्फ मानव ढाल के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है. द टाइम्स ऑफ इज़रायल के मुताबिक बाइडेन ने दावा किया कि हमास के आतंकियों का यहूदियों पर हमला उनके नरसंहार के बाद से सबसे खूनी दिन था. उन्होंने कहा कि हमास ने इजरायली प्रतिशोध से बचने के लिए फिलिस्तीनी नागरिकों को मानव ढाल के रूप में इस्तेमाल किया.

जो बाइडेन ने लापता अमेरिकियों के रिश्तेदारों के साथ ज़ूम पर एक घंटे तक बातचीत करने के एक दिन बाद कहा कि वह इसे अपने अनुभवों से जोड़ते हैं. जिसमें 1972 में एक वाहन दुर्घटना में पहली पत्नी और बेटी की मृत्यु भी शामिल है. बाइडेन ने कहा कि पता नहीं क्या हो रहा है जो इतना दर्द सहना पड़ रहा है. उन्होंने कहा कि वह फील कर सकते हैं कि कैसा लग रहा है. वह भी अपने बेटे के साथ सा करने में सक्षम थे.

यह भी पढ़ें :-  भारत को फिलिस्तीनियों के साथ भी खड़ा होना चाहिए: The Hindkeshariसे बोले कांग्रेस सांसद शशि थरूर

‘अमेरिका इजरायल के साथ मजबूती से खड़ा’

बता दें कि 7 अक्टूबर को शुरू हुए इजरायल-हमास युद्ध के बाद अमेरिका ने इजरायल के लोगों के साथ मजबूत एकजुटता जताते हुए हमास आतंकियों के खिलाफ लड़ाई में पूर्ण समर्थन का आश्वासन दिया है. अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने कहा है कि हमास एक आतंकी गुट है और उसका एकमात्र एजेंडा इजरायल को नष्ट करना और यहूदियों की हत्या करना है. उन्होंने कहा कि हमास गुट फ़िलिस्तीनी लोगों या भविष्य के लिए उनकी वैध आकांक्षाओं का प्रतिनिधि नहीं है. 

अमेरिकी विदेश सचिव ने हाल ही में सऊदी विदेश मंत्री प्रिंस फैसल बिन फरहान के साथ एक बैठक के दौरान कहा कि हमास एक आतंकवादी गुट है और इसका एकमात्र एजेंडा इज़रायल को नष्ट करना और यहूदियों की हत्या करना है. यह जरूरी है कि पूरी दुनिया हमास को इस रूप में देखे. ब्लिंकन ने आगे कहा कि इजरायल को हाल ही में जो झेलना पड़ा है, वैसा बर्दाश्त करने की उम्मीद किसी भी देश से नहीं की जानी चाहिए.  यह एक ऐसा हमला है जिसको शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता है. इस हमले में 30 अन्य देशों के नागरिकों के साथ ही इजरायल के 1300 लोगों की हत्या कर दी गई.

‘गाजा में मानवीय सहायता पहुंचाना हुआ मुश्किल’

बता दें कि ब्लिंकन 11 से 15 अक्टूबर तक इज़राइल, जॉर्डन, कतर, बहरीन, सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात और मिस्र की यात्रा पर हैं. हमास के हमले के बाद इज़राइल की सरकार और लोगों के साथ एकजुटता को लेकर वह इन देशों के अधिकारियों से मिल रहे हैं. यह जानकारी अमेरिकी विदेश विभाग द्वारा जारी एक विज्ञप्ति में दी गई है.  ब्लिंकन ने इससे पहले कहा था कि गाजा में मानवीय सहायता पहुंचाने की कोशिश काफी मुश्किल हो गई है. क्योंकि आतंकी गुट हमास नागरिकों को “मानव ढाल” के रूप में इस्तेमाल कर रहा है. वह कथित तौर पर फिलिस्तीनियों को दक्षिणी गाजा में ट्रांसफर होने से रोकने के लिए सड़कों को अवरुद्ध कर रहा है.ब्लिंकन ने कहा कि अमेरिका जरूरतमंद लोगों को मानवीय सहायता देने के लिए कतर समेत अपने सहयोगियों के साथ सक्रिय रूप से जुड़ा हुआ है. हमास ने इजरायल के 1300 लोगों को मार दिया है, इसीलिए इजरायल भी गाजा में जवाबी कार्रवाई कर रहा है. 

यह भी पढ़ें :-  "पहले से ही पता है, इजरायल ने बनाए गाजा अस्पताल के नीचे बंकर": इजरायल के पूर्व PM

ये भी पढ़ें-“हमास जानता है जहां हम बमबारी करेंगे उन्हीं जगहों पर बंधकों को रखा” : इजरायल के पूर्व NS

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button