देश

मध्य प्रदेश में दीपावली के एक दिन पहले बीजेपी ने जारी किया संकल्प पत्र, जनता से किए अनेक वादे

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने संकल्प पत्र जारी किया.

खास बातें

  • कांग्रेस के वचन पत्र पर भारी पड़ी मोदी की गारंटियां
  • 2700 रुपये क्विंटल में गेहूं,3100 रुपये में धान खरीदेगी सरकार
  • 1.31 करोड़ लाड़ली बहनों को घर बनाकर देगी भाजपा सरकार

नई दिल्ली:

Madhya Pradesh Elections 2023: दीपावली से एक दिन पहले मध्य प्रदेश भारतीय जनता पार्टी ने विधानसभा चुनाव के लिए अपना संकल्प पत्र (घोषणा पत्र) जारी कर दिया. मध्य प्रदेश में 17 नवंबर को एक ही चरण में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होना है. भाजपा के घोषणा पत्र में ‘लाडली बहना’ और उज्ज्वला योजनाओं के लाभार्थियों के लिए 450 रुपये में रसोई गैस सिलेंडर और गरीब परिवारों की लड़कियों के लिए पोस्ट ग्रेजुएशन तक की मुफ्त शिक्षा सहित कई अन्य वादे किए गए हैं.

यह भी पढ़ें

भाजपा ने घोषणा पत्र में प्रदेश की जनता से कई वादे किए हैं. भाजपा का संकल्प पत्र, कांग्रेस के वचन पत्र (घोषणा पत्र) पर भारी पड़ गया है. भोपाल के कुशाभाऊ ठाकरे कन्वेंशन सेंटर में शनिवार को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश भाजपा चुनाव समिति के संयोजक व केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और मध्य प्रदेश के पूर्व वित्त मंत्री व संकल्प पत्र समिति के अध्यक्ष जयंत मलैया ने संकल्प पत्र का विमोचन किया. इसमें भाजपा ने मध्य प्रदेश के अगले पांच साल के ब्लूप्रिंट को प्रदेश की जनता के समक्ष रखा है. संकल्प पत्र का शीर्षक ‘मोदी की गारंटी, भाजपा का भरोसा मध्य प्रदेश संकल्प पत्र 2023′ रखा गया है. 

संकल्प पत्र में 10 प्रमुख संकल्प लिए गए हैं. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को अगले 5 साल के लिए क्रियान्वित करते हुए रियायती दरों पर दाल, सरसों का तेल एवं चीनी भी दी जाएगी. भाजपा ने किसानों के लिए बड़ा ऐलान करते हुए धान और गेहूं के समर्थन मूल्य में जबर्दस्त वृद्धि करने की बात कही है. किसानों को प्रतिवर्ष 12000 रुपये की सम्मान निधि तो दी ही जाएगी, साथ ही साथ एमएसपी के साथ बोनस 2700 रुपये प्रति क्विंटल पर गेहूं एवं 3100 रुपये प्रति क्विंटल पर धान की खरीद की जाएगी.

यह भी पढ़ें :-  आंध्र प्रदेश विधानसभा चुनाव में 6 पूर्व CM के बेटे चुनाव मैदान में

गौरतलब है कि कांग्रेस ने अपने वचन पत्र में  2600 रुपये गेहूं और धान का समर्थन मूल्य 2500 रुपये देने का वचन दिया है. भाजपा के संकल्प पत्र में इस राशि को बढ़ाया गया है. भाजपा ने कहा है कि मुख्यमंत्री जन आवास योजना के तहत बेघर को सरकार घर बनाकर देगी. भाजपा ने लाड़ली बहनों को आर्थिक सहायता जारी रखने के साथ आवास का लाभ देने का भी वादा किया है. भाजपा ने तेंदूपत्ता संग्रहण दर को 4000 रुपये प्रति बोरा करने का संकल्प लिया है. गरीब परिवार के सभी विद्यार्थियों को 12वीं कक्षा तक निःशुल्क शिक्षा प्रदान करने का संकल्प भी लिया गया है. प्रत्येक संभाग में आईआईटी की तर्ज पर मध्य प्रदेश इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं एम्स की तर्ज पर मध्य प्रदेश इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस की स्थापना का संकल्प भाजपा ने लिया है. प्रदेश के प्रत्येक परिवार में कम से कम एक रोजगार अथवा स्वरोजगार का अवसर सुनिश्चित करने का संकल्प लिया है. 10 प्रमुख संकल्पों के अलावा भी भाजपा ने अनेक गारंटी दी हैं.

भाजपा के प्रमुख 10 संकल्प

1. 5 वर्षों के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना जारी रहेगी, गरीब परिवार को राशन के साथ रियायती दर पर दाल, सरसों का तेल एवं चीनी उपलब्ध होगी.

2. सबको घर देने के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना के साथ ही मुख्यमंत्री जन आवास योजना शुरू करेंगे.

3. लाड़ली बहनों को मासिक आर्थिक सहायता के साथ आवास का लाभ भी दिया जाएगा.

4. न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) के साथ बोनस 2700 रुपये प्रति क्विंटल पर गेहूं एवं 3100 रुपये प्रति क्विंटल पर धान की खरीद की जाएगी.

