देश

"सफर में आप भी तो मिलोगे" : जब कांग्रेस छोड़ने के बाद बाबा सिद्दीकी के पास आया अशोक चव्हाण का कॉल

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र में कांग्रेस पार्टी में एक के बाद एक नेता पार्टी छोड़ रहे हैं. कांग्रेस से इस्तीफ़ा देकर एनसीपी(अजीत पवार गुट) में शामिल हुए महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री बाबा सिद्दीकी (Baba Siddiqui) ने The Hindkeshariके साथ बातचीत में कहा कि जब मैंने इस्तीफ़ा दिया था तब अशोक चव्हाण जी ने फ़ोन किया था पूछने के लिए, तो मैंने कहा था “सफ़र में आप भी तो मिलोगे ही.” लंबी नाराज़गी थी, मैं उनकी वजह तो नहीं बता सकता पर जिनकी ना सुनी जाये जहां वो क्या करे? कभी तो हिम्मत हारेगा?

यह भी पढ़ें

कई और नेता छोड़ेंग पार्टी: बाबा सिद्दीकी

बाबा सिद्दीकी ने कहा कि सुन रहा हूं और कई नेता साथ छोड़ेंगे. कौन, ये पता नहीं. पार्टी के फ़ैसले कौन ले रहा है पता नहीं, पारदर्शिता नहीं है. इंपोर्ट किए नेता फ़ैसले लेते हैं. मेरा साथ 48 सालों का था, दुख होता है इस तरह छोड़ना पड़ा. कांग्रेस सिर्फ़ एक क़ौम पर राजनीति करती हैं. उन्हें वोट बैंक बनाती हैं, लेकिन ये कब तक चलेगा? लोग अब जाग चुके हैं. महा-विकास अघाड़ी, इंडिया अलायन्स पर इतना कह सकता हूं कि आंख खोलें, इससे पहले कि बहुत देर हो जाए. 

48 साल तक कांग्रेस में रहे थे बाबा सिद्दीकी

बताते चलें कि कांग्रेस को अलविदा कहते हुए सिद्दीकी ने सोशल मीडिया साइट एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा था- ‘‘मैं एक युवा के रूप में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी में शामिल हुआ था और यह 48 वर्षों की महत्वपूर्ण यात्रा रही है. आज मैं तत्काल प्रभाव से भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देता हूं.”उन्होंने कहा था- ‘‘बहुत कुछ है जिसे मैं व्यक्त करना चाहता हूं लेकिन जैसा कि कहा जाता है कि कुछ चीजों को अनकहा छोड़ देना ही बेहतर है. मैं उन सभी को धन्यवाद देता हूं जो इस यात्रा में हिस्सा रहे.”

यह भी पढ़ें :-  शरद पवार गुट के निशाने पर आए अजित पवार ने कहा: ‘आखिरी चुनाव’ वाले बयान की गलत व्याख्या की गई

ये भी पढ़ें-:

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button