देश

VIDEO: IIT कानपुर में हिंसक मारपीट में बदला कबड्‌डी मैच, जमकर चली कुर्सियां और लात-घूंसे 

IIT कानपुर ने एक बयान में कहा कि संबंधित टीमों को आगे भागीदारी करने से प्रतिबंधित कर दिया गया.  

नई दिल्‍ली :

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान कानपुर (Indian Institute of Technology Kanpur) में एक कबड्डी मैच हिंसक लड़ाई में बदल गया. मामला इतना बढ़ा कि संस्थान के वार्षिक खेल उत्सव उद्घोष के दौरान भाग लेने वाली दो टीमों के सदस्यों ने एक-दूसरे पर कुर्सियों से हमला कर दिया. इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. इस झगड़े के बाद प्रबंधन ने कहा कि “संबंधित टीमों को आगे भागीदारी करने से प्रतिबंधित कर दिया गया है.” 

यह भी पढ़ें

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में दोनों टीमों के छात्र एक-दूसरे को पीटते और कुर्सियां ​​फेंकते नजर आ रहे हैं. कई कबड्डी खिलाड़ी एक-दूसरे को लात मारते और प्लास्टिक की कुर्सियां ​​तोड़ते भी दिख रहे हैं. वहीं कई छात्राओं को घटनास्थल से भागने की कोशिश करते हुए कैमरे में कैद किया गया. ऐसा लग रहा था कि यह कॉलेज फेस्टिवल नहीं बल्कि डब्ल्यूडब्ल्यूई मैच चल रहा है. हालांकि, यह पता नहीं चल सका है कि यह टीमें कौनसे कॉलेज से थीं. साथ ही फिलहाल मारपीट की वजह का भी खुलासा नहीं हुआ है. 

ऑनलाइन साझा किए जाने के बाद से वीडियो को 1.8 लाख बार देखा जा चुका है और इसे एक हजार से अधिक लाइक्स मिले हैं. 

एक यूजर ने कहा, “और वे देश के सबसे प्रतिभाशाली दिमाग हैं.” एक अन्‍य ने लिखा, “वीडियो उदघोष 2023, आईआईटी कानपुर की वार्षिक अंतर-कॉलेजिएट खेल प्रतियोगिता का है. इस साल लगभग 400 कॉलेजों ने भाग लिया. (iirc) इसमें शामिल दोनों पक्ष आईआईटी से नहीं बल्कि अन्य कॉलेजों से हैं.. लेकिन कानपुर में ऐसा होना इसे और अधिक मजाकिया बनाता है.” 

यह भी पढ़ें :-  " कुछ लड़ाइयां हारने के लिए लड़ी जाती हैं..." अनुच्छेद 370 पर फैसले से पहले कपिल सिब्बल का पोस्ट

एक व्यक्ति ने टिप्पणी की, “2024 ओलंपिक की तैयारी जोरों पर है.”

इस बीच, आईआईटी कानपुर ने एक बयान जारी किया और कहा कि इसमें शामिल टीमों के खिलाफ पहले ही कार्रवाई की जा चुकी है, “यह हमारे ध्यान में आया है कि आईआईटी कानपुर में वार्षिक खेल उत्सव उद्घोष ’23 के दौरान भाग भाग लेने वाले दो संस्थानों की टीमों के बीच विवाद की घटना हुई थी.” यह फेस्टिवल की प्रकृति के खिलाफ है और खेल भावना का अनुचित प्रदर्शन है. इस संबंध में पहले ही सख्त कार्रवाई की जा चुकी है और संबंधित टीमों को आगे की भागीदारी से प्रतिबंधित कर दिया गया है.”

उन्होंने आगे कहा, “इसके अलावा संबंधित संस्थानों को भी सूचित कर दिया गया है और भविष्य में ऐसी किसी भी घटना से बचने के लिए अपने स्तर पर उचित कार्रवाई करने की सलाह दी गई है.”

ये भी पढ़ें :

* कानपुर देहात दोहरा हत्याकांड: SHO समेत आठ पुलिसकर्मी निलंबित, पांच और आरोपी गिरफ्तार

* कानपुर के रोडरेज मामले में आरोपी बीजेपी पार्षद के पति अंकित शुक्ला ने किया सरेंडर

* रोडरेज में आंख फोड़ने का मामला: क्रास FIR के लिए पुलिस कमिश्नर को धमकी देते BJP नेता, VIDEO वायरल

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button