5. पीएम किसान सम्मान निधि एवं मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के लाभार्थियों को वार्षिक 12,000 रुपये दिए जाएंगे.

6. तेंदूपत्ता संग्रहण दर 4000 रुपये प्रति बोरा देना सुनिश्चित किया जाएगा.

7. गरीब परिवार के सभी विद्यार्थियों को 12वीं कक्षा तक मुफ्त शिक्षा की व्यवस्था होगी.

8. सरकारी स्कूल में मिड-डे मील के साथ अब पौष्टिक नाश्ता भी दिया जाएगा.

9. प्रत्येक संभाग में मध् प्रदेश इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी एवं मध्य प्रदेश इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस स्थापित किया जाएगा.

10. प्रत्येक परिवार में कम से कम एक रोजगार अथवा स्वरोजगार का अवसर सुनिश्चित करेंगे.

यह भी पढ़ें :-  इंफोसिस के मालिक नारायण मूर्ति ने 4 महीने के पोते को दिया ऐसा गिफ्ट, रातोंरात बना 240 करोड़ का मालिक

पीएम मोदी ने दी गारंटियां

  • ग्रामीण महिलाओं को लखपति बनाएंगे. 15 लाख महिलाओं को लखपति योजना के अंतर्गत कौशल प्रशिक्षण का लाभ मिलेगा. 
  • लाड़ली लक्ष्मियों को कुल 2 लाख रुपये, सभी जरूरतमंद बालिकाओं को जन्म से 21 वर्ष तक लाभ.
  • पीएम उज्ज्वला योजना एवं लाड़ली बहना योजना की लाभार्थियों को 450 रुपये में गैस सिलेंडर मिलेगा.
  • सभी छात्राओं को केजी से पीजी तक मुफ्त शिक्षा का मिलेगा लाभ.
  • जनजातीय समुदाय के सशक्तिकरण के लिए अगले 5 वर्षो में स्वास्थ्य, शिक्षा एवं सामाजिक सशक्तिकरण पर 3 लाख करोड़ रुपये व्यय करेंगे.
  • प्रत्येक एसटी ब्लॉक में एकलव्य विद्यालय की स्थापना के साथ ही 3800 शिक्षकों की भर्ती करेंगे.
  • एसटी बहुल जिलों मंडला, खरगोन, धार, बालाघाट एवं सीधी में मेडिकल कॉलेज का निर्माण करेंगे.
  • सौ करोड़ रुपये के निवेश के साथ जनजातीय श्रद्धा-स्थल संरक्षण मिशन के तहत पूजा स्थलों का विस्तार एवं नवीनीकरण करेंगे.
  • गरीब परिवारों के छात्रों को कक्षा 1 से 12 तक मुफ्त शिक्षा के साथ 1200 रुपये की वार्षिक सहायता स्कूल बैग, किताबें एवं यूनिफॉर्म के लिए देंगे.
  • वन डिस्ट्रिक्ट-वन स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स योजना के अंतर्गत प्रत्येक जिले में एक स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स की स्थापना करेंगे.
  • वरिष्ठ एवं दिव्यांग नागरिकों को  1500 रुपये की मासिक पेंशन दी जाएगी.
  • कारीगरों को 15,000 रुपये की वित्तीय सहायता, 500 रुपये का दैनिक भुगतान किया जाएगा.
  • पिछड़े क्षेत्रों के विकास के लिए 3 विकास बोर्ड बुंदेलखंड, विंध्य एवं महाकौशल विकास बोर्ड की स्थापना करेंगे.
  • अटल गृह ज्योति योजना के अंतर्गत सभी घरों को लाभ प्रदान करते हुए 100 रुपये में 100 यूनिट बिजली देंगे.
  • छह नए एक्सप्रेस वे – विंध्य एक्सप्रेस वे, नर्मदा पथ, अटल प्रगति पथ, मालवा-निमाड़ पथ, बुंदेलखंड पथ एवं मध्य भारत विकास पथ का निर्माण शीघ्र करेंगे.
  • आयुष्मान भारत के सभी लाभार्थियों को 5 लाख से ज्यादा व्यय होने पर सीएम रिलीफ फंड के अंतर्गत प्रदेश सरकार खर्चा उठाएगी.
  • पुलिस कमिश्नर प्रणाली का विस्तार करते हुए भोपाल एवं इंदौर के बाद जबलपुर और ग्वालियर में लागू करेंगे.
  • भोपाल में राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय स्थापित करेंगे.
  • सभी जनजातीय नायकों के भव्य स्मारकों का निर्माण करेंगे. साथ ही चौगान किला, देवगढ़ किला, मंडला किला, चौरागढ़ किला एवं मदन महल किला का नवीनीकरण करेंगे.
  • भाषाई साहित्य अकादमियों की स्थापना के उद्देश्य से बघेली, बुंदेली, गोंडी एवं भीली साहित्य अकादमी की स्थापना करेंगे.
यह भी पढ़ें :-  शरद पवार गुट ने चुनाव आयोग को भेजे पार्टी के 3 नाम और निशान : सूत्र

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button