देश

अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह में जुटे कॉरपोरेट सेक्टर के तमाम दिग्गज

अंबानी की अगुवाई वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज ने इस अवसर पर अपने सभी कर्मचारियों को छुट्टी दे दी. इसके अलावा कंपनी ने अपने परिसरों में स्थित एक दर्जन से अधिक मंदिरों में विशेष पूजा का आयोजन किया और अपने जियोटीवी मंच पर मंदिर के 360-डिग्री वर्चुअल दौरे की पेशकश भी की.

समारोह के लिए निमंत्रित अदाणी समूह के चेयरमैन गौतम अदाणी ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, ‘अयोध्या मंदिर के कपाट खुलने के साथ ही इसे ज्ञान और शांति का प्रवेश द्वार बनने दें, जो भारत की आध्यात्मिक और सांस्कृतिक सद्भाव के शाश्वत सूत्र से समुदायों को एकजुट करे.’

इसके साथ ही उन्होंने भारत की संस्कृति एवं साहित्य के बारे में शोध करने वाले 14 छात्रों को छात्रवृत्ति देने की भी घोषणा की.

प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने के लिए एस्सार कैपिटल के निदेशक प्रशांत रुइया भी अयोध्या पहुंचे. रुइया ने एक्स पर कहा, ‘अयोध्या राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के लिए श्रद्धा, आस्था और विश्वास के साथ शामिल होकर धन्य हूं. हमारे इतिहास में एक महत्वपूर्ण मोड़ जिसने हमारे सपनों, इच्छाओं, आशाओं और आकांक्षाओं में देश को फिर से एकजुट किया है.’

प्रौद्योगिकी समाधान मंच जोहो के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) श्रीहर वेम्बू ने भी परिवार के साथ अयोध्या मंदिर की यात्रा की तस्वीरें पोस्ट कीं. वेम्बू ने कहा, ‘अयोध्या में मेरी अम्मा जानकी और मेरे भाई कुमार और उनकी पत्नी अनु के साथ. अम्मा आजीवन भगवान श्री राम की भक्त रही हैं. यहां आकर बहुत सौभाग्यशाली हूं.’

ईजीमाईट्रिप के सह-संस्थापक और सीईओ निशांत पिट्टी ने मंदिर स्थल से की गई एक पोस्ट में कहा, ‘राम लला प्राण प्रतिष्ठा के इस शुभ दिन पर, लाखों भारतीयों के दिल में एकता और उत्सव की भावना गूंजती है. भगवान राम हमारे जीवन को आनंद, शांति और समृद्धि से भर दें.’

यह भी पढ़ें :-  "उनकी 'आत्मा' हिंदू": कांग्रेस नेताओं को अयोध्या राम मंदिर उद्घाटन में जरूर होना चाहिए शामिल

ओयोरूम्स के संस्थापक एवं समूह सीईओ रितेश अग्रवाल भी भगवा रंग का कुर्ता पहने हुए एक्स पर लगातार सक्रिय दिखे. उन्होंने एक पोस्ट में कहा, ‘यहां की ऊर्जा सभी पर संचारित हो रही है, यह वास्तव में ऐतिहासिक क्षण है.’

ये भी पढ़ें- मतभेद त्याग कर एकजुट रहें, क्योंकि राम राज्य आ रहा है : RSS प्रमुख मोहन भागवत

ये भी पढ़ें- श्रीराम जन्मभूमि मंदिर युगों-युगों तक सनातन संस्कृति का अद्वितीय प्रतीक रहेगा : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को The Hindkeshariटीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Show More

संबंधित खबरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button