जनसंपर्क छत्तीसगढ़

गांवों में पहुंची विशेषज्ञों की टीम, पाइप लाइन का किया निरीक्षण..केंद्रीय टीम ने देखा जल जीवन मिशन का काम, ग्रामीणों से ली जानकारी

RASHTRAVADI NEWS OFFICE DESK


गांवों में पहुंची विशेषज्ञों की टीम, पाइप लाइन का किया निरीक्षण..केंद्रीय टीम ने देखा जल जीवन मिशन का काम, ग्रामीणों से ली जानकार

दंतेवाड़ा, ऑफिस डेस्क। केंद्र सरकार की महती योजना जल जीवन मिशन का काम जिले में तेजी से चल रहा है। भारत सरकार द्वारा नियुक्त नेशनल वाटर एक्सपर्ट टीम द्वारा जिले के एक दर्जन से अधिक ग्रामों का दौरा कर निरीक्षण किया गया और कार्यों के संबंध में ग्रामीणों से जानकारी भी लिया गया।

इसके तहत हर घर नल से जल पहुंचाने के उद्देश्य को लेकर राष्ट्रीय जल जीवन मिशन टीम के डॉ. कपिल देव शर्मा एवं जय भगवान दिल्ली के नेतृत्व में दंतेवाड़ा जिले के 16 गांव मसेनार, नकुलनार, कुआकोंडा, मैलावाड़ा, समलवार, दुगेली, नेरली, बेहनार, केशापुर, बासनपुर, चितालुर, चितालंका, पालनार, अचेली, समेली, मेंडपाल में जल जीवन मिशन के तहत किए जा रहे कार्यों का केंद्रीय टीम के द्वारा अवलोकन किया गया और जानकारी ली गई।

सरकार के निर्देशानुसार टीम द्वारा फील्ड में जाकर हर घर जाकर पानी की मात्रा जांच की गई एवं ग्रामीणों से चर्चा कर जल जीवन मिशन योजना की प्रगति रिपोर्ट का अवलोकन किया गया।

कुछ जगह योजनाओं में आ रहे कमियों को लेकर विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया गया। अधिकांश जगह गुणवत्तापूर्वक कार्य पाए जाने पर टीम द्वारा हर्ष जाहिर की गई।

महिलाओं की टीम से चर्चा कर जानकारी ली गई।
इसके साथ ही टीम ने ग्राम पंचायत स्तर पर जल जीवन मिशन के कार्यों के लिए बनाई गई ग्राम जल स्वच्छता समिति तथा ग्रामीणों से इसके संबंध में चर्चा की गई और योजना के बारे में उनसे जानकारी ली।

यह भी पढ़ें :-  BHILAI ITI : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भिलाई आईआईटी के स्थाई परिसर को किया राष्ट्र को समर्पित...400 एकड़ में विकसित हो रहा है भिलाई का आईआईटी कैंपस

टीम द्वारा हर घर शुद्ध जल पहुंचाने के उद्देश्य को लेकर जल बहिनियों (जल की जांच के लिए बनी महिलाओं की टीम) से अपने समक्ष जल गुणवत्ता का परीक्षण करवाया गया एवं उपयोग संबंधित निर्देश दिए गए।

टीम द्वारा निरीक्षण में गांव में जेजेएम के तहत कनेक्शन दिए गए कुल घरों की संख्या, ग्रे वाटर प्रबंधन के निस्तारण, संचालन एवं रखरखाव की क्षमता विकास प्रशिक्षण अंतर्गत दिए गए मानव संसाधन की जानकारी तथा सरकार द्वारा प्राप्त राशि का आय तथा व्यय का संपूर्ण विवरण लिया गया।

जमीनी स्तर पर मिशन को सुचारू रूप से चलाने के लिए ग्रामीणों से ली जाने वाली अंशदान की राशि को ग्राम जल स्वच्छता समिति के खाते में समय समय पर जमा करने निर्देश दिए गए।

इस दौरान पीएचई के ईई निखिल कंवर, विजिट के नोडल अधिकारी सहायक अभियंता देवेंद्र आर्मो सहित अन्य उप अभियंता, आईएसए एवं आईईसी जिला समन्वयक, समस्त आईएसए, टीपीआई, ठेकेदार तथा ग्रामों के सरपंच, सचिव, वार्ड पंच, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, मितानिन, महिला स्व सहायता समूह एवं अन्य ग्रामीण उपस्थित थे।

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button