देश

''इनकम टैक्स को लेकर हंगामा क्यों, क्या छुपाया जा रहा?'' : BJP सांसद लहर सिंह सिरोया ने कांग्रेस से पूछा

राज्यसभा सांसद और बीजेपी के नेता लहर सिंह सिरोया (फाइल फोटो).

नई दिल्ली :

कर्नाटक से राज्यसभा सांसद और बीजेपी (BJP) के नेता लहर सिंह सिरोया (Lahar Singh Siroya) ने इनकम टैक्स (Income Tax) के नोटिस पर कांग्रेस (Congress) की ओर से जताए जा रहे विरोध को लेकर सवाल उठाए हैं. उन्होंने कहा है कि कांग्रेस अपने आयकर को लेकर क्या छुपा रही है? सिरोया ने कांग्रेस से पूछा है कि वह अपने इनकम टैक्स में भारी संशोधन क्यों करना चाहती है?      

यह भी पढ़ें

लहर सिंह सिरोया ने प्रेस को जारी किए गए एक वक्तव्य में कहा है कि, ”मैं सीए या वकील नहीं हूं लेकिन मैंने कई वर्षों तक कर्नाटक में अपनी पार्टी के कोषाध्यक्ष के रूप में काम किया है. मेरे पास दो सामान्य संवेदनशील प्रश्न हैं और कांग्रेस को भेजे गए आयकर नोटिस पर एक टिप्पणी है, जिसे लेकर कांग्रेस शोर मचा रही है.”

उन्होंने कांग्रेस से सवाल पूछा है कि, ”ऐसा क्यों है कि आप अपने इनकम टैक्स का रिवाइज्ड रिटर्न दाखिल करना चाहते हैं? इनकम टैक्स विभाग या ट्रिब्यूनल और कोर्ट इसकी इजाजत क्यों नहीं दे रहे हैं? क्या आपके खिलाफ कार्रवाई के लिए नए नियम बनाए गए हैं या यह ऐसे नियम हैं जो सभी के लिए समान हैं?” 

संसद की संचार और सूचना प्रौद्योगिकी की स्थायी समिति के सदस्य व गृह मामलों की सलाहकार समिति के सदस्य लहर सिंह सिरोया ने कांग्रेस से पूछा है कि, ”क्या ऐसे कोई फंड थे जिनकी घोषणा नहीं की गई थी? क्या पार्टी के किन्हीं व्यक्तियों के यहां छापों के दौरान यह राशि मिली थी? क्या अब आप इसे करमुक्त बनाने के लिए सुविधाजनक रूप से इसे पार्टी की राशि के तौर पर दिखाना चाहते हैं? रिटर्न में बेहिसाब संशोधन करने के पीछे क्या यही कारण है?” 

यह भी पढ़ें :-  लोकसभा चुनाव 2024 : बीजेपी 17-18 फरवरी को करेगी 'महामंथन', पार्टी के 5000 नेता जुटेंगे

उन्होंने कहा है कि, ”इनकम टैक्स रिटर्न को लेकर कांग्रेस की समस्या नई नहीं है. क्या सन 1997 में कांग्रेस की ओर से एचडी देवेगौड़ा की सरकार से समर्थन वापस लेने का एक कारण यह भी था कि वे आयकर कानून का पालन कराना चाहते थे और कांग्रेस चाहती थी कि उससे कानून का पालन करने के लिए नहीं कहा जाए? कृपया याद करें कि 1997 में वित्त मंत्री कौन थे? मैंने राज्यसभा में पिछले सत्र के दौरान अपने भाषण में इसका जिक्र किया था.”

यह भी पढ़ें –

इनकम टैक्स विभाग ने कांग्रेस को क्या इसलिए भेजा 1800 करोड़ का नोटिस?

आयकर कानून के प्रावधानों के तहत कांग्रेस से 135 करोड़ रुपये की वसूली: सूत्र

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button